करवा चौथ के लिए पूजन सामग्री की पूरी लिस्ट – Karva Chauth Pujan Samagri

0
185
karva-chauth-pujan-samagri

Karva Chauth Puja- सुहागिन महिलाओं की आस्था का पर्व करवा चौथ पति के दीघार्यु के उद्देश्य से किया जाता है. करवाचौथ का व्रत कार्तिक हिन्दू माह में कृष्णा पक्ष की चतुर्थी के दिन किया जाता है. पति पत्नी के अटूट बंधन का यह व्रत हर सुहागिन महिलाओं के मन को एक सुखद अनुभूति के एहसास से सराबोर कर देता है. इस लेख में हम जानेंगे की वो कौन सी जरुरी चीज़े है, जिन्हें करवाचौथ की पूजा की थाली (Karva Chauth Pujan Samagri) में भूलना नहीं चाहिए.

karva-chauth-pujan-samagri

करवाचौथ पूजन सामग्री- Karva Chauth Pujan Samagri List

Karva Chauth Pujan Samagri- करवाचौथ एक सुहागिन महिलाओं का पर्व है, जिसे सुहागन महिलाएं प्रतिवर्ष करती है. इसमें अपनी पति की लम्बी उम्र के लिए व्रत रखा जाता है और पूजन भी किया जाता है. इस पूजा को करने के लिए जरुरी है की आप पूजन के लिए जरुरी सामान को अपने पास जरूर रख लें और उसके बाद पूजा शुरू करें. करवाचौथ की व्रत पूजा में कुछ चीज़ो का विशेष महत्व होता है. आइये जानते है की करवा चौथ के व्रत (Karva Chauth Pujan Samagri) में किन किन चीज़ो की जरुरत होती है.
  • सबसे पहले करवाचौथ की पूजा (Karvachauth Pujan) सामग्री में करवा माता की पूजा के लिए उनकी तस्वीर होनी चाहिए.
  • करवाचौथ के व्रत में (Karva Chauth Vrat) सींक का होना बहुत ही जरुरी व् शुभ माना गया है, करवा माता की तस्वीर के अलावा सींक को भी माता की शक्ति का प्रतिक माना जाता है.
  • बिना करवा के करवाचौथ के व्रत की पूजा (Karvachauth Vrat Puja) का कोई महत्व नहीं होता। करवा नदी का प्रतीक माना जाता है.
  • करवाचौथ की पूजा में छलनी का होना भी शुभ का प्रतीक होता है। इस व्रत में महिलाये अपने पति के चेहरे को छलनी से देखती है.
  • बिना दीपक मतलब की दीए के कोई भी पूजा पूरी नहीं हो सकती, करवाचौथ की पूजा (Karvachauth Vrat Puja) में दीपक की रोशनी का विशेष महत्व होता है.
  • पूजा की थाली में फल, फूल, सुहाग का सामान, जल, दीपक और मिठाई इत्यादि अवश्य होनी चाहिए.

इसे भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here