पुत्रदा एकादशी का मंत्र । Putrada Ekadashi ka mantra

0
9
putrada-ekadashi-ka-mantra
भगवान विष्णु के मंत्र.

संतान प्राप्ति की कामना के लिए हिंदू धर्म में महिलाएं पुत्रदा एकादशी का व्रत करती है. व्रत भगवान विष्णु को समर्पित होता है. लोक किदवंती है कि जिन विवाहिता महिलाओं को संतान प्राप्त नहीं होते वह व्रत को रखना आरंभ करें तो उन्हें जल्द ही पुत्र या पुत्री की प्राप्ति होती है.

सनातन कैलेंडर के अनुसार पुत्रदा एकादशी साल में दो बार आती है- पुत्रदा एकादशी सावन और पौष माह में भी पड़ती है. आइए लेख के जरिए जानते हैं पुत्रदा एकादशी का मंत्र और पुत्रदा एकादशी के उपाय. आशा है कि आप हमारे लेख को शुरु से लेकर अंत तक पढ़ेगें.

पुत्रदा एकादशी का मंत्र । Putrada Ekadashi ka mantra

1. ॐ नमो भगवते वासुदेवाय

2. श्रीकृष्ण गोविन्द हरे मुरारे। हे नाथ नारायण वासुदेवाय।।

3. ॐ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।।

4. ॐ विष्णवे नम:

5. ॐ हूं विष्णवे नम:

putrada-ekadashi-ka-mantra
भगवान विष्णु के मंत्र.

Also Read :Putrada Ekadashi 2021: पुत्रदा एकादशी पूजा के बाद पढ़ें व्रत कथा

पुत्रदा एकादशी के उपाय (Putrada Ekadashi Ke Upay)

1. पुत्रदा एकादशी के दिन भगवान् विष्णु को पाने के पत्ते पर कुंकुम से श्रीं लिखकर अपनी तिजोरी में रख लें. ऐसा करने से आपको धन प्राप्ति के प्रबल योग बनंगे।

2.पुत्रदा एकादशी के दिन 7 कुंवारी कन्याओं को खीर खिलाएं। यह उपाय निरंतर 5 एकादशी तक करें। इससे नौकरी में पदोन्नती के योग बनंगे।

3..पुत्रदा एकादशी के दिन से शुरू करके 27 दिन तक लगातार नारियल व बादाम को घर के समीप मौजूद कृष्ण मंदिर में चढाने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।

4. पुत्रदा एकादशी की सुबह किसी राधा-कृष्ण मंदिर जाकर दर्शन करें व पीले फूलों की माला अर्पण करें। इस प्रकार का उपया करने से जीवन आर रही परेशानियां कम होगी।

5.पुत्रदा एकादशी पर सुख-समृद्धि के लिए पीले चंदन या केसर में गुलाब जल मिलाकर माथे पर टीका अथवा बिंदी लगाएं। यह उपाय सुहाग को लंबी आयु देता है।

6. पुत्रदा एकादशी की शाम को पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं और शुद्ध घी का दीपक लगाएं। इससे आपके शत्रु का मनोबल गिरता है।

7. इस विष्णु मंदिर में अनाज (गेहूं, चावल) अपर्ण करने से परिवार में सुख शान्ति बनी रहती है।

8. पुत्रदा एकादशी पर दक्षिणावर्ती शंख में कच्चा दूध व केसर डालकर भगवान श्रीकृष्ण का अभिषेक करने से धन लाभ के योग बनते हैं।

9.यदि संतान जन्म के बाद से ही बीमार रहती है तो पुत्रदा एकादशी के दिन 11 गरीबों को भोजन करांए। जल्द बीमारी से निजात मिलती है।

10.पुत्रदा एकादशी के दिन पीपल के पेड़ में चांदी के लोटे में कच्चे दूध में मिश्री मिलाकर जड़ में चढांए। घर में वैभव बढ़ता है।

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं)

इसे भी पढ़े :