Newsसेहत

सेंधा नमक के गुणकारी फायदे, सफ़ेद नमक से क्यों बेहतर?

सेंधा नमक के गुणकारी फायदे, सफ़ेद नमक से क्यों बेहतर |  rock salt properties and benefits why better than white salt

सेंधा नमक हमें पहाड़ों से प्राप्त होता है, जिसके कारण से यह प्राकृतिक औषधि माना जाता है. जबकि सादा या सफ़ेद नमक, जो कि समुद्र से प्राप्त किया जाता है एवं आयोडीन से निर्मित होता है, शरीर के लिए नुकसानदेह होता हैं. आइए इस आर्टिकल के जरिये हम जानते है कि क्यों सेंधा नमक, सफ़ेद नमक से बेहद अधिक लाभदायक है.

rock-salt-properties-and-benefits-why-better-than-white-salt

सेंधा नमक के फायदे । Benefits of rock salt

  • सेंधा नमक शुद्ध होने के कारण इससे कई प्रकार की आयुर्वेदिक औषधियों का निर्माण किया जाता है. यह हमारे शरीर में रक्तदाब को नियंत्रित करने में मददगार होता है.
  • इसे गर्म पानी के साथ मिलाकर पीने से गले में टॉन्सिल, कफ, सूजन या दर्द आदि रोगों के साथ-साथ गले संबंधी अन्य बीमारियों से भी राहत मिलती है.
  • सेंधा नमक के सेवन से मांशपेशियां एवं हड्डियाँ मजबूत बनी रहती हैं. यह जोड़ों एवं पीठ के दर्द से शरीर की रक्षा करता है.
  • यह शरीर के तंत्रिका तंत्र को कार्य करने के लिए उत्तेजित बनाए रखता है. इससे मनुष्य शरीर में पर्याप्त ऊर्जा एवं स्फूर्ति बनी रहती है. जिससे आप प्रतिदिन ऊर्जा से भरपूर रहते है यानी कि दिनभर एक्टिव रहते है.

rock-salt-properties-and-benefits-why-better-than-white-salt

  • नींबू के रस में सेंधा नमक मिलाकर पीने से पेट सम्बन्धी बीमारियां जैसे- पेट दर्द, उल्टी, दस्त, पेट साफ न होना, पेट में कीड़े पड़ना, भूख न लगना आदि में फायदा पहुंचता है.
  • सेंधा नमक खाने से शरीर में पित्त की समस्या का निवारण होता है.
  • यह आँतों की परेशानियों को दूर करता है. इससे आंतें स्वच्छ और साफ बनी रहती है एवं अनावश्यक पदार्थों संपर्क में आने से बची रहती है.
  • सेंधा नमक एवं निम्बू को मिक्स करके रोजाना दांतों एवं नाखूनों पर मलने से दांत व नाखून साफ एवं चमकदार बनते है. यह दांतों की पायरिया की समस्या का समाधान कर, उन्हें मजबूत बनाता है.

rock-salt-properties-and-benefits-why-better-than-white-salt

सफेद नमक के नुकसान । White salt loss

  • सफ़ेद नमक में आयोडीन की उपस्थिति इसे जहरीले पदार्थ की श्रेणी में शामिल कर देता है. जिसके नित्य प्रतिदिन सेवन से नपुंसकता जैसी गंभीर बीमारी भी हो सकती है.
  • सफ़ेद नमक का पर्याप्त मात्रा में सेवन नहीं करने से रक्त धमनियों पर बुरा असर पड़ सकता है. इसका अधिक सेवन रक्तप्रवाह यानी ब्लड सर्कुलेशन को अनियंत्रित कर देता है.
  • वैज्ञानिकों के अनुसार सफ़ेद नमक अधिक खाने वालों में बालों की समस्या बनी रहती है. ऐसे व्यक्तियों के बाल अधिक झड़ते है एवं बालों में मजबूती भी नहीं रहती.

rock-salt-properties-and-benefits-why-better-than-white-salt

  • सफ़ेद नमक का रोजाना सेवन पेट के लिए हानिकारक होता है. इससे मोटापा, पेट दर्द, वजन बढ़ना आदि समस्याएँ उत्पन्न हो जाती है.
  • अधिक नमक के सेवन से त्वचा संबंधी कई रोगों का आपको सामना करना पड़ सकता है. कारण सफ़ेद नमक खाने से शरीर से ज्यादा पसीना आने लगता है, जो कि शरीर के लिए हानिकारक होता है।
  • अतः हमारे द्वारा आपके सामने स्पष्ट किया गया है कि, सादा या सफ़ेद नमक का अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर को कई तरह की बीमारियाें से जुझना पड़ सकता है. इसीलिए कोशिश करें कि अपने दैनिक जीवन में सफ़ेद के स्थान पर सेंधा या काले नमक का उपयोग करें. यह आपको स्वस्थ एवं रोगमुक्त बनाए रखेगा.

इसे भी पढ़े :

लेटेस्ट न्यूज़, के लिए न्यूज मग एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

Ravi Raghuwanshi

रविंद्र सिंह रघुंवशी मध्य प्रदेश शासन के जिला स्तरिय अधिमान्य पत्रकार हैं. रविंद्र सिंह राष्ट्रीय अखबार नई दुनिया और पत्रिका में ब्यूरो के पद पर रह चुकें हैं. वर्तमान में राष्ट्रीय अखबार प्रजातंत्र के नागदा ब्यूरो चीफ है.

Related Articles

DMCA.com Protection Status
चुनाव पर सुविचार | Election Quotes in Hindi स्टार्टअप पर सुविचार | Startup Quotes in Hindi पान का इतिहास | History of Paan महा शिवरात्रि शायरी स्टेटस | Maha Shivratri Shayari सवाल जवाब शायरी- पढ़िए सीकर की पायल ने जीता बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सफल लोगों की अच्छी आदतें, जानें आलस क्यों आता हैं, जानिएं इसका कारण आम खाने के जबरदस्त फायदे Best Aansoo Shayari – पढ़िए शायरी