एक ही रात में इंदौर हुआ पानी-पानी : इतिहास में पहली 24 घंटे में 11 इंच बारिश, यशवंत सागर के गेट खोले

 एक ही रात में इंदौर हुआ पानी-पानी : इतिहास में पहली 24 घंटे में 11 इंच बारिश, यशवंत सागर के गेट खोले

यशवंत सागर बांध के सभी गेट खोले गए।

इंदौर । शुक्रवार शनिवार दरमियानी रात से इंदौर में मूसलाधार बारिश जारी है। औसत बारिश 34 इंच है वहीं बीते 24 घंटे में 11 इंच से बारिश दर्ज हो चुकी है।  22 अगस्त 2020 तक 32 इंच बारिश दर्ज हो चुका है। मूसलाधार बारिश के कारण शहर के 50 से अधिक कॉलोनियों में पानी घुस गया है। 20 से अधिक निचली बस्तियों में पानी घुस गया है।

mp-indore-news-heavy-rain-in-indore-today-news-latest-weather-news-of-madhya-pradesh-indore
बारिश के कारण नाले किनारों वाली बस्तियों के हालत बुरे हो गए हैं।

हालत यह है कि, भावना नगर में कारे जलमग्न हो गई है। इंदौर की जीवन रेखा कहे जाने वाला यशवंत सागर बांध भी रातभर में लबालब हो गया। जिसके चलते बांध के सभी गेट खोल दिए गए हैं। दरअसल शुक्रवार शाम 4 बजे से बारिश का दौर शुरू हुआ जो शनिवार सुबह तक जारी रहा।

सीजन की सबसे तेज बारिश है। मौसम वैज्ञानिकों ने आशंका जताई है कि, शनिवार दिनभर तेज बारिश का दौर जारी रहा है। इंदौर से सटे जिले के सांवेर, महू, देपालपुर और गौतमपुरा में भी जोरदार बारिश का दौर जारी है।  डीआईजी, सांसद निगम कंट्रोल रूम पहुंचे।

मूसलाधार बारिश को देखते हुए शनिवार अलसुबह अलसुबह से ही कलेक्टर मनीष सिंह, डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्र, निगम कमिश्नर प्रतिभा पॉल और सांसद शंकर लालवानी नगर निगम कंट्रोल रूम पहुंचकर स्थिति को नियतंत्रण करने में जुट गए।

mp-indore-news-heavy-rain-in-indore-today-news-latest-weather-news-of-madhya-pradesh-indore
यशवंत सागर बांध के सभी गेट खोले गए।

भारी वर्षा के कारण इंदौर में जगह जल-जमाव हो गया है। मप्रपक्षेविविकं के प्रबंध निदेशक  अमित तोमर, मुख्य महाप्रबंधक संतोष टैगोर के निर्देश पर विविकं के कर्मचारियों, अधिकारियों द्वारा बिजली सप्लाय को सुचारू किया जा रहा है। निचली बस्तियों /कालोनी में काफी पानी भराने पर सुरक्षा कारणों से 50 फीडर बंद किए गए है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ प्रदेश में अतिवर्षा की स्थिति व बाढ़ के हालातों को लेकर की समीक्षा की। उन्होंने भारी बारिश के कारण पैदा होने वाली विपरीत परिस्थितियों से निपटने के लिए आवश्यक राहत व बचाव के कार्य तुरंत तैयार रखने के निर्देश दिए।

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post