नवरात्रि व्रत में यह चीज़ें मत खाइये

0
27
navratri-fast-food-items-eat-avoid

नवरात्रि का सीधा मतलब होता है नौ दिन और नौ रात जिसमें करीब सम्पूर्ण भारत में देवी शक्ति या दुर्गा के नौ रूपों को पूजा जाता है. सनातन पंचांग के अनुसार यह पर्व साल में दो बार मनाया जाता है. एक बार हिन्दू नववर्ष की शुरुआत में – चैत्र नवरात्रि और दूसरी बार शरद ऋतु की आगमन सूचना के रूप में, जिसे शारदीय नवरात्रि कहा जाता है. पौराणिक मान्यता के अनुसार इन नौ दिन उपवास रखकर पूजा की जाए तो उसका पुण्य लाभ मिलता है. आमतौर से व्रत के इन दिनों में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, इसके लिए आप यहाँ देख सकते हैं: navratri fast food items eat avoid

नवरात्रि व्रत के दिनों में यह चीज़ें आप खा सकते हैं।

navratri-fast-food-items-eat-avoid

धार्मिक दृष्टि से भी तामसिक भोजन को छोड़कर व्रत में केवल सात्विक भोजन ही खाना चाहिए। जैसे :

अनाज:

आमतौर पर व्रत के दिनों में अनाज खाना वर्जित माना जाता है. लेकिन नवरात्रि व्रत के समय अनाज के रूप में सिंघारा, कुट्टू का आटा, राजगीरा का आटा और सेंवल के चावल के साथ साबुदाना खाया जा सकता है.

2. मसाले:

नवरात्रि में व्यंजन बनाते समय सेंधा नमक, काली मिर्च, ज़ीरा और अजवायन पाउडर को मसाले की तरह उपयोग किया जा सकता है. व्यंजन का स्वाद बढ़ाने के लिए हरी इलायची, इमली, अनारदाना, लौंग और जायफल को आहार में शामिल किया जा सकता है.

3. सब्जियाँ:

शाकाहारी भोजन के लिए नवरात्रि में सीताफल,आलू, टमाटर, कच्चा केला, लौकी, तुरई के साथ शकरकंद, गाजर और पालक की सब्जी ले सकते हैं। खीरे और पपीते का सलाद भी लेना अच्छा रहता है.

4. अन्य:

भोजन बनाने के लिए देसी घी या बादाम का तेल का उपयोग अच्छा रहता है. इसके अलावा मौसमी फल, मेवे और तरल भोजन में दही, लस्सी, दूध, नींबू पानी, छाछ आदि भी ले सकते हैं. भोजन को स्वादिष्ट और पौष्टिक बनाने के लिए दूध से बना पनीर, खोया आदि भी खाया जा सकता है.

नवरात्रि व्रत के दिनों में इन चीजों का सेवन न करें:

navratri-fast-food-items-eat-avoid

अनाज के रूप में गेहूं का आटा, चावल का आटा, मैदा, सूजी और बेसन के अलावा मक्की का आटा – इन सभी तरह के आटों का इस्तेमाल मत करिए.

2. साधारण नमक के अलावा हल्दी, हींग, दाना मेथी, राई, काली सरसों, गरम मसाला, धनिया पाउडर जैसे मसाले.

4. नवरात्रि में किसी भी प्रकार के चावल का सेवन मत करिए.

5. प्याज़ और लहसुन का उपयोग न करते हुए सब्जियों में फली की कोई भी किस्म के अलावा बैगन, छोटी प्याज़, मशरूम और भिंडी न खाएं.

6. हर प्रकार का मांसाहार जिसमें अंडे भी शामिल हैं.

7. कॉफी, आइसक्रीम, मदिरापान के साथ चाय. आमतौर पर चाय को मना नहीं किया जाता है, लेकिन व्रत में चाय कम पीनी चाहिए. क्योंकि ज्यादा चाय पीने से पेट में गैस बनने परेशानी खड़ी हो सकती है.

8. कॉर्न स्टार्च, कॉर्न फ्लोर, ओट्स, चिया और अलसी के बीज आदि

9. सूरजमुखी या अन्य किसी भी बीज से बना तेल या रिफाइंड तेल.

असल में व्रत करने के दौरान शरीर में पाचन क्रिया धीमी हो जाती है. इसी के चलते वही भोजन खाना चाहिए जो सरलता से और जल्दी पच जाये. इसके अलावा व्रत में अधिक से अधिक तरल पदार्थ व फलों का सेवन सबसे अच्छा रहता है. इससे शरीर में पानी की कमी भी नहीं होती.

इसे भी पढ़े :