संजा के सामने गाए जाने वाले प्रमुख गीत ।

0
222
top-songs-sung-in-front-of-sanja
सांकेतिक तस्वीर।

संजा के सामने गाए जाने वाले प्रमुख गीत । Top songs sung in front of Sanja

मालवा परंपरओं में कुंवारी कन्याओं के बीच सबसे प्रचलित संजा पर्व हैं। श्राद्ध पक्ष के शुरुआत से अंत तक यानी पूरे 16 दिनों तक कुंआरी कन्याएं हर्षोल्लासपूर्ण मन से घर के बाहरी दीवारों पर बहुरंगी आकृति में ‘संजा’ बनाती हैं।बनाई गई आकृति को कन्याएं सिद्ध स्त्री देवी के रूप में पूजन करती हैं। लोक मान्यता में ‘सांझी’ सभी की ‘सांझी देवी’ मानी जाती है। संध्या के समय पूजा-अर्चना की जाती है। संभवतः इसी चलते इस देवी का नाम ‘सांझी’ पड़ा है।

top-songs-sung-in-front-of-sanja

शास्त्रों की मानें तो धरती पुत्रियां सांझी को ब्रह्मा की मानसी कन्या संध्या, दुर्गा, पार्वती तथा वरदायिनी आराध्य देवी के रूप में पूजा जाता हैं। दोस्तों लेख के माध्यम से हम आपके लिए संजा के सबसे प्रचलित गीतों का संग्रह लाएं है।

संजा के सामने गाए जाने वाले प्रमुख गीत । Top songs sung in front of Sanja

‘संझा बाई का लाड़ाजी, लूगड़ो लाया जाड़ाजी
असो कई लाया दारिका, लाता गोट किनारी का।’
‘संझा तू थारा घर जा कि थारी मां
मारेगी कि कूटेगी
चांद गयो गुजरात हरणी का बड़ा-बड़ा दांत,
कि छोरा-छोरी डरपेगा भई डरपेगा।’
‘म्हारा अंगना में मेंदी को झाड़,
दो-दो पत्ती चुनती थी
गाय को खिलाती थी, गाय ने दिया दूध,
दूध की बनाई खीर
खीर खिलाई संझा को, संझा ने दिया भाई,
भाई की हुई सगाई, सगाई से आई भाभी,
भाभी को हुई लड़की, लड़की ने मांडी संझा’
‘संझा सहेली बाजार में खेले, बाजार में रमे
वा किसकी बेटी व खाय-खाजा रोटी वा
पेरे माणक मोती,
ठकराणी चाल चाले, मराठी बोली बोले,
संझा हेड़ो, संझा ना माथे बेड़ो।’

संजा के सामने गाए जाने वाले प्रमुख गीत । Top songs sung in front of Sanja

‘संझा तू जिम ले,
चूढ ले मैं जिमाऊं सारी रात,
चमक चांदनी सी रात,
फूलो भरी रे परात,
एक फूलो घटी गयो,
संझा माता रूसी गई,
एक घड़ी, दो घड़ी, साढ़े तीन घड़ी।’
‘छोटी-सी गाड़ी लुढ़कती जाय,
जिसमें बैठी संझा बाई सासरे जाय,
घाघरो घमकाती जाय, लूगड़ो लटकाती जाय
बिछिया बजाती जाय’।
‘म्हारा आकड़ा सुनार, म्हारा बाकड़ा सुनार
म्हारी नथनी घड़ई दो मालवा जाऊं
मालवा से आई गाड़ी इंदौर होती जाय
इसमें बैठी संझा बाई सासरे जाय।’
‘संझा बाई का सासरे से, हाथी भी आया
घोड़ा भी आया, जा वो संझा बाई सासरिये,’

संजा के सामने गाए जाने वाले प्रमुख गीत । Top songs sung in front of Sanja

जीरो लो भई जीरो लो
जीरो लइने संजा बई के दो
संजा को पीयर सांगानेर
परण् पधार्या गढ़ अजमेर
राणा जी की चाकरी
कल्याण जी को देस
छोड़ो म्हारी चाकरी
पधारो व्हांका देस।