https://bit.ly/CricazaSK
https://bit.ly/CricazaSK
https://bit.ly/CricazaSK
सेहतNews

मासिक धर्म स्वच्छता के नारे, सन्देश | Menstrual Hygiene Slogans,Quotes, Message In Hindi

मासिक धर्म स्वच्छता नारे, सन्देश, स्टेटस ।  Menstrual Hygiene Slogans,Quotes, Message In Hindi

menstrual-hygiene-sloganquotes-message-in-hindi
ग्राफिक : कमलेश वर्मा

मासिक धर्म को माहवारी, रजोधर्म, मेंस्ट्रुअल साइकिल या एमसी और पीरियड्स के नाम से संबोधित किया जाता हैं. महिलाओं की शारीरिक हार्मोन में होने वाले कुछ बदलाव के कारण गर्भाशय से स्क्त को मासिक धर्म कहा जाता हैं. मासिक धर्म स्वच्छता पूरी दुनिया की महिलाओं और लड़कियों के सशक्तिकरण और कल्याण के लिए बेहद ही जरूरी हैं. मासिक धर्म के दौरान स्वच्छता बेहद ही जरुरी है, इसीलिए हम लेख के जरिए है महिलाओं के लिए मासिक धर्म की स्वच्छता पर कुछ चुनिन्दा नारे, मेसेज और कोट्स. अनुरोध है कि लेख को आप अपने चाहने वालों के साथ आवश्यक रूप से शेयर करें.

Slogans on menstrual hygiene in hindi

महावारी को न मानो परेशानी
है ये नारीशक्ति की निशानी

माहवारी में सेनेटरी पैड से अच्छा साथी और कोई नहीं

पीरियड में शर्म छोड़ो बहन
अच्छी नैपकिन का करो जतन

छोड़ो लाज और दकियानूसी सोच
खुलकर करो बात निःसंकोच

Menstrual Hygiene Slogans in Hindi

मासिक धर्म – हैं कोई शर्म नहीं,
क्यों मंदिर में प्रवेश नहीं,
जब उनका कोई दोष नहीं,
क्यों मज़ाक सी जब बात बनी,
तब कोई मदद का हाथ नहीं,
क्यूँ दर्द छुपा कहीं काम में आराम नहीं,
क्या करना किसी को भी – जब उसका किसी को ध्यान नहीं,
मासिक धर्म,Periods का नाम सुन सब कहते ये क्या कह डाला-
“तुम्हे लोगों का भी मान नहीं “।
अंधविश्वास की देखो पट्टी लोगों के आँखों में बंधी,
ये नहीं करना ,वो नहीं छूना- माँ भी कहती है यही,
आज भी गाँवों का हाल वही,
किसी के विचार हैं की बदले ही नहीं,
एक आध – में बदले भी तो भई, वह कोई तरक्की नहीं,
मासिक धर्म हैं, कोई पिछले जन्म के बुरे कर्म नहीं।।

किसी औरत के अंग को देखकर यदि तुम जीभ ललचाते हो

तो उसके अंग के लाल होने पर घिन्न करना अच्छी बात नहीं 

तुम मर्द जो मेरे खून को देखकर तंस कसते हो

भूलना मत इसी खून को इक्ठ्‌ठा करते तुम मर्द बनते हो.

Beautiful quotes on menstruation

बिटियाँ रानी क्यूँ है झिझकती
ये तो है प्रकृति की शक्ति

पढ़ो-लिखो आगे बढ़ो
पैड मांगने की झिझक तोड़ो

स्वास्थ्य को है बचाना, तो हर औरत को है पैड इस्तेमाल में लाना

इसे भी पढ़े : 

https://news.google.com/publications/CAAqBwgKML63lwswseCuAw?hl=en-IN&gl=IN&ceid=IN:en

KAMLESH VERMA

बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है.

Related Articles

Back to top button
DMCA.com Protection Status
सवाल जवाब शायरी- पढ़िए सीकर की पायल ने जीता बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सफल लोगों की अच्छी आदतें, जानें आलस क्यों आता हैं, जानिएं इसका कारण आम खाने के जबरदस्त फायदे Best Aansoo Shayari – पढ़िए शायरी