श्रीनगर में ठंड ने 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा

0
158
the-cold-in-srinagar-broke-the-30-year-old-record-for-the-first-time-in-january
पिछले 38 साल में श्रीनगर का तापमान 17 बार माइनस 8.8 या उससे कम रिकॉर्ड किया गया है।

श्रीनगर में ठंड ने 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है. जम्मू-कश्मीर में रविवार को चिल्लई कलां यानी कड़ाके की ठंड का अंतिम दिन था। खास बात यह है कि इसी दिन श्रीनगर में ठंड ने 30 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। शनिवार-रविवार की दरम्‍यानी रात श्रीनगर में तापमान माइनस 8.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। इससे पूर्व साल 1991 में न्‍यूनतम तापमान माइनस 11.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था।

the-cold-in-srinagar-broke-the-30-year-old-record-for-the-first-time-in-january
पिछले 38 साल में श्रीनगर का तापमान 17 बार माइनस 8.8 या उससे कम रिकॉर्ड किया गया है।

20 से ज्यादा इलाकों में पारा माइनस में
बीते 38 साल में श्रीनगर का तापमान 17 बार माइनस 8.8 या उससे कम दर्ज हुआ है। वहीं साल 1991 सबसे ठंडा और कठोर सर्दी वाला साल महसूस किया गथा था, जिसमें 9 दिन तक तापमान माइनस 8 या उससे कम रहा। जम्मू-कश्मीर के करीब 20 से ज्यादा इलाकों में तापमान माइनस डिग्री में है। द्रास में बेहद ही अधिक सर्दी है। यहां का तापमान माइनस 26 डिग्री के पार पहुंच चुका है।

बर्फबारी जारी रहेगी
मौसम विभाग द्वारा जारी किए गए अलर्ट की मानें तो, जम्मू-कश्मीर के बाहरी इलाकों और लद्दाख में हल्की बर्फबारी हो सकती है। हाड़ कंपा देने वाली इस ठंड में घाटी के लोग आवाजाही के साथ पानी की समस्या से भी जूझ रहे हैं।

क्या है चिल्लई कलां, अभी चिल्लई खुर्द और चिल्लई बाचा बाकी
चिल्लई कलांं मौसम से जुड़ा एक बेहद ही प्राचीन शब्द है। जम्मू कश्मीर के लोग इसका समय 21 दिसंबर से 31 जनवरी तक मानते हैं। इन 40 दिनों में कश्मीर में हाड़ कंपा देने वाली ठंड पड़ती है। वहीं, 1 फरवरी से 20 फरवरी तक चिल्लई खुर्द (छोटी ठंड) और इसके ठीक अगले 10 दिनों तक चिल्लई बाचा (बेबी कोल्ड) के नाम से पुकारा जाता है।

इसे भी पढ़े : अब सिनेमाघर में एक-एक सीट छोड़कर नहीं बैठना पड़ेगा!

इन 10 इलाकों में ठंड की थर्ड डिग्री
द्रास -26.2 °C
कारगिल -17.4 °C
लेह-16.1 °C
शोपियां -15.1 °C
बालटाल/नुब्रा घाटी -15.0 °C
थोई -14.7 °C
कोकेरनाग -13.1 °C
कुलगाम -12.1 °C
पुलवामा -10.3 °C
श्रीनगर -8.8 °C

Newsmug App: नागदा और देश-दुनिया की खबरें, अपडेट्स और सेहत की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NEWSMUG ऐप। आपके नागदा का  लोकल न्यूज एप।

Google News पर हमें फॉलों करें.