नींबू का अचार बनाने की विधि और नींबू के फायदे

0
55
sweet-lemon-pickle-recipe

भारतीय व्यंजन की थाली अचार के बिना सूनी सी लगती है. यदि दोपहर के खाने के साथ अचार ना हो तो खाने का मजा बेस्‍वाद सा हो जाता हैं, यदि आपको नींबू का अचार (Sweet Lemon Pickle Recipe) पसंद है तो आपको इसका मीठा अचार भी खूब भाएगा. जी हां दोस्तों, आप इसे घर पर आराम से बना सकती हैं और पूड़ी पराठे या दाल-चावल के साथ खा सकती हैं. नींबू का मीठा अचार स्वादिष्ट लगने के साथ ही स्वास्थ्य के लिए बेहद ही फायदेमंद होता है. आयुर्वेद में अचार को हाजमा यानी पाचन तंत्र के लिए बेहतर बताते हुए दोपहर के भोजन में आवश्यक रुप से शामिल करने की सलाह दी गई है.

जैसा कि हम भी को ज्ञात हैं, नींबू में तमाम प्रकार के विटामिन और खनिज तत्व पाए जाते हैं. यह पोटेशियम , कैल्शियम , कॉपर , आयरन , ज़िंक , फास्फोरस आदि का अच्छा स्रोत है। रक्त विकार में तथा पाचन में लाभदायक होता हैं.

नींबू का मीठा अचार पीले नींबू से बनाया जाता है. इसे बनाते समय एक बात का ध्‍यान रखें कि इसे बनाने के बाद ही इसमें चीनी मिलाएं नहीं तो नींबू का छिलका काफी देर में मुलायम होगा. आइये लेख के जरिए देखते हैं नींबू का मीठा अचार बनाने की विधि. साथ ही जानेंगे नींबू के फायदों के बारे में…………

आवश्यक सामग्री :

  • नीम्बू -1 किलो
  • हल्दी – 1 चम्मच
  • सेंधा नमक – 30 ग्राम
  • काला नमक – 30 ग्राम
  • चीनी – 1 किलो
  • कालीमिर्च – 3 चम्मच
  • लालमिर्च -1 चम्मच
  • बड़ी इलायची – 2 नग
  • गरम मसाला – 1 चम्मच

बनाने की विधि :

  • सबसे पहले नींबू को धोकर एक घंटा पानी में भिगोकर रख दें.
  • जिसके बाद काली मिर्च व बड़ी इलायची को मिक्सर में या सिलबट्‌टे पर पीस लें.
  • नीबू को पानी में से निकाल कर पोंछ लें और पानी सूखा लें.
  • नींबू के चार या आठ टुकड़े कर लें व बीज निकाल कर अलग कर दें.
  • अब आप कटे हुए नींबू में सेंधा नमक, काला नमक व हल्दी डालकर धूप में रख दें.
  • इसे रोजाना धूप में रखने से 20-25 दिन में नींबू गल जाते हैं. धूप में रखे इन नींबू के टुकड़ो को रोजाना दिन में दो तीन बार हिला दें.
  • 20-25 दिन बाद एक टुकड़े को निकाल कर हाथ से दबा कर देखे यदि आसानी से दब जाए तो समझे की नींबू गलकर तैयार हो चुके हैं.
  • अब इसमें शक्कर व हमारे द्वारा बताए गए सभी मसाले मिला दें.
  • अच्छे से मिलाने के बाद 7-8 दिन वापस इसे धूप में रखें.
  • नींबू का मीठा स्वादिष्ट अचार तैयार है.
  • नींबू का यह मीठा अचार परांठा , चावल या मठरी आदि के साथ खाया जा सकता है.

sweet-lemon-pickle-recipe

टिप्स :

  • दोस्तों ध्यान रखें कि, अचार बनाने के लिए पीले नीम्बू ले, हरे नीम्बू ना लें.
  • नींबू का अचार पतले छिलके वाले कागजी नीम्बू का अच्छा बनता है.
  • नींबू बिना दाग धब्बे वाले होने चाहिए.
  • नमक व हल्दी लगाने के बाद नीम्बू 20-25 दिन में गल कर तैयार हो जाते है लेकिन यह धूप की तेजी पर भी निर्भर करता है। इसलिए यदि नीम्बू ना गले हों तो कुछ दिन और रखें। गलने के बाद ही चीनी व मसाले मिलायें.
  • नींबू का अचार धूप में बनाया गया है यदि धूप नहीं है तो भी यह बन सकता है लेकिन समय थोडा अधिक लगेगा. इसे आप रसोई में रख कर भी बना सकते है.

नींबू के फायदे –

एसीडिटी के लिए नींबू :

  • कई लोगों के बीच बहुत बड़ी गलतफहमी है कि नींबू का रस शरीर के लिए अम्लीय होता है. ऐसा नहीं हैं दोस्तों नींबू पेट में क्षार पैदा करता है. नींबू का पोटेशियम तत्व रक्त में अम्लता को कम करता है.
  • गर्म पानी में नींबू का रस डालकर पीने से अम्लपित्त यानी की गैस की परेशानी में आराम मिलता है.
  • खाना खाने के बाद एक कप गर्म पानी में एक चम्मच नींबू का रस व चुटकी भर मीठा सोडा डालकर पीने से एसीडिटी में आराम मिलता है.
  • खाना खाने से आधा घंटे पहले मीठी शिकंजी पीने से एसिडिटी ठीक होती है.

sweet-lemon-pickle-recipe

जुकाम में नींबू :

  • एक बड़ा नींबू को एक गिलास पानी में उबाल लें. पानी को गिलास में निकालकर उबला नींबू काटकर इसमें निचोड़ कर रस निकाल लें. जिसके बाद आधा चम्मच अदरक का रस और दो चम्मच शहद मिलाकर पी लें. इससे जुकाम ठीक होता है.
  • दो कप पानी में दो चम्मच दाना मेथी डालकर उबालें. जिसके बाद एक कप रह जाये तब छानकर इस पानी में एक चम्मच नींबू का रस डालकर गुनगुना पीएं. फ्लू , सर्दी जुकाम आदि में बहुत राहत मिलेगी.
  • गर्म पानी में नींबू डालकर गरारे करने से गले का इन्फेक्शन और कफ ठीक होता है.

sweet-lemon-pickle-recipe

शक्ति वर्धक नींबू :

  • दोस्तों रात को सोने के पूर्व एक गिलास पानी में दो छुआरे गुठली निकालकर और आठ दस किशमिश और एक चम्मच नींबू का रस डालकर रखें. सुबह उठने के बाद इसे खाली पेट पानी पी लें. बाद में छुआरे और किशमिश भी खा लें। बहुत पौष्टिक होता है.
  • चार बादाम , चार पिस्ता , चार मुनक्का और दो चम्मच किशमिश एक गिलास पानी में भिगो दें. जिसके बाद सुबह बादाम के छिलके निकालकर बाकि चीजों के साथ बारीक पीस लें. इसे एक कप पानी मिलाकर ठंडाई की तरह छान लें.
  • इसमें एक नींबू का रस व एक चम्मच शहद डालकर खाली पेट पीए. यह शारीरिक और मानसिक दोनों तरह की कमजोरी दूर करता है.

sweet-lemon-pickle-recipe

पाचन तंत्र के लिए नींबू :

  • पाचन तंत्र के लिए नींबू रामबाण की तरह काम करता है. गैस , पेटदर्द , अफारा , पेट फूलना आदि के लिए गर्म पानी में नींबू का रस मिलाकर दो तीन बार पीने से ये सब तकलीफ दूर हो जाती है. बारिश के मौसम में नींबू का उपयोग अवश्य करना चाहिए.
  • अजीर्ण या ज्यादा खाने की वजह से पेट में दर्द हो तो गर्म पानी में नींबू , शक्कर , नमक , पिसा जीरा और पीसी अजवाइन डालकर पीने से पेटदर्द ठीक हो जाता है.
  • पेट में कीड़े हो तो नींबू काटकर उस पर काला नमक , काली मिर्च और पिसा जीरा लगा कर गर्म कर लें। अब इस नींबू का रस चूसें। पांच सात दिन इस प्रयोग से पेट के कीड़े ख़त्म हो जाते है.
  • खाना खाने के बाद पेट में दर्द होता हो तो मूली के रस में नींबू का रस मिलकर पीने से ठीक हो जाता है.
  • खाना खाने से आधा घंटा पहले एक गिलास पानी में यह चम्मच नींबू का रस , एक चम्मच अदरक का रस और नमक मिलाकर पीने से भूख खुल कर लगती है और पाचन सुधरता है.

इसे भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here