नाभि पर हल्दी लगाने का फायदा और स्वास्थ्य लाभ | Turmeric Benefits And It’s Uses in Hindi

 नाभि पर हल्दी लगाने का फायदा और स्वास्थ्य लाभ | Turmeric Benefits And It’s Uses in Hindi

नाभि पर हल्दी लगाने का फायदा और स्वास्थ्य लाभ | Turmeric Benefits And It’s Uses in Hindi । health benefits of applying turmeric on the navel

हल्दी एक भारतीय आयुवैदिक वनस्पति है. हल्दी को अंग्रेजी में टर्मरिक नाम से जाना जाता हैं. भारतीय रसोई घर में हल्दी आवश्यक रुप से रखी जाती है। भारत का कोई भी ऐसा व्यंजन नहीं है जिसमें इसका उपयोग नहीं किया जाता। हल्दी को मसालों के साथ भारतीय भोजन में डाला जाता है। अदरक की ही एक प्रजाति है. हल्दी आयुर्वेद में एक महत्वपूर्ण औषधि के रूप में इस्तेमाल की जाती है।

प्राचीन काल से ही चमत्कारिक द्रव्य के रूप से जानते हैं. पूजन कार्य में भी हल्दी का उपयोग किया जाता है। भारतीयों में विवाह के दौरान एक रस्म हल्दी की  होती है. शरीर पर चोट लग जाने पर हल्दी का उपयाेग दवा के रुप में किया जाता है। दोस्तों लेख के माध्यम से हम आपकों नाभि पर हल्दी लगाने का फायदा और स्वास्थ्य लाभ बताने जा रहे हैं।

benefits-and-health-benefits-of-applying-turmeric-on-the-navel

हल्दी का उपयोग | Turmeric Uses

हल्दी का उपयोग भिन्न प्रकार से किया जाता है। यह त्वचा और शरीर की कई बीमारियों को ठीक करता है। हल्दी एंटीसेप्टिक होती है। इसकी सिर्फ गांठ ही नही पत्ते भी नाभि के लिए लाभदायक होते है. हल्दी में एक विशेष प्रकार का उड़नशील तेल (5.8%) होता है। तेल में करक्यूमिन नामक टरपेन्ट (Terpent) होता है, जो नाभि और रक्त धमनियों में एकत्र कोलेस्ट्रॉल को घोलने की क्षमता रखता है. इतना ही नहीं हल्दी में विटामिन ए, प्रोटीन (6.3%), कार्बोहाइड्रेट (69.4%) और खनिज तत्व( 3.5%) मात्रा में होते हैं.

नाभि पर हल्दी लगाने का फायदा और स्वास्थ्य लाभ | Turmeric Benefits And It’s Uses in Hindi

  1. रक्त शुद्ध : हल्दी का नियमित रूप से नाभि पर लगाने से रक्त साफ होता है. यउि आप चाहे तो नाभि पर लगाने की बजाएं हल्दी को सब्जियों में या हल्दी का दूध पी सकते हैं। 
  2. इससे शरीर मे ऊर्जा का संचार होता है : हल्दी को रात्रि के समय नाभि पर लगाकर सोने से शरीर मे ऊर्जा बनी रहती है। 
  3. हल्दी शरीर को रोगों से बचाती है : एंटीसेप्टिक प्रोपर्टी होने के कारण हल्दी शरीर को रोगमुक्त रखने में सहायता करता है। 
  4. सर्दी झुकाम में दिलाए राहत : बड़े बुजुर्ग सर्दी जुखाम होने पर हल्दी वाला दूध पीने और नाभि में हल्दी सरसों का तेल रखने की सलाह देते हैं। 
  5. कैंसर जैसी बीमारियों से भी मुक्त कराती है : प्रतिदिन नियमित रुप से सुबह खाली पेट हल्दी काे खाने से कैंसर की कोशिकाएं शरीर से बाहर निकलती है। कैंसर रोगियों के उपचार में हल्दी एक रामबाण औषधि है।
  6. शरीर मे होने वाले इंफेक्शन में को रोकने में हल्दी लाभप्रद होती है।
  7. जलन ,सूजन और घाव के लिए भी लाभकारी : हल्दी का लेप सूजन या किसी भी प्रकार के घाव में बहुत लाभदायक है. ऐसा होने पर नाभि के साथ पैरो के तलवे में हल्दी का लेप बनाकर लगाना चाहिए।
  8. महिलाओं को मासिक धर्म की परेशानियों में हल्दी को नाभि पर लगाना चाहिए। जिसे पीरिसड मिस होने की परेशानी से निदान मिलता है। 
  9. रात को सोते समय नाभि पर हल्दी लगाने से पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। 
  10. शीघ्रपतन से भी राहत दिलाता है : शहद और हल्दी मिलाकर चाटने से स्वप्नदोष और नपुंसकता जैसी बीमारियों जड़ से समाप्त हो जाती है। 
  11. वजन कम करने में भी लाभकारी। 
  12. इम्यून सिस्टम को बूस्ट यानी मजबूत करती है।
  13. नाभि पर हल्दी रखने से ब्लड शुगर नियमित रहती है।

benefits-and-health-benefits-of-applying-turmeric-on-the-navel

इसे भी पढ़े : नहाने का सही और वैज्ञानिक तरीका।

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post