Newsसेहत

चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें – Sugar Se Pregnancy Test Kaise Kare

चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें – Sugar Se Pregnancy Test Kaise Kare

Pregnancy Test With Sugar In Hindi:  दुनिया का सबसे सुखद अनुभव मां बनना होता है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि,  रसोई में मौजूद साधारण सी चीनी से भी प्रेगनेंसी टेस्ट किया जा सकता हैं? सुनकर हैरानी हुई ना, लेकिन यह बिल्कुल सच है। इसके लिए आपकों बाजार से प्रेगनेंसी टेस्ट किट खरीदने की कोई जरूरत नहीं है। शुगर यानी शक्कर से भी प्रेगनेंसी टेस्ट करना, एक आसान घरेलू तरीका है। आज के हमारे इस रोचक आर्टिकल में हम आपकों स्टेप बाय स्टेप तरीके से बताएंगे कि चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे और किस प्रकार किया जाता है (Sugar Se Pregnancy Test In Hindi), रसोई घर में मौजूद चीनी से घर बैठे बेहद ही आसानी से आप प्रेगनेंसी टेस्‍ट कर सकती हैं, चीनी प्रेगनेंसी टेस्ट का रिजल्ट कैसे देखते हैं और इसका परिणाम कितने प्रतिशत सटीक होता है। यह घरेलू उपाय उन महिलाओं के लिए बहुत ही लाभकारी हो सकता है जो गर्भावस्था के लक्षणों जैसे – उल्टी या मतली के कारण घर पर गर्भावस्था परीक्षण करना चाहती हैं। आइए पोस्ट के जरिए विस्तार पूर्वक चर्चा करें-

sugar-se-pregnancy-test-kaise-kare
Sugar Se Pregnancy Test Kaise Kare

चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट क्या है? – Sugar Se Pregnancy Test In Hindi

चीनी प्रेगनेंसी टेस्ट एक ऐसा सरल और आसान घरेलू नुक्सा है जिसके द्वारा मां बनने की चाहत रखने वाली प्रसूता घर पर ही प्रेग्नेंट होने से जुड़ी जानकारी ले कर सकती हैं। यह उन महिलाओं के बीच बेहद ही प्रसिद्ध तरीका है, जिसकी मदद से गर्भवती होने की इच्छुक महिलाएं चिकित्सक के पास गए बिना ही घर पर ही यह सुनिश्चित करना चाहती हैं कि वे गर्भधारण करने में सक्षम हों चुकी हैं या नहीं। हालांकि इस घरेलु उपाय से संबंधित कोई शत प्रतिशत सटीक वैज्ञानिक शोध या परिणाम उपलब्ध नहीं है। बावजूद भारतीय महिलाएं मान्यताओं के आधार पर अपनी प्रेग्नेंट होने के परिणामों को शांत करने के लिए घर पर यह चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करती हैं। इस टेस्ट से महिला को कोई नुकसान नहीं होता है, इसलिए ऐसा करने में कोई गलत नहीं है। इसका परिणाम कैसे देखा जाता है और यह कितना सही होता है, आइये इसे निम्न तरीके से नीचे की ओर पोस्ट में जानते हैं।

चीनी से प्रेगनेंसी टेस्‍ट कैसे काम करता है – How Sugar Pregnancy Test Works in Hindi

गर्भावस्था के प्रारंभिक लक्षण में, मूत्र एचसीजी यानी ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन हार्मोन का निर्माण होता है। चीनी मूत्र में इस हार्मोन की मौजूदगी का परीक्षण करता है। पेशाब से चीनी की प्रतिक्रिया होने पर इस बात की पुष्टि होती है कि, मूत्र में एचसीजी है या नहीं। यदि मूत्र में एचसीजी मौजूद है, तो खुश हो जाए आप गर्भवती हैं।

घर के बड़े बुजुर्गो द्वारा चीनी से प्रेगनेंसी टेस्‍ट के सटीक रिजल्ट पाने के लिए सुबह के पेशाब से प्रेगनेंसी टेस्ट को करने की सलाह दी जाती हैं। सुबह की पहली पेशाब में एचसीजी हॉर्मोन और यूरिक एसिड सबसे अधिक मौजूद होता है।

जैसा कि, हम सभी जानते हैं, चीनी किसी भी तरल पदार्थ के संपर्क में आने पर वह घुलने लगती हैं। इसी प्रकार यदि चीनी साधारण पेशाब से मिलती है तो वह बेहद ही आसानी से क्रिया कर घुल जाती है। लेकिन प्रेगेंट होने के बाद महिलाओं के मूत्र में एचसीजी हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। पेशाब में मौजूद एचसीजी हार्मोन की मात्रा चीनी को घुलने से रोकती है, जिसके कारण चीनी एक जगह इकट्ठा या एकत्र हो जाती है। चीनी की इस रासायनिक प्रतिक्रिया से यह पता चलता है कि आप प्रेगेंट हैं। यदि चीनी यूरिन में आसानी से घुल जाती है तो इसका मतलब यह हुआ कि, आप गर्भवती नहीं है।

प्रेगनेंसी की जाँच के लिए शुगर से प्रेगनेंसी टेस्ट कब करना चाहिए? – When should I take a Sugar pregnancy test in Hindi?

कंसीव करने के बाद, शरीर में एचजीसी हार्मोन की मात्रा बढ़ने लगती है। इस प्रकार के मामलों में, पीरियड मिस होने के10 दिनों के बाद आप घर पर ऊपर बताएं गए तरीके से कभी भी चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती हैं। यदि एक महिला ने गर्भ धारण किया है, तो करीब 10 दिनों के बाद, शरीर में इस हार्मोन का स्तर बढ़ने लगता है, जिसके बारे में आप घर पर शुगर से प्रेगनेंसी टेस्ट का सही रिजल्ट देख सकती हैं।

(और पढ़े – प्रेगनेंसी में छुट्टी के लिए एप्लीकेशन )

चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका – How to do Sugar pregnancy test in Hindi

पोस्ट के जरिए हम आपकों चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका नीचे स्टेट बाय स्टेप बता रहे हैं। इस मेथड को अपनाने से, घर पर यह पता लगाया जा सकता हैं कि, आपके गर्भवती होने की कितने प्रतिशत संभावना है।

शुगर से प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए आपको जरूरत होगी:

  • एक चम्मच चीनी।
  • दो कप लें। एक कप पर ए लिखें और दूसरे कप पर बी।
  • सुबह का पेशाब।

घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका:

  1. सबसे पहले, पेशाब का ताजा सैंपल कप ए में डालें।
  2. अब कप बी में एक चम्मच चीनी डालें।
  3. फिर कप बी में पेशाब डालें।
  4. इसके बाद, रासायनिक प्रतिक्रिया के लिए कुछ क्षण प्रतीक्षा करें।
  5. हम पोस्ट में आगे बता रहे हैं कि शुगर गर्भावस्था परीक्षण के रिजल्ट को कैसे और किस प्रकार से चेक करें।

चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट के रिजल्ट को कैसे समझें? – How to understand the result of Sugar pregnancy test in Hindi

चीनी की सहायता से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका, तो आप लोग जान चुके होंगे, अब इसका रिजल्ट कैसे समझें, हम आपको नीचे क्रमबद्ध तरीके से बता रहे हैं।

पॉजिटिव चीनी प्रेगनेंसी टेस्ट रिजल्ट – लोक मान्यताओं के अनुसार, जब गर्भवती महिला अपने पेशाब में चीनी डालती है, तो चीनी घुलने की जगह एक स्थान पर जमा हो जाती है, तो परिणाम सकारात्मक होता है इसका सीध मतलब है कि, चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट रिजल्ट पॉजिटिव आया है। और आप मां बनने वाली है।

नेगेटिव बेकिंग सोडा प्रेगनेंसी टेस्ट रिजल्ट – पेशाब में चीनी आसानी से घुल जाती है तो इसका मतलब चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट रिजल्ट नेगेटिव आया है।

आपने शुगर से प्रेगनेंसी टेस्ट के रिजल्ट के बारे में सीख लिया है। अब जानते हैं कि यह परीक्षण कितना सटीक है या इसका रिजल्ट कितना सही होता है।

चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट का रिजल्ट कितना सही होता है? – How accurate is the result of Sugar pregnancy test in Hindi?

इस मैथड के शत प्रतिशत सत्य होने को लेकर किसी प्रकार का कोई वैज्ञानिक आधार मौजूद नहीं है। यह केवल लोक मान्यता और धारणाओं पर आधारित है। प्राचीन समय में विवाहिताओं का टेस्ट घर पर इसी प्रकार किया जाता था। ऐसा कहा जाता है कि कुछ महिलाओं को शुगर से प्रेगनेंसी टेस्ट का रिजल्ट सही मिलता है, जबकि कुछ को नहीं। कई बार ऐसा देखने में आता है कि, पहला रिजल्ट नेगेटिव होता है और दूसरा टेस्ट रिजल्ट पॉजिटिव आ जाता है। इस आधार पर कहा जा सकता है कि चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट के रिजल्ट की सटीकता 50 प्रतिशत तक हो सकती है।

दूसरी ओर, प्रेगनेंसी का पता लगाने के लिए भारत के कई प्रांतों में चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट किया जाता है। गर्भावस्था का पता लगाने का यह तरीका बेहद ही सस्ता और हानि रहित है। हालांकि, प्रेगनेंसी की पुष्टि करने के लिए, आपको प्रेगनेंसी किट या डॉक्टर के पास जाना होगा और परीक्षण करवाना होगा।

डॉक्टर से कब संपर्क करें? – When to contact the doctor?

घर पर चीनी से टेस्ट कर लेने के बाद भी यदि आपके मन की जिज्ञासा शांत नहीं हुई हो या किसी प्रकार की कोई दुविधा और शंका है, तो आप चिकित्सक से संपर्क करें। खासकर, जब परिणाम नकारात्मक होता है, लेकिन गर्भावस्था के लक्षण लगातार देखे जाते हैं। इससे स्पष्ट हो जायेगा कि महिला मां बनने वाली है या नहीं। इस स्थिति में कोई दुविधा या संदेह नहीं होना चाहिए। आइए हम कुछ लक्षणों के बारे में जानते हैं, जिन्हें नजर आने पर आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए।

  • थकान
  • पीरियड्स की अनुपस्थिति
  • उल्टी जैसा महसूस होना
  • जी मिचलाना
  • मन बदलना
  • सरदर्द
  • बार-बार पेशाब आना, खासकर रात में
  • ब्रैस्ट संवेदनशील होना
  • विभिन्न चीजों को खाने का मन करता है

दोस्तों पोस्ट के जरिए आप इस बेहतरीन और दिलचस्प शुगर से प्रेगनेंसी टेस्ट के बारे में जान चुकी हैं। ध्यान रखें कि यह गर्भावस्था के समय को रोमांचक बनाने और गर्भधारण के संकेत के रूप में किया जा सकता है। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि इस शुगर से प्रेगनेंसी टेस्ट के रिजल्ट 100 प्रतिशत सटीक नहीं हैं। इसीलिए इस पर पूरी तरह से निर्भर रहना सही नहीं होगा।

इसे भी पढ़े : 

Ravi Raghuwanshi

रविंद्र सिंह रघुंवशी मध्य प्रदेश शासन के जिला स्तरिय अधिमान्य पत्रकार हैं. रविंद्र सिंह राष्ट्रीय अखबार नई दुनिया और पत्रिका में ब्यूरो के पद पर रह चुकें हैं. वर्तमान में राष्ट्रीय अखबार प्रजातंत्र के नागदा ब्यूरो चीफ है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status
चुनाव पर सुविचार | Election Quotes in Hindi स्टार्टअप पर सुविचार | Startup Quotes in Hindi पान का इतिहास | History of Paan महा शिवरात्रि शायरी स्टेटस | Maha Shivratri Shayari सवाल जवाब शायरी- पढ़िए सीकर की पायल ने जीता बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सफल लोगों की अच्छी आदतें, जानें आलस क्यों आता हैं, जानिएं इसका कारण आम खाने के जबरदस्त फायदे Best Aansoo Shayari – पढ़िए शायरी