Categories: सेहत

बासी रोटी खाने के चमत्कारी फायदे | Miraculous Benefits Of Basi Roti In Hindi

बासी रोटी खाने के चमत्कारी फायदे | Miraculous Benefits Of Basi Roti In Hindi

हिंदू धर्म में  सामान्यत: बासी भोजन को सेहत के लिए हानिकारक माना गया है. जिसके कारण अक्सर हम रात की बची बासी रोटी को बेकार समझ कर इन्हें खाने से परहेज करते है. कई लोग रात की बची बासी रोटी खाने में शर्म महसूस करते है. लेकिन यह एक मिथ्या है. क्योंकि बासी रोटी को अनेक रोगों की रामबाण दवा माना जाता है. बासी रोटी में अनेक ऐसे गुण होते है मौजूद होते है जो बहुत सी बीमारियों की रोकथाम में सहायक हैं. आपकों बता दें कि बासी रोटी में भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट और फाइबर पाए जाते हैं जो कि  शरीर एवं स्वास्थ्य की दृष्टि से महत्त्वपूर्ण होते है. ताजी रोटी के मुकाबले बासी रोटी में लाखों की मात्रा में अच्छे बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद माने जाते हैं. इसलिए अब से बासी रोटी को दूध के साथ खाना शुरू कर दें. आप नौकरी पेशा है तो दूध और बासी रोटी का सेवन अपने ब्रेकफास्ट में भी कर सकते हैं.

हम आपको बासी रोटी खाने के चमत्कारी फायदे  बताएंगे जिन्हें जाने के बाद आप घर में बची हुई रोटी को फेंकने के बजाए खुद ही खाना ही पसंद करेंगे.

1. डायबिटीज में उपयोगी

डायबिटीज के रोगियों के लिए बासी रोटी बहुत रोटी खाना बेहद ही फायदेमंद है. यह इंसुलिन को नियंत्रित रखती है और खून में पाई जाने वाली अतिरिक्त शुगर की मात्रा को कम करने में भी मदद करती है. बासी रोटी में प्राकृतिक मिठास भी पैदा हो जाती है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए मीठास की तृप्ति करती है. डायबिटीज के मरीजों को सुबह ठंडे दूध में 10 – 15 मिनट दो बासी रोटी भिगोकर नियमित रुप से सेवन करना चाहिए इससे डायबिटीज में आराम मिलेगा तथा बासी रोटी खाने से शरीर में शुगर लेवल नियमित रहेगा.

2. ब्लडप्रेशर में उपयोगी

बासी रोटी खाना ब्लडप्रेशर के मरीजों के लिए एक अत्यंत चमत्कारी खाद्य है. शरीर में खून के बहाव के साथ श्वास नली की ब्लॉकेज को ठीक करता है. ब्लडप्रेशर की समस्या से जूझ रहे व्यक्ति को प्रतिदिन सुबह नाश्ते के समय बासी रोटी को 10 मिनट ठंडे दूध में भिगोकर खाना चाहिए. जिससे रोगी का ब्लडप्रेशर संतुलित(कंट्रोल) रहता है.

3. पेट के लिये उपयोगी

बासी रोटी खाने से पेट संबधी परेशानी से राहत देता हैं. बासी रोटी में भारी मात्रा में फाइबर पाये जाते है जो शरीर के पाचनतंत्र को मजबूत बनाए रखने में सहायता करते है. अनेकों पेट संबंधी समस्याएं जैसे गैस, कब्ज़, पेट फूलना, एसिडिटी आदि के लिए बासी रोटी एक रामबाण औषधि है. पेट एवं पाचनतंत्र को स्वस्थ रखने के लिए प्रतिदिन दूध के साथ 1 या 2 बासी रोटी का खाना चाहिए.

4. शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में उपयोगी

बासी रोटी के चमत्कारी फायदों में शरीर के तापमान को नियंत्रित रखना एक है. मनुष्य शरीर का सामन्यतः 37 डिग्री सेल्सियस होता है. लेकिन कई कारणों से तापमान में उतार चढ़ाव होता रहता है यदि शरीर का तापमान 40 डिग्री से ज्यादा हो जाता है तो यह शरीर के कई संवेदनशील अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है. ऐसे में बासी रोटी खाने से शरीर का तापमान नियंत्रित रहता है. प्रतिदिन दूध के साथ बासी रोटी खाना चाहिए.

5. बॉडी बनाने में उपयोगी

बासी रोटी का सेवन शरीर(बॉडी) बनाने में भी बेहद उपयोगी है. जिम जाने वाले या व्यायाम (कसरत) करने वाले लोगो को प्रतिदिन बासी रोटी खाना चाहिए. इसके पोषक तत्व न केवल शरीर की मसल्स को मजबूत (स्ट्रांग) करते हैं बल्कि ये ऊर्जा का स्त्रोत भी हैं. 

फोटो सोर्स : सोशल मीडिया

6. वजन नियंत्रित करने में उपयोगी

बासी रोटी शरीर के वजन को नियंत्रित करती है. यह मोटापे को कम करने में मदद करती है. बासी रोटी खाने से पेट की चर्बी कम होती है. यह शरीर के मेटाबॉलिज्म को भी अच्छा बनाती है. इससे भूख भी नियंत्रण में रहती है.

7. शरीर के पोषण में उपयोगी

ताजी रोटी के मुकाबले बासी रोटी में पर्याप्त मात्रा में चमत्कारी पोषण तत्व पाए जाए है. बासी रोटी में मौजूद प्रोटीन और कैल्शियम बोन मैरो को बनाने में सहायता करते हैं, जिससे हड्डियां काफी समय तक लचीली और मजबूत बनी रहती हैं.  इसलिए शरीर को स्वस्थ और सेहतमंद रखने के लिये प्रतिदिन 1 या 2 बासी रोटी अवश्य खाना चाहिए.

इन बातो का अवश्य ध्यान रखें

  • बासी रोटी 12 से 15 घण्टे पुरानी नहीं होना चाहिए. 15 घण्टे से ज्यादा समय तक रखी बासी रोटी खाने से फायदे की जगह नुकसान हो सकता है.
  • बासी रोटी को दूध से ही खाएं. इसे दाल, सब्जी से खाने से बचे क्योंकि बासी रोटी सबसे अधिक दूध के साथ ही लाभदायक होती है.
  • रोटी को साफ जगह पर ढककर रखना चाहिए तथा अगर रोटी में किसी भी प्रकार की बदबू आ रही हो तो इसे नही खाना चाहिए.

इसे भी पढ़े : नाभि पर हल्दी लगाने का फायदा और स्वास्थ्य लाभ | Turmeric Benefits And It’s Uses in Hindi

KAMLESH VERMA

बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका अखबार में सिटी रिपोर्टर पद पर कार्य चुके हैं.

Recent Posts

थावे मंदिर का इतिहास । Thawe Mandir Bihar । थावे मंदिर गोपालगंज बिहार

थावे मंदिर का इतिहास । Thawe Mandir Bihar । थावे मंदिर गोपालगंज बिहार । थावे…

6 hours ago

गोपालगंज उचकागांव थाना क्षेत्र के लुहसी गांव में गोली लगने से युवती मौत

गोपालगंज उचकागांव थाना क्षेत्र के लुहसी गांव में गोली लगने से युवती मौत ।  Gopalganj…

8 hours ago

मुज्जफरनगर में स्थित शुक्रताल धाम का रोचक इतिहास | Shukratal Temple History in hindi

शुक्रताल का इतिहास एवं इससे जुड़ी मान्यताएं क्या हैं (Shukratal Temple (Muzaffarnagar UP) History in…

9 hours ago

सोफी टर्नर का जीवन परिचय | Sophie Turner Biography in Hindi

सोफी टर्नर का जीवन परिचय| Sophie Turner Biography, Wiki, Age, Family, Net worth, Boyfriend, Movies, Awards &…

9 hours ago

Nagda Crime News : फरियादी शोएब ने ही अपने फूफा के 3.50 लाख रुपए लूटे

Nagda Crime News : फरियादी शोएब ने ही अपने फूफा के 3.50 लाख रुपए लूटे…

11 hours ago

सीखिए लहंगा स्टाइल में साड़ी पहनना : आसान 7 स्टेप्स में

सीखिए लहंगा स्टाइल में साड़ी पहनना : आसान 7 स्टेप्स में । how to drape…

17 hours ago