उज्जैन में व्यापारी ने दुकान में फांसी लगाकर की आत्महत्या

0
85

उज्जैन। विवेकानंद कालोनी में रहने वाले व्यक्ति ने कर्जदारों से परेशान होकर रस्सी से अपनी किराना दुकान में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। नीलगंगा पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पीएम कराया और मृतक द्वारा लिखा गया सुसाइड नोट भी बरामद किया है।

प्रशांत पिता बालकृष्ण तिवारी 47 वर्ष निवासी विवेकानंद कालोनी किराना दुकान संचालित करता था और दूसरी मंजिल पर परिवार के साथ रहता था। प्रशांत के मामा सतीश मेहता ने बताया कि घर में कार्यक्रम था जिसके सामान की लिस्ट देने शाम को प्रशांत की दुकान पर पहुंचा। लोगों ने बताया कि दुकान का शटर चार घंटे से बंद है। मकान के रास्ते से दुकान में जाकर देखा तो प्रशांत फांसी के फंदे पर लटका मिला। शव को फंदे से उतारकर अस्पताल लेकर पहुंचे जहां पर चिकित्सक ने प्रशांत को मृत घोषित कर दिया।

परिजनों ने डायल 100 पर घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंचे नीलगंगा थाने के एएसआई ने बताया कि शव को पीएम के लिये जिला चिकित्सालय पहुंचाया और मृतक के कपड़ों की तलाशी में सुसाइड नोट बरामद हुआ है। बताया जाता है कि प्रशांत तिवारी कर्जदारों से परेशान था और अपने सुसाइड नोट में उसने 6 लोगों द्वारा प्रताडि़त किये जाने का उल्लेख किया है। पुलिस का कहना है कि सुसाइड नोट की जांच के बाद कर्जदारों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जायेगा।

इसे भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here