इंटरनेट का मालिक कौन है? Internet Ka Malik Kaun Hai

0
229
internet-ka-malik-kaun-hai

इंटरनेट का मालिक कौन है? इंटरनेट ने इंसान की जिंदगी को इस कदर बदल दिया हैं कि आज हम बिना इंटरनेट के एक पल भी रह पाना मुश्किल है. आज इंटरनेट के बिना जिंदगी अधूरी सी लगती है. दोस्तों इंटरनेट इतना उपयोगी हो गया है कि, लाइफ इमेजिन तक नहीं किया जा सकता है.

क्या आप ने कभी सोचा है कि हमें ये इंटरनेट मिलती कहां से हैं? क्या आप ने कभी सोचा है कि जिस इंटरनेट का उपयोग दुनिया भर के लोग हर पल करते हैं उसके मालिक कौन हैं?

यह सवाल तो आपके भी दिमाग में कुलबुलाता ही होगा, आखिर जिस इंटरनेट का इस्तेमाल पूरी दुनिया करती हैं. इसके मालिक को दुनिया का सबसे अमीर इंसान होना चाहिए क्योंकि इंटरनेट के बिना तो सब कुछ अधूरा हैं तो अमेज़न के मालिक दुनिया के सबसे अमीर आदमी कैसे हो सकते हैं.

यदि आपके मन में भी इस तरह का कोई सवाल हैं तो हमारी यह पोस्ट आपके हर सवाल का जवाब हैं, क्योंकि आज के इस पोस्ट में हम आप को इंटरनेट के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं इस पोस्ट में हम आप को बताएंगे कि इंटरनेट क्या हैं? और इंटरनेट के मालिक के बारे में भी पूरी जानकारी देंगे.

internet-ka-malik-kaun-hai

इंटरनेट क्या है?

इंटरनेट का पूरा नाम interconnected networks हैं. यह Web Server Worldwide का एक बहुत बड़ा नेटवर्क हैं. इसी के चलते world wide web के नाम से भी जाना जाता हैं. आमतौर पर इसे web के नाम से जाना जाता हैं यह एक ऐसा नेटवर्क है जो दुनिया भर के सर्वर से जुड़ा हुआ है.

इंटरनेट एक विश्व व्यापक नेटवर्क है जो दुनिया भर के कंप्यूटर को एक सुदृ नेटवर्क सिस्टम में जोड़ता है. इंटरनेट में कई उच्च-बैंडविड्थ शामिल होते हैं जिसे इंटरनेट का बैकबोन समझा जाता हैं यह एक अत्यंत व्यस्त कंप्यूटर नेटवर्क हैं.

इंटरनेट किसी महाजाल से कम नहीं है. इंटरनेट आज के इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की दुनिया में एक बिल्कुल आधुनिक प्रणाली हैं. इंटरनेट पूरी दुनिया में जानकारी और संचार का एक दूसरे सिस्टम से आदान प्रदान करता है.

इंटरनेट, interconnected networks का एक बड़ा जाल है जो एक दूसरे से जुड़े रहने के लिए standardized communication protocols का इस्तेमाल करता हैं. इंटरनेट एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में TCP/IP Protocol के माध्यम से संबंध स्थापित करता हैं इंटरनेट राउटर एवं सर्वर के माध्यम से दुनिया के सभी कंप्यूटर को आपस में जोड़ता है.

इंटरनेट का मालिक कौन है?

इंटरनेट का मालिक हम सभी है और कोई भी नहीं है. यदि सही माईने में देखा जाए तो कोई भी एक इंसान या संगठन इन्टरनेट का मालिक नहीं है या इन्टरनेट को पूरी तरह से चलाते नहीं है. इन्टरनेट ज्यादा एक concept पर आधारित है बजाय के एक असली tangible entity हो, ये पूरी Internet निर्भर होती है physical infrastructure के ऊपर जो की connect करता है networks को एक दूसरे के साथ में.

असल theory में देखा जाये तो internet पर मालिकाना हक़ उन सभी लोगों का है जो की इसका इस्तेमाल करते हैं directly या indirectly.

internet-ka-malik-kaun-hai

इंटरनेट कहां से आता है?

साधारण शब्दों में कहें तो इंटरनेट एक ऐसा माध्यम हैं जो हमें किसी भी काम करने में मदद करता हैं अगर हम किसी व्यक्ति को मैसेज भेजना चाहते हैं तो वो काम इंटरनेट के जरिए होता है. या फिर अगर हम किसी ब्लॉग पर आर्टिकल पढ़ना चाहते हैं तो यह काम भी इंटरनेट के जरिए होता हैं.

इन सभी कामों को करने के लिए इंटरनेट दूसरे सर्वर को निवेदन भेजता है. जैसे ही यह रिक्वेस्ट सर्वर तक पहुँचता है तो सर्वर आप के रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट कर लेता हैं और जिस चीज का आप ने मांग किया था यानि मैसेज भेजना उसका रिजल्ट आप के फोन या लैपटॉप में तुरंत आ जाता हैं.

इंटरनेट का आविष्कार किसने और कब किया?

इंटरनेट का आविष्कार किस एक व्यक्ति विशेष ने नहीं किया था. इंटरनेट को बनाने में बहुत से साइंटिस्ट व इंजीनियर ने भी अपना सहयोग दिया था सन् 1957 में अमेरिका ने द्वितीय विश्व युद्ध के समय एक खास टेक्नोलॉजी का निर्माण करने के लिए Advanced Research Projects Agency (ARPA) नामक एक एजेंसी की स्थापना की इस टेक्नोलॉजी के मदद से एक कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर से जोड़ा जा सकता था.

सन् 1969 में इस Agency की स्थापना की और अपने नाम पर उन्होंने इस टेक्नोलॉजी को ARPANET का नाम दिया सन् 1980 के शुरूआत में. इस टेक्नोलॉजी का नाम बदलकर Internet रख दिया गया Vinton Cerf और Robert Kahn के द्वारा जब TCP/IP protocol का आविष्कार हुआ तब इस टेक्नोलॉजी को एक नई मोड़ मिली.

इंटरनेट की शुरुवात कब हुई?

इंटरनेट की शुरुवात 1 January 1983 में हुई थी जब इंटरनेट ने TCP/IP protocol को अपने अंदर ले लिया था TCP व IP protocol को अपने अंदर लेकर इस टेक्नोलॉजी ने एक बड़ा नेटवर्क बनाया जिसके कारण इसे “network of networks” के नाम से पुकारा जाने लगा.

भारत में इंटरनेट की शुरुवात कब हुई?

भारत में इंटरनेट की शुरुवात Videsh Sanchar Nigam Limited (VSNL) के द्वारा सन 14 August 1995 में इस नेटवर्क को भारत में लॉन्च किया गया जिसके बाद भारत में भी लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करने लगे.

इंटरनेट का संस्थापक कौन है?

हमारे मन में उठने वाली यह बात की इंटरनेट का मालिक दुनिया का सबसे अमीर व्यक्ति होना चाहिए यह बिल्कुल सही है यकीनन इंटरनेट का कोई मालिक होता तो वह दुनिया का सबसे अमीर आदमी होता लेकिन इंटरनेट का कोई मालिक नहीं है.

इंटरनेट न किसी व्यक्ति से संबंधित हैं और न किसी देश, govt या निजी संस्था से सम्बंधित हैं ये भी कह सकते हैं कि इंटरनेट पूरी तरह मुक्त टेक्नोलॉजी हैं जिसपर किसी एक देश का आधिपत्य नहीं हैं.

अब ये सवाल सामने आता हैं कि इंटरनेट को कौन चलाता हैं? इंटरनेट को 3 TR के द्वारा मेंटेन किया जाता है TR1 में वे कंपनी आते हैं जिन्होंने समुद्र के नीचे sabmarine cable बिछाया हैं.

इन केबल के जरिए इंटरनेट एक device को दूसरे device से जोड़ते हैं इन केबल के जरिए सभी डाटा एक जगह से दूसरी जगह जाते हैं ये कंपनी इंटरनेशनल लेवल पर काम करते है.

TR2 में वे कंपनी आते हैं जो TR1 से कम पैसे में इंटरनेट कनेक्शन खरीद कर ज्यादा पैसे में TR3 को बेचते हैं ये कंपनी नेशनल लेवल पर काम करते है इन कंपनी में रिलायंस जियो, एयरटेल, वोडाफोन जैसे कंपनी आते हैं.

TR3 में वे कंपनी आते हैं जो TR2 से कनेंक्शन लेकर इंटरनेट यूज़र को पहुंचाते हैं मोबाइल के क्षेत्र में तो अब TR3 की जरूरत नहीं पड़ती लेकिन वाईफाई का कनेक्शन लेने के लिए इसकी जरूरत पड़ती हैं.

इसे भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here