प्रेगनेंसी कैलकुलेटर बॉय और गर्ल इन हिंदी

0
34
pregnancy-calculator-boy-or-girl-in-hindi
फोटो सोर्स : सोशल मीडिया

प्रेगनेंसी ( Pregnancy) हर महिला के जीवन का खुशनुमा पल होता है। महिला के गर्भावस्था की सूचना से माता-पिता के साथ घरवालों और रिश्तेदारों में भी काफी उत्सुकता (Baby Boy Pregnancy Test) देखी जाती है। हर कोई जानने की मंशा रखता हैं कि गर्भ में पल रहा भ्रूण लड़की है या लड़का (Baby Boy Pregnancy Test)। मालूम हो कि भारत में भ्रूण का लिंग परीक्षण कराना क़ानूनी अपराध है।

लेकिन, लाख जटिलताओं के बाद भी माता पिता को इस बात की जिज्ञासा रहती है कि, आने वाले नए मेहमान का लिंग क्या है, चलिए आपकों लेख के जरिए प्रेगनेंसी कैलकुलेटर बॉय और गर्ल इन हिंदी । pregnancy calculator boy or girl in hindi के बारे में घरेलू तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं। Also Read  : प्रेगनेंसी में पेठा खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ

हमारे द्वारा बताए गए तरीके भले ही बेहद ही प्राचीन और घरेलु हो सकते हैं, लेकिन सटिक जरूर होंगे। कारण ग्रामीण परिवेश में आज भी इन्हीं तरीकों पर विश्वास कर लोग नन्हें मेहमान के स्वागत की तैयारियां करते हैं। Also Read : सौंफ के लड्डू प्रेगनेंसी के किस महीने में खाना चाहिए

प्रेगनेंसी कैलकुलेटर बॉय और गर्ल इन हिंदी । pregnancy calculator boy or girl in hindi

पेट का आकार :

भारतीय लोगों के बीच एक पुरानी मान्यता है कि मां के पेट के आकार से भ्रूण के लिंग का आसानी से पता लगाया जा सकता है। यदि गर्भवती महिला का पेट आगे की तरफ निकला हुआ है तो हो सकता है कि आपके पेट में बेटा (Baby Boy Pregnancy Test) हो। वहीं दूसरी ओर यदि पेट गोल सुदृढ़ और बड़ा दिखायी पड़ता है तो हो सकता है कि आपके घर एक नन्हीं परी आनेवाली है।

भ्रूण का लात मारना Baby Boy Pregnancy Test:

पेट में पल रहा भ्रूण अक्सर लात मारते ही हैं। लेकिन बच्चा कितनी बार और कहां लात मारता है इससे पुराने लोग आसानी से पता लगाते थे कि, भ्रूण लड़की है या लड़का। लोक किदवंती केअनुसार पेट में भ्रूण यदि पसली के पास लात मारे तो वह लड़की है। इसी प्रकार पेट के निचले हिस्से में लात मारे तो ऐसा माना जाएगा कि आने वाला मेहमान लड़का (Ways to predict baby’s gender) है।

मूड स्विंग Baby Boy Pregnancy Test,:

जर्नल साइकोलॉजी एंड बिहेवियर में छपी एक रिपोर्ट को आधार मानकर चलें तो यह कहना उचित होगा कि, प्रेगनेंसी के पहले ट्राइमेस्टर (पहली तिमाही) के दौरान किसी विशेष बात और दूसरी-तीसरी तिमाही में हर बात पर दुख या पछतावा महसूस होने पर, भ्रूण लड़का होगा। गर्भ में बालिका होने (Ways to predict baby’s gender) पर मां मिली-जुली भावनाएं महसूस करती हैं।

खाने से परहेज करना :

प्रेगनेंसी के दौरान प्रसूताओं को अधिक भूख लगती हैं। कई मामलों में कुछ को खाने से नफरत या परहेज होने लगती है। असल में यह बदलाव बच्चे के लिंग पर भी निर्भर करता है। एक स्टडी की मानें तो जिन प्रसूताओं को भोजन की तीखी गंध या खाना खाने के बाद उल्टी की शिकायत बहुत अधिक होती है उनके गर्भ में लड़का होता है। वहीं अधिक खाना खाने वाली प्रसूताओं के गर्भ में बालिका के होने के चांस होते हैं।

चुनिंदा चीजें खाना:

प्रेगनेंसी के दौरान अधिकांश महिलाओं को मीठा खाना पसंद आता है। यदि गर्भवती को दिनभर मिठाई और आईसक्रीम खाने का मन करता है? तो यह एक लड़की को जन्म देने के संकेत हैं। इसी प्रकार यदि आपको मसालेदार चीजें खाने का मन हो तो समझ जाए कि घर में छोटे नवाब दस्तक देने वाले हैं।

ब्रेस्ट साइज में परिवर्तन:

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिलाओं के ब्रेस्ट्स में भी कई बदलाव देखने को मिलते हैं। यदि प्रसूता के ब्रेस्ट अपने आकार से भारी, मज़बूत और बड़े महसूस हों तो यह बालिका के संकेत हैं, वैसे ही ब्रेस्ट्स में कोई विशेष बदलाव नहीं होता तो हो संभवत: बालक होने के प्रबल संकेत हैं।

बालों का झड़ना Ways To Predict Baby’s Gender:

प्रेगनेंसी के दौरान बालों का झड़ना आम बात हैं। यदि आपके बाल बेजान हो गए हैं और पिम्पल भी हो रहे हैं? तो अगर बड़े-बुज़ुर्गों के अनुसार भ्रूण रुप में एक बेटी है। यदि आपके बालों में बेहद ही अधिक चमक हैं और बाल नहीं झड़ रहे तो आपको बेटा होनेवाला है।

pregnancy-calculator-boy-or-girl-in-hindi
फोटो सोर्स : सोशल मीडिया