Education

स्त्री के बाएं छाती पर तिल होना | Stri Ki Bae Chati Par Til Hone Ka Matlab

प्राचीन समय में मनुष्य के शरीर पर मौजूद तिल रोचक का विषय रहता है। यह भविष्य में होने वाली संभावनाओं का संकेत देता है।

स्त्री के बाएं छाती पर तिल होना | Stri Ki Bae Chati Par Til Hone Ka Matlab

मानव शरीर की संरचना अलग-अलग होती है। सभी मनुष्य का रंग, शरीर का आकार, त्वचा का रंग भिन्न-भिन्न होता है। सभी इंसानों के शरीर के आंतरिक और बाहरी अंगों पर कुछ ऐसे निशान होते हैं, जो उनके भविष्य की आशंकाओं और चरित्र के रहस्यों की जानकारी देने में ज्योतिषों की मदद करते हैं। आपने अपने या किसी अन्य के शरीर पर तिल तो देखा ही होगा। और विचार भी किया होगा आखिर इनका क्या मतलब हो सकता है। तो चलिए आज हम आपको स्त्री की छाती पर तिल होना का एक बहुत बड़ा रहस्य बताते है, जो उनके बारे आपको बहुत कुछ बता सकता हैं, चलिए देर ना करते हुए जानते है।

स्त्री के छाती पर तिल होने का क्या मतलब है?

इंसान शरीर के भिन्न-भिन्न हिस्सों पर अलग-अलग तरह के धब्बे या तिल मौजूद होते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार प्रत्येक तिल का एक विशेष अर्थ यानी की मतलब होता है। वास्तव में इसका क्या मतलब है यह जानने के लिए, आपको सबसे पहले अपने शरीर पर दिखने वाले तिलों को समझने की जरूरत है।

तिल दो प्रकार के होते हैं। एक काला और एक लाल। और दूसरा, तिल जन्म के समय मौजूद होते हैं और समय के साथ आकार में बढ़ते रहते हैं। यह तिल आपके शरीर पर जन्म के साथ ही होते हैं। और मृत्यु के साथ समाप्त होते हैं।

आमतौर पर यदि किसी महिला के बाएं स्तन पर तिल है तो इसका सीधा संबंध कामेच्छा, प्रेम, वासना, शारीरिक सुख, शारीरिक सुख इत्यादि से होता है। इसके अलावा यदि किसी महिला के दाहिने स्तन पर तिल हो तो कुछ मामलों में यह दृढ़ विश्वास और दृढ़ इच्छाशक्ति और साहस की ओर संकेत देता है। यानी महिला बेहद ही साहसी है। हालांकि महिलाओं की छाती के बाईं और दाईं ओर तिल मुख्य रूप से सेक्स, प्यार, शारीरिक सुख, शारीरिक सुख इत्यादि से संबंध रखते हैं।

स्त्री के बाएं छाती पर तिल होना | Stri Ki Bae Chati Par Til Hone Ka Matlab

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि किसी महिला के बाएं स्तन पर तिल होता हैं, तो यह प्यार और यौन इच्छा दोनों को दर्शाता है। और एक बात, आपको यह भी देखना है कि आपकी बाईं छाती पर किस रंग का तिल है।

stri-ki-bae-chati-par-til-hone-ka-matlab
स्त्री के बाएं छाती पर तिल होना

यदि किसी स्त्री के बायें स्तन पर लाल तिल हो तो यह तिल इस बात की ओर संकेत करता है कि ऐसी स्त्री प्रेम या दैहिक सुख या वासना के प्रति उदासीन होती है।

वहीं दूसरी ओर यदि किसी स्त्री के बाएं स्तन पर काला तिल हो तो सामुद्रिक शास्त्र, ज्योतिष और शकुन शास्त्र और प्रश्न शास्त्र आदि के अनुसार यह कामुकता, प्रेम, शारीरिक आकर्षण, शारीरिक सुख और प्रभुत्व को दर्शाता है।

स्त्री के दाई छाती पर तिल होना | Stri Ki Dae Chati Par Til Hone Ka Matlab

दोस्तों यदि किसी महिला के दाहिने सीने पर तिल है, तो इसका अर्थ है कि, आप एक दयालु और अच्छे स्वभाव की महिला हैं। लेकिन इस तरह के दिल का मतलब देर से विवाह करना ही होता है, अर्थात ऐसी बालिका या कन्या के विवाह में रुकावटे आ सकती है। इतना ही नहीं शादी के बाद कई परेशानियां भी आ सकती हैं।

यदि दाहिने स्तन पर एक से अधिक तिल हैं तो इसका अर्थ है कि स्त्री को अपनी पसंद का जीवन साथी बहुत देर से मिलेगा। यदि तिल का रंग लाल है तो इसका अर्थ है कि स्त्री बहुत ही सरल स्वभाव की है और उसे जीवन में बहुत से समझौते करने पड़ सकते हैं।

स्त्री के छाती के मध्य में तिल होने का मतलब

ठीक इसी प्रकार यदि किसी स्त्री के दोनों स्तनों के बीच में तिल हो तो इसका मतलब है कि महिला के लिए गर्भधारण करना मुश्किल है। यदि तिल का रंग लाल है तो यह खराब स्वास्थ्य को दर्शाता है। ऐसी स्त्री को ह्रदय रोग होने की प्रबल संभावना रहती है। यदि तिल का रंग बहुत हल्का होगा तो लोगों के जीवन पर इसका प्रभाव बहुत अत्यधिक प्रभाव नहीं पड़ेगा।

कौन सा तिल स्त्री के लिए धन का संकेत देता है

जिस महिला की कमर पर तिल होता है वह धनवान होने का संकेत दे सकता है। सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार ऐसी महिलाएं अपार धन, यश और वैभव का जीवन जीती हैं। ये जिस क्षेत्र में कार्य करते हैं, वहां प्रसिद्धि और सफलता प्राप्त करती हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के इस लेख में हमने आपको यह बताने की कोशिश की है कि महिला के सीने पर तिल होने का क्या मतलब होता है और शरीर के अलग-अलग हिस्सों पर पाए जाने वाले अलग-अलग तिल को लोग किस तरह शुभ और अशुभ से जोड़कर देखते हैं। आपको ये भी बता दे ये सब जानकारी को एक बार आप अपने ज्योतिष से जरूर पूछे। यदि आपके मन में कोई प्रश्न हैं तो हमें 7000019078 पर वाट्सएप कर पूछ सकते हैं। आपके प्रश्नों का उत्तर देने में हमें बेहद ही खुशी होगी।

इसे भी पढ़े :

KAMLESH VERMA

दैनिक भास्कर और पत्रिका जैसे राष्ट्रीय अखबार में बतौर रिपोर्टर सात वर्ष का अनुभव रखने वाले कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश वर्तमान में साऊदी अरब से लौटे हैं। खाड़ी देश से संबंधित मदद के लिए इनसे संपर्क किया जा सकता हैं।

Related Articles

DMCA.com Protection Status
चुनाव पर सुविचार | Election Quotes in Hindi स्टार्टअप पर सुविचार | Startup Quotes in Hindi पान का इतिहास | History of Paan महा शिवरात्रि शायरी स्टेटस | Maha Shivratri Shayari सवाल जवाब शायरी- पढ़िए सीकर की पायल ने जीता बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सफल लोगों की अच्छी आदतें, जानें आलस क्यों आता हैं, जानिएं इसका कारण आम खाने के जबरदस्त फायदे Best Aansoo Shayari – पढ़िए शायरी