HindiNewsधर्म

गूगल मेरी शादी कब होगी कैलकुलेटर | Google Meri Shadi Kab Hogi

मेरी शादी कब होगी : भारतीय कानून के अनुसार विवाह के लिए लड़कियों की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और लड़कों की 21 वर्ष तय की गई है। ऐसे में हर भारतीय युवती का सपना होता है कि, शादी के बाद उसे राजकुमार के समान दुल्हा मिले। हर भारतीय घर में युवतियों को बचपन से सीखाया जाता है कि, एक राजकुमार घोड़े पर सवार होकर आएगा और उसे डोली में बिठाकर ले जाएगा। विवाह जीवन का एक अभिन्न अंग होता है। वंशानुवली को आगे बढ़ाने के लिए विवाह एक संस्कार होता है। जिसे नकारा नहीं जा सकता है।

हिंदू धार्मिक ग्रंथों में शादी को एक महत्वपूर्ण बंधन माना गया है, जो सात जन्मों के अटूट बंधन के नाम से प्रचलित है। हर लड़का-लड़की इस बारे में अवश्य विचार करता है कि आखिर उनकी शादी कब होगी। इसका कारण है कि, हम सभी अपनी शादी को लेकर के कई सपने संजोए कर रखते हैं। आप भी यदि जानना चाहते हैं कि,

  • गूगल मेरी शादी कब होगी?
  • क्या आपकी शादी हो चुकी है?
  • गूगल तुम्हारी शादी कब होगी?
  • मेरी शादी किससे होगी?
  • मेरे दोस्त की शादी कब होगी?
  • शादी कब होगी कैलकुलेटर

 तो इस आर्टिकल में हम इसी मुद्दे पर विस्तार पूर्वक चर्चा करेंगे। आशा करते हैं आप लेख को अंत तक पूरा पढ़ेंगे। 

मेरी शादी कब होगी | Google Meri Shadi Kab Hogi

चाहे लड़का हो या फिर लड़की हो! सभी अपनी शादी को लेकर के बहुत अधिक उत्साहित होते हैं। कई लोग तो यह जानने में भी रुचि रखते हैं कि आखिरकार कब जाकर उनका विवाह के लिए इंतजार खत्म होगा। कब उन्हें अपना प्यारा पति या फिर प्यारी पत्नी मिलेंगी। इसलिए युवा वर्ग प्रतिदिन बड़े पैमाने पर इंटरनेट पर सर्च करते हैं कि मेरी शादी कब होगी! क्योंकि वह यह जानना चाहते हैं कि आखिर उनकी शादी कौन सी तारीख को होगी अथवा उनकी शादी कौन से साल में होगी ?

पोस्ट के जरिए हम कुछ ऐसी जानकारी आपको बताएंगे जिसके द्वारा आप इस बात का अंदाजा लगा सकेंगे कि आखिर आपकी शादी कब हो सकती है।

शादी कब करनी चाहिए ? 

अधिकांश भारतीय लोग इस बात को जानने के प्रयास में रहते हैं की शादी कब करनी चाहिए। या फिर इस सोच में डूब रहते हैं कि, शादी करने की सही उम्र क्या है, तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, शादी करने की सही उम्र का निर्धारण नहीं किया जा सकता है।

हालांकि भारतीय कानून के तय मापदंडों पर नजर डाला जाए तो, 18 साल होने के बाद आप शादी कर सकते हैं, लेकिन हमारे देश में व्यक्ति अपनी आवश्यकता और परिस्थिति की जरूरतों के अनुसार शादी करता है। कुछ लोगों के ऊपर जिम्मेदारी होती है। इसलिए वह इससे तय उम्र के हो जाने के बावजूद भी शादी के बंधन में बंध जाते हैं, इसके पीछे का कारण है कि, शादी करने के पश्चात उनके ऊपर जिम्मेदारियां बढ़ जाती है जिनकी पूर्ति करने के लिए उन्हें काफी परिश्रम करनी होती है।

इसलिए हर व्यक्ति सोचता है कि वह शादी से पहले अच्छी तरह से आर्थिक तौर पर समृद्ध हो जाए ताकि वह अपनी शादीशुदा जिंदगी को हंसी खुशी से व्यतीत कर सकें।

आपकी (मेरी) शादी कब और किससे होगी ? 

मेरी शादी कब होगी और किससे होगी ? इस सवाल का जवाब पाने के विभिन्न तरीके मौजूद हैं जिनमें से कुछ प्रमुख तरीकों के बारे में हमारे द्वारा आपके साथ साझा किए जाएंगे। जिसके द्वारा आप यह जान सकेंगे कि आप की शादी कब और किससे होने वाली है।

शादी योग कैलकुलेटर, जन्म तारीख से जाने मेरी शादी कब होगी ? 

इस कैलकुलेटर के द्वारा सरलता से अपनी शादी यानी कि अपने विवाह की तिथि के बारे में इंफॉर्मेशन हासिल की जा सकती है। बताते चलें कि, यह केलकुलेटर Numerology Based यानी कि ज्योतिष पर आधारित होता है।

इस केलकुलेटर के द्वारा विवाह की तारीखों की जानकारी दी जाती है। इस कैलकुलेटर के द्वारा इस बात को बताया जाता है कि, दूसरी तारीखों की तुलना में कौन सी तिथि आपके विवाह के लिए योग्य यानी की सटिक है।

केलकुलेटर में जो तारीख मौजूद है उन्हें अलग-अलग बांटा गया है और हर तारीख में संकेत के लिए कलर लगाए गए हैं, वहीं कुछ में कलर नहीं भी है। इस कलर के द्वारा Numerology calculation के तहत कलर की मात्रा दिखाई देती है जिससे यह पता चलता है कि इस महीने में आपके विवाह की कितनी संभावना है।

1: आपकी शादी कब होगी, इसकी कैलकुलेशन करने के लिए आपको नीचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करना है। ऐसा करने से आप एक वेबसाइट पर चले जाएंगे।

विजिट वेबसाइट:https://www.astroved.com/astropedia/en/freetools/marriage-compatibility

2: वेबसाइट पर जाने के पश्चात आपको नीचे दी गई जानकारियों को उनकी निर्धारित जगह में दर्ज करना है।

ENTER GROOM DETAILS  

Name: यहां पर आपको अपना नाम दर्ज करना है।

Birth date: यहां पर आपको अपने जन्म की तारीख, जन्म का महीना और जन्म का साल दर्ज करना है।

Birth time: अपने जन्म का समय यहां डालें।

Birth Country: अपने देश का नाम यहां डालें।

Birth location: जिस जगह आप पैदा हुए उस जगह का नाम यहां डालें।

ENTER BRIDE DETAILS

Name: यहां पर आपको लड़की का नाम डालना है।

Birth date: यहां पर लड़की के पैदा होने की तारीख, महीना और साल को दर्ज करें।

Birth time: यहां पर लड़की के पैदा होने के समय को दर्ज करें।

Birth Country: लड़की जिस देश में पैदा हुई उस देश का नाम यहां लिखें।

Birth location: लड़की जिस जगह पर पैदा हुई उस जगह का नाम यहां लिखें।

3: उपरोक्त सभी जानकारियों को भरने के पश्चात आपको नीचे नारंगी रंग के बॉक्स में जो सबमिट वाली बटन दिखाई दे रही है उसी बटन पर क्लिक कर देना है।

4: अब आपकी स्क्रीन पर रिजल्ट आ चुका होगा जिसमें दी गई जानकारियों को आप देख सकते हैं। अब आपको इस जानकारी को लेकर के किसी ज्योतिष के पास जाना है और उन्हें यह जानकारी दिखानी है।

जिसके बाद ज्योतिष के द्वारा गणना करके यह बताया जाएगा कि आप दोनों का विवाह कितना पर्सेंट संभव है और आप दोनों का विवाह कब तक करवाना शुभ रहेगा अथवा आप दोनों के विवाह की तारीख कौनसी रखी जाए ताकि शुभ विवाह संपन्न हो।

जन्म कुंडली से कैसे जाने आपकी शादी कब होगी ? 

किसी भी हिंदू ज्योतिष के द्वारा जब आपकी जन्म कुंडली की गणना की जाती है तो यह यह देखा जाता है कि, आपका सातवां घर कैसा है। क्योंकि कुंडली के सातवें घर में ही विवाह संबंधित जानकारी होती है। इसे देखने के बाद ही विवाह के योग व तिथि के बारे में पता लगाया जाता है। सातवें घर में यह जानकारी होती है कि, आपकी शादी कब, किस उम्र में होगी और आपका वैवाहिक जीवन कैसा रहेगा।

  • किसी भी युवक युवती की कुंडली के सातवें घर में यदि शुभ ग्रह बैठे हुए हैं जैसे- शुक्र, बुध, गुरु और चंद्र तो इसका मतलब यह है कि आपके विवाह में कोई भी बाधा या दिक्कत नहीं आएगी।
  • किसी इंसान की कुंडली के सातवें घर में अगर मंगल, केतु, राहु, शनि जैसे ग्रह बैठे हुए हैं तो इसका मतलब यह है कि आपको अपने वैवाहिक जीवन में बहुत अधिक दिक्कतों और परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
  • बुध ग्रह अगर व्यक्ति की कुंडली में सातवें घर में बैठा हुआ है तो इसका मतलब यह होता है कि लड़का अथवा लड़की की शादी 20 साल से लेकर के 25 साल की उम्र में संपूर्ण हो जाएगी।
  • व्यक्ति की कुंडली के सातवें घर में अगर चंद्र, शुक्र या फिर गुरु ग्रह बैठा हुआ है तो इसका मतलब यह होता है कि व्यक्ति की शादी 25 साल से लेकर के 27 साल की उम्र के बीच होगी।
  • यदि लड़का या फिर लड़की की कुंडली के सातवें घर में केतु, राहु अथवा मंगल में से कोई भी ग्रह बैठा हुआ है तो 28 साल के बाद व्यक्ति की शादी होगी ऐसा माना जाता है।
  • व्यक्ति की कुंडली में अगर सातवें घर में अशुभ ग्रह बैठे हुए हैं तो व्यक्ति की शादी 32 साल से लेकर के 40 साल की उम्र के बीच होती है।

विवाह बाधा दूर करने का मंत्र | Vivah Badha Dur karne ka Mantra in Hindi

नाम से जाने आपकी/मेरी शादी कब होगी ? 

अपने नाम के द्वारा अपने विवाह का समय जानने के लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप को फॉलो करें।

  • सबसे पहले तो हिंदी भाषा में स्वयं का नाम लिख लेना है।
  • जिस दिन आप यह गणना कर रहे है उस दिन की तारीख को भी लिख लेना है।
  • अब आपको अपना नाम देखना है और इस बात की जानकारी प्राप्त करनी है कि आपके नाम में कितने पूर्ण और कितने आधे शब्द मौजूद हैं। जो आधा शब्द मौजूद है उसे पूर्ण शब्द के तौर पर गिने और मात्रा की कैलकुलेशन बिल्कुल भी ना करें।
  • अब आपके नाम में जितने शब्द आए हैं, उनका कैलकुलेशन करें और उसे 9 से गुणा कर दें जिसके बाद आपको कुछ अंक हासिल होंगे।
  • अब आज की जो तारीख है उसकी तारीख, महीना और साल तीनों को ही जोड़ देना है, जैसे कि, 30+01+2022 = 2053
  • अब 9 से गुणा करने के बाद जो परिणाम हासिल हुए थे और आज की जो तारीख के परिणाम आपको मिले हुए हैं उसे आप को आपस में जोड़ देना है। ऐसा करने पर आपको एक बड़ी संख्या प्राप्त होगी।
  • आपको जो बड़ी संख्या मिली हुई है उसे आप को 4 से भाग कर देना है। 4 से भाग करने के पश्चात आपको यह देखना है कि कितना शेषफल बचा हुआ है।

यदि 1 शेषफल बचा हुआ है तो इसका अर्थ है कि आपका विवाह अगले साल होने वाला है। अगर शेषफल 2 बचा हुआ है तो इसका मतलब है कि अभी आपके विवाह में थोड़ी सी देरी है क्योंकि आपके प्रमुख ग्रह मंगल और गुरु बन रहे हैं।

इसी प्रकार यदि शेषफल 3 आता है तो इसका अर्थ यह है कि अगले 1 साल के अंदर ही आपका विवाह हो जाएगा और यदि शेषफल 0 आता है तो इसका मतलब यह है कि आपके विवाह में देरी होगी।

और वह इसलिए हो रहा है क्योंकि केतु, राहु या फिर शनि का कोई दोष है। इसके लिए आपको दैनिक तौर पर हनुमान जी का स्मरण करना चाहिए और हनुमान चालीसा अथवा हनुमान वडवानल स्त्रोत का पाठ करना चाहिए।

अपने दोस्त को शादी की बधाई के लिए पत्र 

मेरी शादी किससे होगी ? 

देखिए इसके बारे में कोई भी नहीं बता सकता है क्योंकि भविष्य कोई भी व्यक्ति नहीं देख सकता है फिर चाहे वह कोई जानकार पंडित ही क्यों न हो। हालांकि पंडित के द्वारा अथवा ज्योतिष के द्वारा आपके भविष्य का अंदाजा लगाया जा सकता है।

कई बार यह अंदाजा सही साबित हो जाता है। हालांकि इसके लिए ज्योतिष का तपोबल अधिक होना चाहिए। हालांकि जब आपका रिश्ता तय हो जाता है तब तो आपको यह पता ही चल जाता है कि आखिर आपकी शादी किससे होने वाली है और जब शादी के कार्ड छप जाते हैं तो यह भी पता चल जाता है कि आपकी शादी कौन सी तारीख को होगी।

जल्दी शादी होने के उपाय 

यदि आपकी शादी में देरी यानी कि विलंब हो रहा है तो यहां पर हम आपको कुछ ऐसे उपाय बता रहे हैं जिसे करने पर अवश्य ही शीघ्र अति शीघ्र आपके विवाह का रिश्ता पक्का हो जाएगा फिर आपको यह पूछने की आवश्यकता नहीं होगी कि मेरी शादी कब होगी।

 गुरुवार का उपाय

जल्दी शादी करने के लिए आपको गुरुवार के दिन नहाने के पानी में एक चम्मच गंगाजल डालना है और एक चम्मच हल्दी पाउडर डालना है। इस पानी से आपको नहा लेना है और उसके बाद भीगे कपड़े में ही आपको सूर्य देव को एक तांबे के लोटे में लाल गुड़हल का फूल डालकर पानी देना है और उनसे विवाह की कामना करनी है। देखिए कैसे जल्द से जल्द आपका रिश्ता तय होता है।

केसर का उपाय  

गुरुवार के दिन नहाने के पानी में एक चम्मच गंगाजल और थोड़ा केसर डालकर के अगर आप स्नान करते हैं तो इससे भी जल्दी विवाह के योग बनते हैं। हालांकि पहला लोटा जल अपने सर पर डालने से पहले सूर्य देव को अवश्य प्रणाम करें और अपनी कामना मन के अंदर बोले।

भगवान विष्णु को जल दें 

किसी लड़की की अगर शादी नहीं हो रही है और वह अपने लिए सुयोग्य पति पाना चाहती है तो मान्यता है उसे गुरुवार के दिन सुबह नहा धोकर एक तांबे के लोटे में पानी भरना चाहिए। उसमें एक चम्मच गंगाजल डालना चाहिए तथा थोड़ी-सी चीनी अथवा मिश्री डालनी चाहिए और विष्णु जी का नाम लेकर इसे जमीन पर छोड़ देना चाहिए और मन ही मन अपनी कामना उनसे कहना चाहिए। ऐसा करने से शीघ्र ही आपको खुशखबरी मिलेगी।

गाय को रोटी खिलाएं 

सुबह अपने रसोई की पहली रोटी पर गुड और घी लगाकर आपको इसे रोजाना गाय को खिलाना चाहिए। ऐसा करने से 2 महीने के अंदर ही आपको पॉजिटिव परिणाम दिखाई देंगे क्योंकि गाय को कामना पूर्ति अथवा इच्छा पूर्ति का वरदान मिला हुआ है।

किसी भी देवी देवता की पूजा जोड़े में करें  

जल्दी विवाह के लिए आपको राधा-कृष्ण या फिर भोले और पार्वती की पूजा जोड़े में करनी चाहिए और उनसे मन ही मन अपनी कामना कहनी चाहिए। ऐसा करने से जल्द ही आपका रिश्ता पक्का हो जाएगा।

FAQ: 

M नाम से जाने शादी कब होगी? 

इस प्रश्न का सटिक उत्तर कोई ज्योतिष ही अथवा पंडित ही आपकों दें सकता है। 

विवाह योग कैसे जाने ? 

आप ऑनलाइन कुंडली देखने वाला एप्लीकेशन के द्वारा अपनी कुंडली बना सकते हैं और उसे किसी ज्योतिष को दिखा कर बेहतर तरीके से यह जान सकते हैं कि विवाह योग कब बन रहा है। 

कैसे पता करे की शादी कब होगी? 

आपकी शादी कब होगी, इसके बारे में आप किसी ज्योतिष के द्वारा सलाह ले सकते हैं। वह ग्रह, नक्षत्र और कुंडली को देख करके इस बात का सटीक अनुमान लगा सकते हैं कि आपका विवाह कब बनने का योग है। 

KAMLESH VERMA

दैनिक भास्कर और पत्रिका जैसे राष्ट्रीय अखबार में बतौर रिपोर्टर सात वर्ष का अनुभव रखने वाले कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश वर्तमान में साऊदी अरब से लौटे हैं। खाड़ी देश से संबंधित मदद के लिए इनसे संपर्क किया जा सकता हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status
पान का इतिहास | History of Paan महा शिवरात्रि शायरी स्टेटस | Maha Shivratri Shayari सवाल जवाब शायरी- पढ़िए सीकर की पायल ने जीता बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सफल लोगों की अच्छी आदतें, जानें आलस क्यों आता हैं, जानिएं इसका कारण आम खाने के जबरदस्त फायदे Best Aansoo Shayari – पढ़िए शायरी