Newsसेहत

पथरी काे जड़ से कैसे खत्म करें, लगातार 7 दिन करने पर पाएं छुटकारा

पथरी काे जड़ से कैसे खत्म करें, लगातार 7 दिन करने पर पाएं छुटकारा । Pathri Ko Jad Se Kaise Khatam Kare

भारत देश में करोड़ों लोग किडनी स्टोनी यानी कि पथरी की बीमारी से परेशान हैं. इसका प्रमुख कारण है वर्तमान समय का अधिक तेल वाला भोजन. खानपान के कारण पेट में दर्द, जल्द थकान होना जैसी परेशानियां आती है. पथरी की मुख्य वजह हमारे यूरीन में मौजूद नमक और अन्य खनिज होते हैं. जिनके एक-दूसरे के संपर्क में आने से इनका आकार बढ़ जाता है. लिहाजा किडनी के अंदर छोटे-छोटे पत्थर बन जाते हैं. जब पथरी का आकार बड़ा होने लगता है तब पेट में असहनीय दर्द होने लगता है. इन छोटे-छोटे पत्थरों को गुर्दे की पथरी कहा जाता है. इसका आकार अलग-अलग हो सकता है। इन छोटे पत्थरों का आकार बड़ा होने के कारण पेशाब के जरिए शरीर के बाहर निकल पाते.  कुछ घरेलू उपचार करने से आप इस बीमार से बच सकते हैं.यदि आप इन घरेलु उपायों को करते है तो जल्दी ही आपको पथरी व इसके दर्द से छुटकारा मिल जाएगा. चलिए पोस्ट के जरिए जानें पथरी काे जड़ से कैसे खत्म करें, लगातार 7 दिन करने पर पाएं छुटकारा । Pathri Ko Jad Se Kaise Khatam Kare

pathri-ko-jad-se-kaise-khatam-kare

पथरी काे जड़ से कैसे खत्म करें, लगातार 7 दिन करने पर पाएं छुटकारा । Pathri Ko Jad Se Kaise Khatam Kare

  • अन्नानास एक माह में खत्म कर देगा पथरी : अन्नानास पथरी के मरीजों के लिए एक रामबाण फल है. अन्नानास का सेवन करने और उसका जूस पीने से एक माह में ही पथरी गल कर निकल जाती है. इसके अलाव आप खीरा का सुबह शाम आधा गिलास रस निकाल कर उसका सेवन करने से 15 दिन में ही पथरी की समस्या से निपट सकते हैं.
  • बथुआ करेगा आपकी मदद : खेतों में मुफ्त में मिलने बथुआ पथरी के मरीजों के लिए बहुत ही लाभकारी होता है. आधा किलो बथुआ की साग को उबाल कर छान लें। इस पानी में काली मिर्च, जीरा और सेंधा नमक मिलाकर चार बार पीने से फायदा होता है.
  • केले से पथरी का उपचार : पथरी की समस्या से बचने के लिए केला खाना चाहिए.कारण इसमें विटामिन बी 6 होता है. विटामिन बी 6 ऑक्जेलेट क्रिस्टल को बनने से रोकता है साथ ही उसे नष्ट भी करता है.
  • करेला के रस का इस्तेमाल- पीने में करेला का रस बेहद कड़वा होता है लेकिन पथरी के इलाज में यह रामबाण की तरह कार्य करता है. करेले में मैग्नीशियम और फॉस्फोरस जैसे तत्व होते हैं, जो यूरिन में पथरी बनने से रोकता हैं.
  • नींबू से पथरी का इलाज- पथरी के दर्द से बचने के लिए 60 मिली नींबू के रस में उतनी ही मात्रा में आर्गेनिक जैतून का तेल के मिलाकर पी लें. ऐसा करने से काफी आराम मिलता है. लगातार नींबू के रस का सेवन करने से ये बीमारी खत्म हो जाती है.
  • आम के ताजे पत्तों को छांव में सुखाएं, उसके बाद उन्हें बारीक पीस लें. जिसके बाद रोजाना सुबह बासी पानी के साथ उनका सेवन करें. पथरी की परेशानी में छुटकारा पाने मदद मिलेगी.
  • नारियल पानी नियमित रूप से पीएं, इससे भी पथरी गल के धीरे-धीरे बाहर होने में मदद मिलेगी.
  • वाइन : रेड वाइन पथरी_के इलाज में बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है. डॉक्टर्स भी पथरी होने पर वाइन पीने की सलाह देते हैं. प्रतिदिन आधा गिलास वाइन का प्रयोग लाभप्रद है.
  • यह न खाएं : पथरी होने पर कैल्शियम अधिक मात्रा में लेने से बचें। पालक, टमाटर और दूध से बनी चीजों को खाने से बचना चाहिए.

newsmug

इसे भी पढ़े :

Ravi Raghuwanshi

रविंद्र सिंह रघुंवशी मध्य प्रदेश शासन के जिला स्तरिय अधिमान्य पत्रकार हैं. रविंद्र सिंह राष्ट्रीय अखबार नई दुनिया और पत्रिका में ब्यूरो के पद पर रह चुकें हैं. वर्तमान में राष्ट्रीय अखबार प्रजातंत्र के नागदा ब्यूरो चीफ है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status
पान का इतिहास | History of Paan महा शिवरात्रि शायरी स्टेटस | Maha Shivratri Shayari सवाल जवाब शायरी- पढ़िए सीकर की पायल ने जीता बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सफल लोगों की अच्छी आदतें, जानें आलस क्यों आता हैं, जानिएं इसका कारण आम खाने के जबरदस्त फायदे Best Aansoo Shayari – पढ़िए शायरी