मूर्ति क्षतिग्रस्त करने पर मध्य प्रदेश के बड़नगर में तनाव

0
240
ujjain-news-tension-in-madhya-pradeshs-badnagar-on-damaged-statue
एसिड डालकर इस प्रकार क्षतिग्रस्त की गई बजरंग बली की प्रतिमा.

मूर्ति क्षतिग्रस्त करने पर मध्य प्रदेश के बड़नगर में तनाव ( Ujjain News: Tension in Madhya Pradesh’s Badnagar on damaged statue)

उज्जैन. मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले की बड़नगर तहसील में मंगलवार सुबह सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई. हनुमानजी की मूर्ति पर एसिड डालकर कुछ असामाजिक तत्वों ने उसे क्षतिग्रस्त कर दिया. घटना की जानकारी लगने पर आक्रोशित हिंदूवादी संगठनों ने प्रदर्शन कर बड़नगर में प्रवेश करने के सभी मार्गों पर चक्का जाम कर दिया. प्रशासन ने भी स्थिति को नियंत्रित करने के लिए बड़नगर में आने-जाने वाले मार्गाें को बैरिकेड कर आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया है.

मामला इस कदर बिगड़ गया कि, छात्रों की मंगलवार की प्री-बोर्ड की परीक्षा रद्द कर दी गई. दंगे की स्थिति को देखते हुए व्यापारियों ने बाजार बंद कर दिए. व्यापारियों ने उपज मंडी में भी मंगलवार को पूरा दिन कारोबार बंद रखा. कस्बे में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दी गई है. पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज से असामाजिक तत्वों की पहचान करने में जुटी है. वहीं, कोर्ट चौराहे पर धरने पर बैठे हिंदूवादी संगठनों के लोगों को धरना समाप्त करने के लिए प्रशासन के अधिकारियों को काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा.

थाना प्रभारी बड़नगर को एसपी ने किया लाइन अटैच

डीएम आशीष सिंह व एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल भी बिगड़ती स्थिति को देख बड़नगर पहुंचे हैं. स्थिति तनावपूर्ण, लेकिन नियंत्रण में बताई जा रही है. एसपी शुक्ल ने लापरवाही बरतने पर थाना प्रभारी बड़नगर सतनाम सिंह को तत्काल प्रभाव से लाइन अटैच कर दिया है. कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला बल व आसपास के थानों का पुलिस बल मौके पर तैनात किया गया है.आक्रोशित लोगों ने डाबरी इलाके में सुबह एक धार्मिक स्थल पर पथराव कर दिया था. स्थिति बेकाबू होती, इससे पहले पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर नियंत्रित कर लिया.

दूसरी ओर कलेक्टर सिंह ने भी चेतावनी दी है कि सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. बड़नगर में स्थिति सामान्य है. डीएम ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने का अनुरोध किया है. इससे पहले स्थिति बिगड़ती देख एएसपी डॉ रवींद्र वर्मा, एएसपी आकाश भूरिया और एसडीएम योगेश भरसटे ने स्थिति को संभाला.

संत डॉ. अवधेश पुरी के विवादित बोल

स्वस्तिक पीठ के संत डॉ. अवधेश पुरी ने बड़नगर की घटना को बेहद ही शर्मनाक बताया है. संत ने कहा है कि, पांच मार्च को भी मंदिर को नुकसान पहुंचाया गया था. समय रहते यदि बड़नगर पुलिस ने कोई ठोस कार्रवाई की होती तो सोमवार की बीती रात यानी 8 फरवरी 2021 को घटना दोहराई नहीं जाती.

ujjain-news-tension-in-madhya-pradeshs-badnagar-on-damaged-statue
एसिड डालकर इस प्रकार क्षतिग्रस्त की गई बजरंग बली की प्रतिमा.

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय प्रमुख संगठन मंत्री डॉ नरेंद्र सिंह राजावत ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि इस तरह की घटनाओं से हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचा है. प्रशासन ने एहतियात बरतने के लिए बड़नगर की चारों सीमाओं पर बैरिकेड कर कस्बे में प्रवेश और निकास वाले उज्जैन, रतलाम, बदनावर और लोहाना मार्गों पर रोक लगा दी है.

इसे भी पढ़े :