NewsUttar Pradesh

रामकोला धर्मसमधा दुर्गा मंदिर की पूरी कहानी, जानें क्या है इतिहास | Ramkola Uttar Pradesh Dharmasamadha Durga Temple

रामकोला उत्तर प्रदेश धर्मसमधा दुर्गा मंदिर की पूरी कहानी, जानें क्या है इतिहास । Ramkola Uttar Pradesh Dharmasamadha Durga Temple Full Story, Know What is History

मंदिरों की गाथा गाने वाले उत्तर प्रदेश में अनेकों देवी मंदिर है. पौराणिक इतिहास को अपने गर्भ में समेटे हुए मंदिरों की कहानियां आपके दिलों को छू जाएगी. उत्तर प्रदेश के हर मंदिर की अपनी अलग कथा, कई पौराणिक किवदंतियों को बयां करती है तो कुछ वास्तविक घटनाओं को कलयुग में जीवित रखे हुए है.

आज हम पोस्ट के जरिए उत्तर प्रदेश के कप्तानगंज में स्थित रामकोला धर्मसमधा दुर्गा मंदिर की कहानी बताने जा रहे है. कहानी एक राजकुमारी कि है कि, जिसके पति की मृत्यु रहस्मयी ढ़ग से हो जाती है, मौत से आहत होकर राजकुमारी सती हो जाती है, जिन्हें वर्तमान में लोग दुर्गा सती माता के रुप में पूजते है.

चारो ओर पोखर से घिर मंदिर में दर्शन मात्र से आत्मिक शांति की अनुभूति होती है. अविवाहिताओं के दर्शन करने से सुयोग्य वर की प्राप्ति होती है. मंदिर पहुंचने के लिए आप देश के किसी भी कोने से रेलमार्ग की सहायता से रामकोला पहुंच सकते है, इसके लिए आपको पहले गोरखपुर जंक्शन तक सफर करना होगा, जिसके बाद लोकल पैसेंजर ट्रेन, बस या निजी ट्रैक्सी से मंदिर तक पहुंचा जा सकता है. चलिए जानते हैं, धर्मसमधा दुर्गा मंदिर की पूरी कहानी……………..

करीब 500 साल पूर्व की बात हैं कुस्मही गांव में राजा मदनपालसिंह पाल राज करते थे. विवाह के उपरांत राजा के घर में एक कन्या ने जन्म लिया. कन्या को माता का स्वरूप मानकर उसकी जन्मकुंडली राज पुरोहित को दिखवाई. कुंडली देख के राज पुरोहित चौक गए और राजा को बताया कि, बालिका की कुंडली में विवाह दोष है.

ramkola-uttar-pradesh-dharmasamadha-durga-temple-full-story-know-what-is-history

पुरोहित ने राजा को बताया कि, विवाह के बाद कोहबर में कन्या के पति को बाघ (शेर) मार देगा, जिससे उसके पति की मौत हो जाएगी. चिंतित राजा ने राज पुरोहित से इस समस्या के समाधान के बारे में पूछा, तो राज पुरोहित ने इस परेशानी का निदान करते हुए बताया कि, विवाह स्थल से मंडल तक एक सुंदर भवन बनवाया जाएं और उसके चारों ओर पोखरा (तालाब) का निर्माण करवाया जाए.

ramkola-uttar-pradesh-dharmasamadha-durga-temple-full-story-know-what-is-history

जिससे शेर छलांग लगाकर कोहबर तक ना पहुंच सके. जिस स्थान पर विवाह मंडप और पोखर बनवाया गया था वहीं स्थान वर्तमान में रामकोला स्थित धर्मसमधा दुर्गा मंदिर के नाम से प्रसिद्ध है. धीरे-धीरे समय बीतता गया और कन्या के विवाह का दिन नजदीक आया.

विवाह संपन्न हुआ दो दिनों बाद कोहबर का समय आया तो राजकुमारी अपने पति को कोहबर में लेकर गई. कोहबर में जब राजकुमार को नाउन (हजामिन) ने उबटन (बुकवा) लगाया तो मजाक करते हुए हल्दी के पिंड को एकत्र कर एक शेर बनाया, अब होनी को कुछ और ही मंजूर था.

ramkola-uttar-pradesh-dharmasamadha-durga-temple-full-story-know-what-is-history

जैसे ही हजामिन के राजकुमार से मजाक करते हुए कहा कि, यह शेर है, और हजामिन के मुंह से शेर शब्द निकला, हल्दी का पिंड सच मुच का शेर बन गया और राजकुमार को मारडाला. यह घटना पूरे राज्य में आग की तरह फैल गई, राजकुमारी को जब इस बात का पता चला तो वह अपने पति के शव को गोद में लेकर चीता पर बैठ गई और सती हो गई.

इसे भी पढ़े :

 गोवर्धन पूजन के मंत्र 
 वक्रतुंड महाकाय मंत्र
 ॐ यन्तु नद्यो वर्षन्तु पर्जन्या
 प्रतिवेदन किसे कहते हैं?
एकात्मता स्तोत्र, मंत्र अर्थ विद्या प्राप्ति के लिए सरस्वती मंत्र
 हिंदी लोक में खोजें, ज्ञान
कराग्रे वसते लक्ष्मी मंत्र
बुखार उतारने का मंत्र निबंध लेखन की परिभाषा
प्रधानमंत्री जी को पत्र कैसे लिखें आवेदन पत्र क्या होते हैं 
 ATM कार्ड के लिए पत्र
खाता खुलवाने के लिए पत्र

KAMLESH VERMA

दैनिक भास्कर और पत्रिका जैसे राष्ट्रीय अखबार में बतौर रिपोर्टर सात वर्ष का अनुभव रखने वाले कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश वर्तमान में साऊदी अरब से लौटे हैं। खाड़ी देश से संबंधित मदद के लिए इनसे संपर्क किया जा सकता हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status
चुनाव पर सुविचार | Election Quotes in Hindi स्टार्टअप पर सुविचार | Startup Quotes in Hindi पान का इतिहास | History of Paan महा शिवरात्रि शायरी स्टेटस | Maha Shivratri Shayari सवाल जवाब शायरी- पढ़िए सीकर की पायल ने जीता बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सफल लोगों की अच्छी आदतें, जानें आलस क्यों आता हैं, जानिएं इसका कारण आम खाने के जबरदस्त फायदे Best Aansoo Shayari – पढ़िए शायरी