जल में रहने वाले जीवों के नाम संस्कृत में | Aquatic (Water) Animals Name in Sanskrit

0
440
aquatic-water-animals-name-in-sanskrit
Aquatic (Water) Animals Name in Sanskrit

जल में रहने वाले जीवों के नाम संस्कृत में | Aquatic (Water) Animals Name in Sanskrit

धरती पर रहने वाले जीवों की भांति ही कुछ जीव पानी में रहते हैं इन्हें जलीय जीव के नाम से जाना जाता है. इन जलीय जीवों की हजारों प्रजातियाँ पाई जाती है. इस आर्टिकल में हम जल में रहने वाले जीवों के नाम संस्कृत में जानेंगे. जब कभी जलीय जीवों की बात होती है तो हमारे दिमाग में सबसे पहले मछली का ही नाम आता है चूँकि मछली ऐसी जलीय जीव है जिसे मांसाहारी लोग भोजन के रुप में ग्रहण करते है. दक्षिण भारत में विटामिन का प्रमुख स्त्रोत मछली ही है. कुछ ऐसे भी जलीय जीव होते हैं जो जल में रहने के साथ-साथ जमीन पर भी रहते हैं इनमें मेंढक, सांप आदि होते है. जलीय जीव अपना भोजन जल में रहने वाले छोटे जीवों को खाकर प्राप्त करते हैं।

क्या आप जानते हैं की जलीय जीव किस तरह से जल में सांस लेते है? आइए हम इस लेख के जरिए इस बारे में चर्चा करते हैं कि किस तरह से जलीय जीव जल में रह कर आसानी से ऑक्सीजन ग्रहण करते हैं.

aquatic-water-animals-name-in-sanskrit
Aquatic (Water) Animals Name in Sanskrit

इसमें सर्वप्रथम मछली का नाम आता है जो सांस लेने के लिए अपने गिल का इस्तेमाल करती है. गिल मछली के शरीर में बनी एक प्रकार की संरचना होती है जब मछली पानी में सांस लेने के लिए मुंह खोलती है तो ऑक्सीजन के साथ साथ पानी भी मछली के मुंह में प्रवेश कर जाता है. मछली के मुंह में उपस्थित पानी को गिल द्वारा बाहर निकाल दिया जाता है. जिससे मछली आसानी से जल से ऑक्सीजन प्राप्त कर लेती है.

ठीक इसी प्रकार से और भी जलीय जीव है जो पानी में रहकर भी आसानी से ऑक्सीजन ग्रहण कर लेते हैं जिनमें घड़ियाल मगरमच्छ, कछुआ, सांप, केकड़ा आदि शामिल है. ये सभी जीव सांस लेने के लिए पानी की ऊपरी सतह पर आ जाते है एवं कुछ देर रुक कर सांस लेते हैं.

आइए अब हम संस्कृत भाषा में कुछ जल रहने जीवों के नामों को जानते हैं | Aquatic (Water) Animals Name in Sanskrit

जलीय जीवो के संस्कृत नाम जलीय जीवो के हिंदी नाम
मत्स्य: मछली
अष्टभुज: ऑक्टोपस
नारादग्राह: शार्क
शिशुमार डॉल्फिन
कर्कट: केकड़ा
मरकी मगरमछ
सर्प: सांप
मंडूक: मेंढक
शम्बूक: घोंघा
कच्छपी कछुआ
पँखहीन पेंगुइन
नक्षत्रमीन: नक्षत्र मछली
शुक्ति: शीप
जल व्याघ्र: जल व्याघ्रा
वडवा: दरियाई घोड़ा

आपने हमारे इस आर्टिकल में जल में रहने वाले जीवो के संस्कृत नामों को जाना, इसी प्रकार हमारी न्यूजमग.इन  वेबसाइट पर आपको और भी जानकारी संस्कृत में उपलब्ध कराई गई है जैसा कि संस्कृत में हिंदू लड़कियों के चयनित नाम अर्थ सहित, इनके बारे में पढ़के आप संस्कृत भाषा की मधुरता से रूबरू होंगे.

आप चाहे तो इन्हें भी पढ़े सकते है :

लेटेस्ट न्यूज़, के लिए न्यूज मग एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here