होली कब है 2023 में | Holi Kab Hai 2023 mein (Holika Dahan)

0
60
holi kab hai 2023 mein

होली कब है 2023 में | Holi Kab Hai 2023 mein : सनातन धर्म का प्रमुख पर्व होली फाल्गुन माह में मनाया जाता है. इस साल होली 08 मार्च 2023, बुधवार को मनाई जाएगी. होली भारतीय लोगों के प्रसिद्ध त्योहारों में से एक है. होली (Holi 2023) से एक दिन पहले होलिका दहन (Holika Dahan) होता है. जिसके दूसरे दिन लोग एक दूसरे को रंग लगाकर पर्व की शुभकामनाएं देते हैं. चलिए अब जानते है की 2023 में होली कब है – Holi Kab Hai 2023 Mein

holi kab hai 2023 mein

2023 में होली कब है – Holi Kab Hai 2023 Mein

2023 mein Holi Kab Hai – सनातन पंचांग के अनुसार होली का त्यौहार, फाल्गुन माह की पूर्णिमा तिथि को मनाया जाता है. साल 2023 में होली 08 मार्च, बुधवार के दिन मनाई जाएगी, इसे भारतीय लोग धुलैंडी और बड़ी होली के नाम से जानते हैं. वर्ष 2023 की होली के लिए होलिका दहन 07 मार्च को किया जायेगा, जिसे बहुत सी जगह पर छोटी होली भी बोला जाता है.

होली क्यों मनाई जाती है – होली की दर्जनों लोक कथाएं प्रचलित है.इसकी मुख्य कथा के अनुसार एक नगर में हिरण्यकश्यप नाम का दानव राजा हुआ करते थे. जो लोगों से भगवान की पूजा छोड़कर उनकी था. जिसके चलते राजा से प्रजा बेहद ही दुखी थी. राजा का एक पुत्र प्रह्लाद था. जो कि भगवान विष्णु का बहुत बड़ा भक्त था. हिरण्यकश्यप ने भक्त प्रहलाद को बुलाकर राम का नाम न जपने को कहा तो प्रहलाद ने स्पष्ट रूप से कहा कि मैं नहीं लूंगा.

यह बात सुनकर अहंकारी हिरण्यकश्यप क्रोधित हो उठा और उसने सिपाहियों से बोला कि इसको ले जाओ मेरी आँखों के सामने से और जंगल में सर्पों में डाल आओ. सर्प के डंसने के कारण मेरा पुत्र मृत्यु को प्राप्त हो जाएगा. सिपाहियों ने राजा के आदेश का पालन करते हुए ठीक ऐसा ही किया गया. परंतु प्रहलाद मरा नहीं, क्योंकि सर्पों ने डसा नहीं.

होलिका दहन मुहूर्त 2022 का समय – Holika Dahan 2022 Muhurat Ka Samya in Hindi

होलिका दहन वाले दिन, महिलाएं होलिका की पूजा दोपहर के समय करती है और संध्या के समय पुरुष होलिका दहन करते है. दहन संपूर्ण होने के बाद लोग गले मिलकर एक दूसरे को पर्व की शुभकामनाएं देते हैं और गुलाल लगाते है. साल 2023 में होलिका दहन का मुहूर्त समय कुछ इस प्रकार है –

  • होलिका दहन मुहूर्त – 6 बजकर 24 मिनट से 8 बजकर 51 मिनट तक
  • कुल अवधि – लगभग 2 घंटे 26 मिनट तक
  • भद्रा पूंछ – 01:02:09 से 02:19:29 तक
  • भद्रा मुख – 02:19:29 से 04:28:23 बजे तक

इसे भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here