बकायादार विद्युत उपभोक्ताओं के नाम सार्वजनिक कर संपत्ति होगी जब्त

0
18
nagda-news-public-tax-assets-will-be-seized-in-the-name-of-outstanding-power-consumers
बकायादार विद्युत उपभोक्ताओं के नाम सार्वजनिक कर संपत्ति होगी जब्त

विद्युत कंपनी ने 2500 किसान उपभोक्ताओं को दिया नोटिस, 175 की संपत्ति जब्त की

नागदा। क्षेत्र के बकयादार बिजली उपभोक्ताओं से राशि वसूलने के लिए अब विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बकायादार उपभोक्ताओं का नाम सार्वजनिक कर उनकी संपत्ति कुर्क करेगी। यह कार्यवाही ग्रामीण क्षेत्र में सिंचाई उपभोक्ताओं पर करना प्रारंभ कर दी है और हजारों किसान उपभोक्ताओं को नोटिस जारी लगभग 150 से अधिक किसानों की संपत्ति की कुर्क भी कर दी है।

विद्युत वितरण कंपनी की इस कार्यवाही से ग्रामीण क्षेत्रों में हड़कंप मच गया है कई किसानों ने अपनी संपत्ति भी अन्य स्थानों पर छूपा दी है। इस कार्यवाही का कई किसानों ने विराेध भी किया किसानों का कहना है कि एक माह बाद गेहूं, चने की फसल बाजार में आ जाएगी उसके बाद राशि जमा कर दी जाएगी, लेकिन विद्युत कंपनी द्वारा किसानों की इस दलील का दरकिनार कर कार्यवाही कर रही है।

मालामाल कर सकते हैं कपूर के शक्तिशाली टोटके और उपाय

10 करोड़ की राशि बकाया

विद्युत वितरण कंपनी का नागदा शहर में संभागीय कार्यालय है। इस के अधिन नागदा शहर, ग्रामीण, खाचरौद, उन्हेल, घिनोद समेत लगभग 218 गांव शामिल है। इन समस्त क्षेत्रों में घरेलू, व्यवसाय, लघु उद्योग के लगभग 8 हजार उपभोक्ताओं पर 10 करोड़ की राशि बिजली के बिल की बकाया है। इन में सबसे अधिक राशि सिंचाई के उपभोक्ताओं पर है, इन पर लगभग 6 करोड़ से अधिक की राशि बकाया है।

2500 किसानों को दिया नोटिस

वसूली अभिभायन के तहत विद्युत कंपनी द्वारा अभी सिंचाई उपभोक्ताओं पर अधिक ध्यान दिया जा रहा है। जिन उपभोक्ताओं पर 50 हजार से अधिक कि राशि बकाया है उन को नोटिस जारी कर राशि जमा करने का कहा जा रहा है। साथ ही इन के नाम भी सार्वजनिक किए जा रहे हैं।

nagda-news-public-tax-assets-will-be-seized-in-the-name-of-outstanding-power-consumers
बकायादार विद्युत उपभोक्ताओं के नाम सार्वजनिक कर संपत्ति होगी जब्त

गांव में पंचायत भवन पर इन के नाम चस्पा किए जा रहे है। नोटिस के बाद भी यदि राशि जमा नहीं कि जा रही है तो उन उपभोक्ताओं की संपत्ति कुर्क कि जा रही है। विद्युत कंपनी द्वारा पूरे संभागीय क्षेत्र में अभी तक 2500 किसानों को नोटिस जारी किए जा चुके है। इन में से 175 किसानों की संपत्ति कुर्क भी कि जा चुकी है। हालांकि लगभग 62 किसानों ने राशि जमा करा कर अपनी संपत्ति मुक्त करा ली है। इन किसानों से अभी तक विद्युत कंपनी ने 2 करोड़ से अधिक की राशि वसूली है।

क्या-क्या संपत्ति की जा रही है कुर्क

नोटिस जारी होने के बाद राशि जमा नहीं करने वाले किसानों की संपत्ति टीवी, जनरेटर, ट्रांसफार्मर, पानी की विद्युत मोटर, मोटर पंप, टेक्टर आदि कृषि संबंधित यत्र जब्त किए जा रहे है। विद्युत वितरण कंपनी के नागदा ग्रामीण प्रभारी सौरभ गोस्वामी ने नेत्तृव में रविवार को गांव खजुरिया से टीम ने राकेश प्रजापत को जनरेटर सेट जब्त किया। इसी प्रकार गांव गुराडिया पित्रामल ट्रांसफर्मर जब्त किया गया है। रमेश प्रजापत पर 17 हजार व गुराडिया के किसानों पर 1 लाख 80 हजार रु बकाया है।

इनका कहना

विद्युत कंपनी द्वारा वसूली अभियान प्रारंभ किया गया है। पूरे क्षेत्र से 10 करोड़ रु राशि लगभग 8 हजार उपभोक्ताओं से वसूलना है। अभी तक 2500 किसानों को नोटिस जारी कर 175 किसानों की संपत्ति कुर्क कि गई है।

केतन रायपुरिया, संभागीय अभियंता

विद्युत वितरण कंपनी, नागदा