जन्म के तुरंत बाद बनवा सकेंगे अपने बच्चे का Aadhaar Card

0
182
how-to-apply-aadhar-card-for-newborn-baby-online-steps-and-required-documents

Aadhaar Card भारतीय नागरिक होने की पहली और राष्ट्रीय पहचान है. तमाम प्रकार के सरकारी और गैर सरकारी संस्थानों में आधार कार्ड को ही पहले प्राथमिकता दी जाती है. आधार सभी प्रकार के पहचान पत्र के लिए बेहद ही आवश्यक दस्तावेज है. अब तक भारत में 5 साल से अधिक की उम्र वालों का ही आधार कार्ड बनता था, लेकिन इस बार सरकार की ओर से नियमों में संशोधन करते हुए नया नियम पारित कर दिया गया है जिसके तहत किसी भी आयु के बच्चे का आधार कार्ड बनवाया जा सकता है. यानि बच्चा पैदा के 1 दिन बाद ही उसका आधार कार्ड बना दिया जाएगा.

how-to-apply-aadhar-card-for-newborn-baby-online-steps-and-required-documents

ऐसे बहुत से लोग हैं तो बच्चा पैदा होने के बाद विभिन्न तरह की सरकारी स्कीम के लिए आवेदन करते हैं. इन शासकीय योजनाओं का लाभ उठाने के लिए बच्चे का आधार कार्ड हो तो सारे कार्य आसानी से हो जाते हैं. जैसे- बैंक अकाउंट खुलवाना, सरकारी योजनाएं जैसे सुकन्या समृद्धि योजना, लाडली योजना इत्यादि के लिए आधार कार्ड होतो बेहतर माना जाता है. ऐसे ही कार्यो को सरल करने के लिए अब नवजात शिशु का भी आधार कार्ड प्राप्त किया जाता है.

ऐसे बनवाए अपने बच्चे का आधार कार्ड

1. अपने लाडले पुत्र या पुत्री का आधार कार्ड पाने के लिए सबसे पहले UIDAI की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। इसके लिए (यहां क्लिक करें)

2. जिसके बाद यहां Book an Appointment सेक्शन में आधार रजिस्ट्रेशन लिंक पर क्लिक करना होगा.

3. जिसके बाद मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी के जरिये अपने रजिस्ट्रेशन की शुरूआत करनी होगी, इसलिए अपनी ईमेल आईडी या मोबाइल नंबर में से कोई भी विकल्प चुन सकते हैं.

4. नया फॉर्म अप्लाई करने का ऑप्शन आएगा, यहां अपने बच्चे के नाम भरें। ध्यान रहे कि बच्चे के नाम की स्पेलिंग सही हो. यदि बर्थ सर्टिफिकेशट में नाम है तो वहीं नाम भरें.

5. यहां कंफर्म करने के लिए अपना मोबाइल नंबर और दर्ज की गई ईमेल आईडी को वेरिफाई करें.

6. वेरिफिकेशन के बाद अपने नजदीकी आधार सेंटर्स की लिस्ट में से अपने नजदीक आधार सेंटर को चुनें और वहां जाने के लिए अपॉइंटमेंट ले लें. ऑनलाईन प्रोसेस का यह अंतिम पड़ाव है, इसके बाद सभी कार्य सेंटर पर जाकर ही करने होंगे.

7. अपॉइंटमेंट की तय हुई तारीख और समय पर चुने गए आधार सेंटर पर जाना होगा जिसके लिए अपने सभी तक के डाक्यूमेंट्स लेकर इक्ट्ठे कर लें.

8. आधार सेंटर पर माता या पिता में से किसी एक के आधार कार्ड को मांगा जाएगा और सभी आवश्यक डाक्यूमेंट्स वहां जमा कराने होंगे.

9. डाक्यूमेंट्स जमा कराने के बाद उन्हें वेरिफाई किया जाएगा और वेरिफिकेशन के बाद आपके बच्चे के नाम का आधार कार्ड जारी कर दिया जाएगा.

10. यहां फिर से याद दिला दें कि इस पूरे प्रोसेस में माता-पिता या फिर बच्चे में से किसी का भी बायोमैट्रिक डाटा नहीं लिया जाएगा.

यह डाक्यूमेंट्स हैं जरूरी

नवजात शिशु का आधार कार्ड पाने के लिए माता या पिता किसी का भी आधार कार्ड होना बेहद ही जरूरी है. साथ ही बच्चे का बर्थ सर्टिफिकेट या फिर अस्पताल द्वारा बनाया गया जन्म प्रमाण पत्र आधार कार्ड बनावाने के लिए मांगा जाएगा, इसका होना भी जरूरी है. मालूम हो कि, अब तक 5 वर्ष के अधिक आयु वाले बच्चे का ही आधार कार्ड बनता था जिसे ‘बाल आधार कार्ड’ कहा जाता था. लेकिन अब 1 दिन के नवजात का भी अपना आधार कार्ड बनावाया जा सकेगा.

इसे भी पढ़े :

लेटेस्ट नागदा न्यूज़, के लिए न्यूज मग एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।