त्वचा के जल जानें पर तुरंत अपनाएं ये तरीके

0
135
how-to-get-rid-of-a-blister-and-know-about-skin-burn-home-remedies-in-hindi
फोटो सोर्स : गूगल

घरेलु काम काज के दौरान कई बार महिलाओं की त्वचा जल जाती है। जलने से लाल निशान और दर्द होता है। रसोई में कूकर की तेज भाप, धूप, गर्म तरल पदार्थ आदि के कारण त्वचा जल (Skin Burn) जाती है। यदि समय रहते उपचार नहीं किया गया तो यह छाले का रुप ले लेती है। ऐसे में पता होना चाहिए कि जलने पर दर्द, जलन और छाले को बनने से कैसे रोंके। आज का लेख हमारा त्वचा के जल जाने के विषय पर हैं। हम आपको लेख के जरिए बताएंगे कि आप किन तरीकों से इस जलन से राहत पा सकते हैं। चलिए पढ़ते हैं आगे..

how-to-get-rid-of-a-blister-and-know-about-skin-burn-home-remedies-in-hindi
फोटो सोर्स : गूगल

1 – एलोवेरा से करें जलने का इलाज

प्रकृति की अनमोल देन एलोवेरा के अंदर एस्ट्रिजेंट गुण मौजूद होते हैं जो त्वचा के जलने पर आयुर्वेद औषधि का कार्य करते है। जल जाने पर आप एलोवेरा के जेल का सीधा प्रयोग कर सकते हैं। जेल को जले हुए स्थान पर लगाएं। इसके अलावा एक चम्मच एलोवेरा जेल में हल्दी को मिलाएं और जली त्वचा पर लगाएं। दर्द में तुरंत आराम मिलेगा।

2 – शायद का करें प्रयोग

शहद में एंटीबायोटिक गुण होते हैं, जो घाव को ठीक करने के साथ-साथ जलन से दर्द में राहत देते हैं। ऐसे में आप शहद को प्रभावित स्थान पर लगाएं। दर्द में आराम मिलेगा। 

3 – लैवेंडर तेल से करें जलने का इलाज

लैवंडर तेल में एंटीसेप्टिक और दर्द को कम करने वाले तत्व मौजूद होते हैं। ऐसे में जलने के निशान को जड़ से खत्म करने में यह तेल लगाया जाना बेहद ही कारगर है। पानी में लेवेंडर तेल की 5 बूंदे डाले। इसमें कपड़े को भिगोएं और कई बार जले हुए स्थान पर सेकें। शहद में लेवेंडर तेल की कुछ बूंदों को मिलाकर प्रभावित स्थान पर लगा सकते हैं।

4 – सिरके से ठीक करें जलने का निशान

सिरके में एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं जो ना केवल संक्रमण को फैलने से रोकते हैं बल्कि जलने हुए भाग पर दाग धब्बे होने से भी रोकने में भी बेहद मददगार हैं। सफेद सिरका या सेब का सिरका पानी में घोलकर जले हुए स्थान पर लगाने से आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें : नाभि में हल्दी लगाने के फायदे

5 – प्याज के रस से जलन हो दूर

प्याज के रस में सल्फर यौगिक और क्वेरसेटिन गुण मौजूद होते हैं जो दर्द से छुटकारा दिलाने में बेहद ही मददगार हैं। त्वचा पर होने वाले फफोले को खत्म करने के लिए प्याज को टुकड़े में काटे और प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।

6 – नारियल तेल और नींबू का रस

नारियल तेल में विटामिन ई और फैटी एसिड पाया जाता हैं, जो कि एंटीऑक्सीडेंट, एंटी बैक्टीरियल, एंटी कवक गुणों से भरपूर होते हैं। दूसरी ओर नींबू के रस में अम्लीय गुण मौजूद होते हैं जो निशान को हल्का करते हैं। नारियल के तेल में थोड़ा-सा नींबू का रस निचोड़ लें और प्रभावित स्थान पर लगाने से दर्द में जल्द आराम मिलता  है।

इसे भी पढ़ें : नाभि में हल्दी का तिलक लगाने से क्या लाभ होता है?

7 – कच्चे आलू का उपयोग

कच्चे आलू मेंअंदर एंटी इरिटेटिंग गुण पाए जाते हैं जो त्वचा को जलने के बाद जलन से दूर रखते हैं। आप कच्चे आलू का टुकड़ा जली हुई जगह पर लगाएं। आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़े : नाभि पर इत्र लगाने के फायदे

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here