अक्ल दाढ़ का दर्द सताए तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

0
13
emedy-for-wisdom-tooth-pain

यदि आपकी अक्ल दाढ़ आ चुकी है तो आपको इसके दर्द से भली भांति परिचित होंगे. और यदि आपकी अक्ल दाढ़ अभी तक नहीं आई है तो आपको बता दें कि ये काफी दर्दभरा अनुभव होता है. अधिकांश लोगों की अक्ल दाढ़ (विस्डम टुथ) 17 से 25 साल के बीच में आ जाती है लेकिन कई लोगों में ये 25 के बाद भी आती है. ये हमारे मुंह के सबसे आखिरी, मजबूत दांत होते हैं और सबसे अंत में आते हैं. Remedy For Wisdom Tooth Pain

अक्‍ल दांत, दांत के ऊपरी और नीचले मोलर्स (दाढ़) में होता है. जब करीब-करीब सभी दांत निकल जाते हैं तब वयस्क होने पर यह दांत उभरने लगता है। 17 साल की उम्र के बाद चार बुद्धि दांत निकलते हैं. बुद्धि दांत जब एक ही कतार में नहीं निकलते तो बहुत ही कष्टदायी देते हैं. इनका आकार कभी बहुत बड़ा या बेतरकीब हो सकता है. अक्सर बुद्धि दांत जीभ और जबडे़ में गड़ते हैं जिससे दर्द होता है. कई बार तो आदमी इसका दर्द बर्दाश्त नहीं कर पाता और इसको उखड़वाना ही अंतिम उपाय होता है.

emedy-for-wisdom-tooth-pain

आपकों सबसे पहले तो यह जानना बेहद ही जरूरी है कि विस्डम टुथ आने के पहले दर्द क्यों होता है. असल में विस्डम टुथ सबसे आखिरी में आते हैं और इसके चलते उन्हें मुंह में पूरी जगह नहीं मिल पाती. इसकी वजह जब ये दांत आते हैं तो बाकी के दांतों को भी पुश करते हैं. इसके साथ ही मसूड़ों पर भी दवाब बनता है. इस वजह से दांतों में दर्द, मसूड़ों में सूजन और असहजता की शिकायत हो जाती है.

इस दौरान न केवल तेज असहनीय दर्द होता है बल्क‍ि कई बार मुंह से दुर्गंध, खाने में तकलीफ और सिर दर्द की परेशानी भी बढ़ जाती है. अक्ल दाढ़ का दर्द किसी भी समय हो सकता है और ये कम से कम एक या दो दिन तक तो रहता ही है. ऐसे में आप चाहें तो इन घरेलू उपायों को अपनाकर इस दर्द से राहत पा सकते हैं.

emedy-for-wisdom-tooth-pain

लौंग :

दांत के दर्द के लिए हममें से ज्यादातर लोग घर की रसोई में मौजूद लौंग का उपयोग करते हैं. अक्ल दाढ़ निकलने के दौरान भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. इसका anesthetic और analgesic गुण दर्द को कम करने में सहायक होता है. इसके अलावा इसका एंटी-सेप्टिक और एंटी-बैक्टीरियल गुण भी इंफेक्शन नहीं होने देता है. आप चाहें तो दर्द के दौरान कुछ लौंग के दानें मुंह में रख सकते हैं या फिर उसके तेल का भी उपयोग कर सकते हैं.

नमक :

दांत दर्द में नमक का इस्तेमाल करना भी बहुत फायदेमंद होता है. ये मसूड़ों की जलन को कम करने में मददगार है. इसके अलावा नमक के इस्तेमाल से इंफेक्शन का खतरा भी कम हो जाता है.

लहसुन :

लहसुन में antioxidant, antibiotic, anti-inflammatory और दूसरे कई औषधीय गुण पाए जाते हैं जो अक्ल दाढ़ के दर्द को कम करने में मदद करते हैं. ये मुंह के बैक्टीरिया को भी पनपने नहीं देता.

emedy-for-wisdom-tooth-pain

प्याज :

प्याज में एंटी-सेप्ट‍िक, एंटी-बैक्टीरियल और दूसरे कई गुण पाए जाते हैं. इसके इस्तेमाल से दांत दर्द में आराम मिलता है. ये मसूड़ों को भी इंफेक्शन से सुरक्षित रखने में मददगार है.

अमरूद की पत्त‍ियां :

अमरूद की पत्तियां दांत दर्द में दवा की तरह काम करती हैं. अमरूद की पत्त‍ियों में anti-inflammatory और antimicrobial गुण भी पाया जाता है जो दांत दर्द में फायदेमंद है.

इसे भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here