अगर जलने पर बनने वाला फफोला गलती से हाथ से फुट जाए तो क्या होता है और क्या करना चाहिए?

 अगर जलने पर बनने वाला फफोला गलती से हाथ से फुट जाए तो क्या होता है और क्या करना चाहिए?

सांकेतिक तस्वीर सोर्स गूगल

अगर जलने पर बनने वाला फफोला गलती से हाथ से फुट जाए तो क्या होता है और क्या करना चाहिए? What happens if a blister that burns is accidentally removed from the hand?

उबलते पानी से भरा बर्तन हाथ से जरा सा फिसल जाए। यदि आपका हाथ आग से तप रही गर्म भट्‌टी को छू जाए। ऐसे मामलों में अक्सर हाथ जल जाता है। अब क्या किया जाए ? यह सवाल हमने इमरजेंसी मेडिकल के विशेषज्ञ प्रोफेसर श्वेटफान ओपरमान (इमरजेंसी मेडिकल इंस्ट्यूटी हैम्बर्ग) से पूछा। लेख के जरिए हम आपकों बताने जा रहे है कि अगर जलने पर बनने वाला फफोला गलती से हाथ से फुट जाए तो क्या होता है और क्या करना चाहिए?

सबसे आसान है नल का पानी। इसका तापमान 10 से 20 डिग्री सेल्सियस होता है। और यह ठीक है जले हुए हाथ को बर्फ से ठंडा नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे नुकसान झेल चुके उत्तकों को और ज्यादा नुकसान पहुंचता है। जले हुए स्थान पर बर्फ लगाने  से फफोले की समस्या होगी। जले हुए स्थान को बर्फ से ठंडा करने के बाद कोई क्रीम या जेल या दवा लगाने से बेहतर है।

what-happens-if-a-blister-that-burns-is-accidentally-removed-from-the-hand
सांकेतिक तस्वीर सोर्स गूगल

एलोवेरा जैसे पौधे की मदद ली जाए ? और क्या दही भी फफोले बनने से रोक सकता है। प्रोफेसर श्वेटफान ओपरमान का सुझाव अलग है।  प्रोफेसर श्वेटफान ओपरमान का तर्क है कि यदि झुलसन ज्यादा है तो कोई क्रीम ना लगाएं। इससे चोट में इंफेक्शन फैल सकता है। और फिर इस बात का अंदाजा लगाना मुश्किल होगा कि नुकसान कितना हुआ है।

घर पर मौजूद कई चीजों से भी इंफेक्शन हो सकता है जैसे दही, शहद या कोई भी क्रीम। इनसे कोई मदद नहीं मिलती बल्कि इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। लेकिन एलोवेरा का रस अच्छी दवा है। इसे बेहतर माना जाता है। इसमें एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं। जो शरीर के बाहरी घावों को जल्द से जल्द भरने में बेहद ही कारगर होते हैं। इसे जरूर इस्तेमाल किया जा सकता है।

सीबीसीएफआई के प्रोफेसर फ्रांक बिग्सवा एलोवेरा के इसी गुण के इसे जले हुए स्थान पर लगाने की सलाह देते है। लेकिन चमत्कार की उम्मीद नहीं करना चाहिए। एलोवेरा जले हुए स्थान को केवल ठंडा करने वाला होता है। जलने से हुए घाव पर इसका कोई असर नहीं होता है।

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post