UP में छह युवकों पर 30 साल की महिला से गैंगरेप का आरोप, वीडियो बनाकर 300 रुपए में बेच रहे थे

0
149
up-30-year-old-dalit-women-allegedly-gangraped-by-six-and-assaulted-video-was-sold-among-local-people
केस बदायूं का है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश के बदायूं में 30 साल की दलित महिला से कथित गैंगरेप का मामला प्रकाश में आया है. गैंगरेप का आरेाप कुल छह युवकों पर हैं. आरोप है कि इन्होंने महिला के साथ दुष्कर्म किया और  पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाकर महिला को धमकाने लगे. युवकों द्वारा वीडियो भी वायरल कर देने की धमकी दी जाने लगी. पीड़िता महिला ने किसी से कुछ नहीं कहा. इसी बीच हुआ यूं कि आरोपियों ने महिला का वीडियो 300-300 रुपये में लोगों को बेचना शुरू कर दिया. जब इस बात की भनक महिला को लगी तो उसने पुलिस को शिकायत की. पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. इन छह आरोपियों में से पांच नाबालिग हैं, जिनकी उम्र 15 से 17 साल के बीच है.

इसे भी पढ़े : अभिभाषक संघ-टीआई विवाद का पटाक्षेप, एसपी ने जांच के दिए आदेश

दरअसल पूरा मामला साल 2020, अक्टूबर का है. महिला दलित वर्ग से है. वह जंगल में लकड़ी बीनने के लिए गई हुई थी. इसी दौरान वहां बैठे छह युवकों में से पांच ने उसका गैंगरेप किया और एक ने पूरी घटना का वीडियो बना लिया. दुष्कर्म के बाद महिला को डरा धमका कर वापस भेज दिया. ये भी कहा कि अगर किसी को बताया तो उसका वीडियो वायरल कर दिया जाएगा.

अब करीब तीन माह बीतने के बाद 28 जनवरी 2021 को महिला को पता चला कि उसका वीडियो लोगों को 300-300 रुपए लेकर बेचा जा रहा है, तब वो फौरन थाने पहुंची और वहां पर उसने आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराते हुए पूरी बात बताई. महिला डोमेस्टिक वर्कर का काम करती है. महिला का पति गाड़ी खींचने का काम करता है.

SSP संकल्प शर्मा ने बताया –

जब महिला जंगल में लकड़ी बीनने गई थी, उसी दौरान यह घटना हुई. गैंगरेप का जो वीडियो आरोपियों ने बनाया, उसे अपने दोस्तों में सर्कुलेट कर दिया था. मामला सामने आने पर शिकायत FIR दर्ज कर ली गई है. सभी को गिरफ्तार भी किया जा चुका है. पांच नाबालिग हैं, तो उन्हें जुवेनाइल होम भेजा गया. एक जिसने वीडियो बेचा था, उसे बदायूं जिला जेल भेजा गया है. वहीं महिला का स्टेटमेंट रिकॉर्ड करके मेडिकल कराया जा चुका है. और जिला प्रशासन को इस पूरे मामले की जानकारी दी गई है, जिससे पीड़िता को SC/ST एक्ट के तहत मुआवजा मिल सके.

पूरे मामले में यूपी पुलिस ने SC/ST एक्ट, IPC की धारा 376-D (गैंगरेप) और 506 (आपरधाकि धमकी) और IT एक्ट की धारा 66E के तहत केस दर्ज किया है. मामले में आगे की जांच कर रही है.

Newsmug App: नागदा और देश-दुनिया की खबरें, अपडेट्स और सेहत की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NEWSMUG ऐप। आपके नागदा का  लोकल न्यूज एप।

Google News पर हमें फॉलों करें.