आपकी ब्रा के स्ट्रैप आपकी ड्रेस के बाहर नहीं झलकें: जानें बेहद ही प्रभावी टिप्स

आपकी ब्रा के स्ट्रैप आपकी ड्रेस के बाहर नहीं झलकें: जानें बेहद ही प्रभावी टिप्स । Tricks to Ensure Bra Straps are not Visible in hindi

रोजमर्रा की जिंदगी में कई बार अनेक कारणों से आपकी ब्रा के स्ट्रैप कंधों पर ठीक से फिट नहीं हो पाती, और गले से झांकती हुई दिखाई देती हैं, जो बेहद भद्दा लगने के साथ साथ आपके पूरे साज संवार पर पानी फेर देता है. कई बार यह परेशानी ऐसी जगह आती है कि, हमें शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है. खैर चिंता की कोई बात नहीं आज हम आपको कुछ ऐसे आसान उपाय बताने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप इस समस्या से बहुत हद तक निजात पा सकती हैं। चलिए जानते हैं क्या हैं उपाय-

न्यूड ब्रा:

न्यूड ब्रा का मतलब है आपकी त्वचा के रंग से हुबहू मेल खाती ब्रा. इसे आवश्यक रूप से आपने साथ रखें. इस प्रकार की ब्रा किसी भी तरह की ड्रेस के नीचे छिप जाती है. खास कर सफेद रंग के ब्लाउज, टॉप या ड्रेस के नीचे सदैव न्यूड ब्रा पहनने की आदत बनाए. बेहद ही पारदर्शी फैब्रिक की ड्रेस के नीचे भी न्यूड ब्रा आवश्यक रूप से पहने.

सिलिकॉन ब्रा:

यह ब्रा स्ट्रैपरहित ब्रा होती है जिनके कप में सिलिकॉन लगा होता है. इसकी अंदरूनी सतह पर चिपकने वाला पदार्थ होता है, जो ब्रा को वक्ष स्थल पर टिका रहता है. यह सिलिकॉन ब्रा बैकलेस, गहरे गले के ब्लाउज़, टॉप या ड्रेस अथवा ऑफ़ शोल्डर टॉप अथवा ड्रेस के नीचे पहनने का बेहतरीन विकल्प होती है. सिलिकॉन ब्रा आरामदेह होती हैं.
इसे कभी-कभी ही पहनना चाहिए कारण इसे पहनने से आपको इरिटेशन की परेशानी हो सकती है. ध्यान रहे कि, नियमित रूप से पहनने से आपको को एलर्जिक रिएक्शन भी हो सकता है. इस ब्रा को 8 घंटे से अधिक देर तक कतई नहीं पहनना चाहिए.

पारदर्शी स्ट्रैप वाली ब्रा:

आजकल बाजार में पारदर्शी (ट्रांसपेरेंट स्ट्रैप) वाली ब्रा भी आती हैं, जो अपनी पारदर्शिता के कारण आपके ब्लाउज, टॉप अथवा ड्रेस के गले से नहीं झांकती.

सही फ़िटिंग की ब्रा पहनें:

हमेशा आप सही शेप और साइज़ की ब्रा पहनें. ब्रा के कप का साइज़ भी मानक होना चाहिए. सही कप साइज़ की ब्रा नहीं पहनने से उसके स्ट्रैप कंधों पर अच्छी तरह से फिट नहीं होंगे, जिससे उनके आपके ब्लाउज़, टॉप या ड्रेस की नेकलाइन पर बाहर दिखने के चान्स अधिक रहती है.

मैचिंग कलर की ब्रा पहने:

अपनी ब्रा के स्ट्रैप को आपके गले से झांकने से बचाने के लिए अपने ब्लाउज, टॉप अथवा ड्रेस के रंग की ब्रा खरीदने की आदत बनाएं. ऐसा करने पर यदि आप बड़े गले के ब्लाउज़ अथवा स्पेगेटी टॉप या स्लीवलैस टॉप अथवा ड्रेस पहनेंगी, तो वे बाहर दिखने पर भी बेकार नहीं लगेंगी.

स्ट्रैप होल्डर:

अपने ब्लाउज, टॉप या ड्रेस मैं गले के दोनों तरफ छोटे-छोटे स्ट्रैप होल्डर सिलवाएं, जिससे आपकी ब्रा के स्ट्रैप उनके भीतर रह सकें और गले से बाहर न दिखें. स्ट्रैप होल्डर छोटी-छोटी संकरी पट्टी होती हैं जो गले के दोनों तरफ कंधे पर एक तरफ से सिली हुई होती हैं और दूसरी ओर उसमें एक टिच बटन या हुक लगा होता है.स्ट्रैप होल्डर की सहायता से आप के स्ट्रैप इन के भीतर रहेंगे और बाहर नहीं दिखेंगे.

सेफ्टीपिन अथवा पेपर पिन का उपयोग:

एक गहरे मुड्डो वाला स्लीवलेस ब्लाउज़, ड्रेस अथवा रेसर बैक टैंक टॉप पहनने जा रही हैं, और आप चाहती हैं कि आप की ब्रा के स्ट्रैप किसी को नहीं दिखाई दें, तो इसके लिए आप पीठ पर ऊपर की ओर एक सेफ्टीपिन अथवा पेपर क्लिप का इस्तेमाल कर दोनों स्ट्रैप को सेफ़्टीपिन अथवा पेपर क्लिप में घुसा दें. इस प्रकार पिन या क्लिप में घुसाने से आपके स्ट्रैप टैंक टॉप के संकरे ऊपरी हिस्से के भीतर छुप जाएंगे और बाहर कतई नहीं दिखाई देगी.

ब्रा क्लिप:

यदि आप अपनी पीठ पर ब्रा के दोनों स्ट्रैप्स को सेफ्टीपिन या पेपर क्लिप की मदद से उन्हें छिपाने के ख्याल से असहज महसूस करती हैं, तो उस स्थिति में ब्रा क्लिप एक अच्छा ऑप्शन है. इसकी मदद से आपकी पीठ पर दोनों स्ट्रैप पास पास आ जाएंगे और आप अपना रेसर बैक टैंक टॉप अपने स्ट्रैप के पीछे से दिखाई देने का डर नहीं रहेगा.

कन्वर्टर:

यदि आप बहुत डीप बैक का ब्लाउज, टॉप अथवा कोई ड्रेस पहनना चाहती हैं तो उस स्थिति में एक ब्रा स्ट्रैप कनवर्टर जरूर खरीदें. यह कनवर्टर आपकी ब्रा की बैक पट्टी से जोड़ कर उन्हें नीचे रखेगा, जिससे आपकी ब्रा का पिछला हिस्सा पीछे की गहरी नेक लाइन से नहीं झलकेगा.

इसे भी पढ़े :
Manisha Palai

भुवनेश्वर, उड़िसा की रहने वाली मनीषा फिलहाल MCA की पढ़ाई कर रही हैं. फैशन, कुकिंग और मेकअप टिप्स के बारे में मनीषा को महारथ हासिल है. लिखने के शौक को उड़ान देने के लिए मनीषा newsmug.in के साथ जुड़ी हैं.

Recent Posts

इंश्योरेंस क्लेम कैसे करते है? Insurance Claim Process In Hindi

इंश्योरेंस क्लेम कैसे करते है? Insurance Claim Process In Hindi भविष्य में आने वाले जोखिम…

4 days ago

इनश्योरेंस (Insurance) कितने प्रकार के होते हैं? Insurance Ke Prakar In Hindi

इनश्योरेंस अर्थात बीमा, वित्तीय नियोजन की एक आधारशिला जिसमें आपकों, आपके आश्रितों और आपकी संपत्ति…

4 days ago

इंश्योरेंस (Insurance) क्या होता है? Insurance kya hota h in hindi

इंश्योरेंस, बीमा, जीवन बीमा आदि शब्द हम दैनिक दिनचर्या में अमूमन सुनते ही हैं. कारण…

4 days ago

सावन 2022 कब से शुरू है और कब खत्म है ( Sawan 2022 Start Date and End Date ) ( Sawan Kab se Lagega)

सावन 2022 कब से शुरू है और कब खत्म है ( Sawan 2022 Start Date…

6 days ago

खटमल मारने का सबसे आसान तरीका | Khatmal Marne Ke Upay

खटमल मारने का सबसे आसान तरीका | Khatmal Marne Ka sabse aasan tarika | खटमल…

6 days ago

Sawan Shivratri 2022 Date | सावन शिवरात्रि 2022 में कब है !

sawan shivratri 2022 date । Sawan Shivratri 2022 Date kab hai | सावन शिवरात्रि 2022…

6 days ago