ग्रेसिम उद्याेग ठेका श्रमिकों की बेरोजगारी का मामला मुख्यमंत्री की चौखट पर पहुंचा

 ग्रेसिम उद्याेग ठेका श्रमिकों की बेरोजगारी का मामला मुख्यमंत्री की चौखट पर पहुंचा

ग्रेसिम उद्योग नागदा त्रिमूर्ति गेट का फाइल फोटो

रविंद्रसिंह रघुवंशी

नागदा। ग्रेसिम उद्योग नागदा Grasim Industries Ltd के हजारों ठेका श्रमिकों के बेरोजगारी का मामला अब मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की चौखट पर पहुंच गया है। उद्योग के श्रमिकों को कार्य पर रखने की मांग को लेकर पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत ने शुक्रवार को उज्जैन पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान से मुलाकात कर उक्त मांग रखी। शेखावत द्वारा ठेका श्रमिकों की समस्याओं के संबंध में पत्र के माध्यम से अवगत कराया।

जिस पर मुख्यमंत्री चौहान ने पूर्व विधायक शेखावत को आश्वस्त किया है जल्द से जल्द इस विषय को गंभीरता से लेते ठेका श्रमिकों को कार्य पर बुलाए जाने के मामले को निराकरण कर दिया जाएगा।

गौरतलब है कि 22 मार्च को लॉकडाउन लागू होने के बाद से उद्योग के हजारों ठेका श्रमिकों को अभी तक एक भी दिन का कार्य नहीं मिला है। जबकि शासन ने पूरी तरह उद्योग प्रारंभ करने का आदेश भी जारी कर दिया है। श्रमिकों को कार्य नहीं मिलने से उनके समक्ष दो वक्त की रोटी का संकट उत्पन्न हो गया।

इस अवसर पर शेखावत ने नागदा.खाचरौद विधानसभा के पशु हाट के संबंध में व्यापारियों एवं किसानों से मुलाकात की थी। जिसको लेकर भी उज्जैन में मुख्यमंत्रीचौहान को कलेक्टर के समक्ष इस विषय से अवगत कराया जिस पर भी आस्वस्त किया गया है कि आगामी 21 सितंबर तक इस विषय को हल कर दिया जाएगा।

इन्होंने की मुलाकात

इस अवसर पर भाजपा मंडल अध्यक्ष सीएम अतुल , खाचरौद मंडल अध्यक्ष चेतन शर्मा , ग्रामीण अध्यक्ष दिनेश जाट , धर्मेश जायसवाल , बद्रीलाल संगीतला , अश्विन डिंडोरकर आदि ने मुख्यमंत्री चौहान का स्वागत कर मुलाकात की।

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post