Saraswati Puja 2022 Mein Kab Hai | सरस्वती पूजा 2022 में कब है | Vasant Panchami 2022

1
188
saraswati-puja-2022-mein-kab-hai
प्रतिकात्मक तस्वीर सोर्स : गूगल

Saraswati Puja 2022 Mein Kab Hai – इस पोस्ट में हम सरस्वती पूजा 2022 के संबंध में मुहूर्त और तिथि के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे. कारण माता सरस्वती बुद्धि और संगीत की देवी है. हिंदू धर्म में सरस्वती माता का पूजन दीपावली के दिन भगवान गणेश के साथ किया जाता है.

सरस्वती पूजा 2022 – इस पोस्ट में हम सरस्वती पूजा के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त करेंगे. सरस्वती पूजा कब है? महत्व, सरस्वती पूजा 2022 तारीख और शुभ मुहूर्त.

माँ सरस्वती की वंदना और आराधना का दिन है सरस्वती पूजा. इस दिन को वसंत पंचमी (Vasant Panchami) या श्रीपंचमी (ShriPanchami) के नाम से भी जाना जाता है. सरस्वती माता विद्या, ज्ञान, बुद्धि और कला-संस्कृति की देवी है. स्कूली विद्यार्थियों के लिए तो माता सरस्वती का पूजन और आराधना करना बेहद ही शुभ फलदायक होता है.

सनातन धर्म में सरस्वती पूजा का दिन बेहद ही पवित्र और शुभ दिन होता है. भारत के उत्तर पूर्वोत्तर राज्य में सरस्वती पूजा बेहद ही उत्साह के साथ मनाई जाती है. इस दिन के अधिकतर स्कूलों और शिक्षण संस्थानों में सरस्वती पूजा अत्यंत श्रद्धा और भक्ति के साथ मनाई जाती है. बिहार राज्य की बात करें तो इस दिन स्कूली बच्चे अपने स्कूल की पाठ्य पुस्तकें माता सरस्वती के समक्ष रख देते हैं। इस दिन कोई भी पेन या पेसिंल का उपयोग नहीं करता है.

सरल शब्दों में कहा जाएं तो वसंत पंचमी सरस्वती पूजा के दिन पढ़ाई की शुरुआत करना बेहद ही शुभ होता है. इस कारण से इस दिन माता पिता अपने बच्चों के हाथ को पकड़ कर पहला अक्षर ॐ लिखवायें. यह अत्यंत ही शुभ होता है.

विद्यारम्भ करने वाले बच्चे को इस दिन सरस्वती माता का आशीर्वाद दिलवाना चाहिए. सरस्वती माता की कृपा से उसे अथाह विद्या और ज्ञान की प्राप्ति होगी और उसका भविष्य उज्ज्वल होगा.

तो दोस्तों अब देर ना करते हुए चलिए हम सब सरस्वती पूजा 2022 (Saraswati Puja 2022) और वसंत पंचमी 2022 (Vasant Panchami 2022) के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

Saraswati Puja 2022 | Vasant Panchami 2022 – सरस्वती पूजा 2022 | वसंत पंचमी 2022

सरस्वती पूजा और वसंत पंचमी का उत्सव प्रत्येक वर्ष माघ महीने की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है. साल 2022 में सरस्वती पूजा और वसंत पंचमी का त्यौहार 05 फरवरी 2022, दिन शनिवार को मनाई जायेगी.

सरस्वती पूजा 2022 तारीख
वसंत पंचमी 2022 तारीख
05 फरवरी 2022, शनिवार
Saraswati Puja 2022 Date
Vasant Panchami 2022 Date
05 February 2022, Saturday

अब हम माघ महीने की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

माघ शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि के बारे में जानकारी

चूँकि सरस्वती पूजा और वसंत पंचमी का त्यौहार माघ महीने की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है. इस कारण से हमें माघ शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के समय के बारे में जानकारी आवश्यक रूप से होनी चाहिए.

माघ शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि प्रारंभ 05 फरवरी 2022, शनिवार
03:47 am
माघ शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि समाप्त 06 फरवरी 2022, रविवार
03:46 am

अब हम सब सरस्वती पूजा का शुभ मुहूर्त समय जान लेतें हैं.

Saraswati Puja 2022 Shubh Muhurt | सरस्वती पूजा 2022 शुभ मुहूर्त समय

निचे टेबल में हमने सरस्वती पूजा 2022 के लिए पूजा का शुभ मुहूर्त समय दिया हुआ है.

सरस्वती पूजा 2022 शुभ मुहूर्त 05 फरवरी 2022, शनिवार
07:07 am – 12:35 pm
Saraswati Puja 2022 Shubh Muhurt 05 February 2022, Saturday
07:07 am – 12:35 pm

हिंदू धर्म के ज्योतिषाचार्यों के अनुसार सरस्वती पूजा और वसंत पंचमी का संपूर्ण दिन शुभ मुहूर्त होता है. आप इस दिन किसी भी समय सरस्वती पूजा कर सकतें हैं. लेकिन सुबह 6 बजे से लेकर 12 बजे तक पूजा करना शुभ माना जाता है. अधिकतर स्कूलों और शिक्षण संस्थानों में इसी समय सरस्वती पूजा की जाती है.

एक आवश्यक बात और, वसंत पंचमी और सरस्वती पूजा के दिन को अबूझ मुहूर्त के नाम से जाना जाता है. धार्मिक व्यक्तियों के अनुसार वसंत पंचमी और सरस्वती पूजा के दिन किसी भी शुभ कार्य को प्रारम्भ करने के लिए मुहूर्त देखना जरुरी नहीं होता है.

इसे भी पढ़े :

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here