एक करोड़ की एप्रोच रोड नागदा पर रेत कारोबारियों का कब्जा

 एक करोड़ की एप्रोच रोड नागदा पर रेत कारोबारियों का कब्जा

नागदा. भारी वाहनों को शहर के मुख्य बाजार में नहीं जाने देने के उद्देश्य से एक करोड़ रुपए खर्च कर एप्रोच रोड नागदा का निर्माण किया गया।

निर्माण के बाद भारी वाहनों से मार्केट के लोग और प्रकाश के रहवासियों को उड़ती धूल से निजात मिल गई।
लेकिन रेत कारोबारियों के लिए एप्रोच रोड वरदान साबित हो गई।

कारोबारी सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक रेत के टैंकर लेकर रोड पर खुले आम व्यापार करते है। नतीजा यह है कि सड़क के एक ओर के हिस्से का ही उपयोग हो पाता है।

sand-traders-occupy-approach-road-nagda-worth-one-crore

कारोबारियों की दबंगई इस कदर हावी है कि प्रशासन के लाख चालानी कार्रवाई किए जाने के बाद दोबार वही आकर डटकर व्यापार किया जाता है। 2 सितंबर 2020 को दैनिक भास्कर नागदा में छपी एक रिपोर्ट की मानें तो

रेत कारोबारी बोले- यहां पार्किंग करने का मासिक शुल्क लेते हैं नपा और पुलिसकर्मी
सड़क करीब 70 फीट चोड़ी है। निर्माण पर नपा ने एक करोड़ रुपए खर्च किए है। सड़क के दोनों ओर फुटपाथ और पौधे लगाने के लिए डिवाइडर तक बनाया है, ताकि सौंदर्यीकरण के बाद यह शहर की सबसे खूबसूरत सड़क लगे।

sand-traders-occupy-approach-road-nagda-worth-one-crore

विड़बना यह है कि रेत कारोबारियों पर कार्रवाई न होता देख लोकल ट्रांसपोर्टरों ने अब यहां लोडिंग-अनलोडिंग शुरू कर दी है। साथ ही यहां गिट्‌टी, बालूरेत का भी ढेर लगा दिया गया है। खराब वाहनों का यार्ड भी यह सड़क बन चुकी है। इस वजह से लाखों की सड़क का एक हिस्सा महज पार्किंग के लिए उपयोग हो रहा है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार नपा सीएमओ मो. अशफाक खान ने स्पष्ट किया कि अवैध पार्किंग के लिए नपा का कौन सा कर्मचारी रेत कारोबारियों से मिलीभगत कर रह है। इसका पता लगाकर दोषी पर कार्रवाई करेंगे।

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post