सेहत

सिर की जूं को ख़त्म करने के घरेलु उपचार | How to Remove Lice Eggs Quickly in Hindi

सिर की जूं को ख़त्म करने के घरेलु उपचार
How to Remove Lice Eggs Quickly From Hair Permanently in Hindi

जूं एक प्रकार का कीटनाशक परजीवी है. बालों की उचित देखभाल नहीं किए जाने से मनुष्य के सिर में पैदा होते हैं. जूं इंसानों का खून पीकर जिंदा रहते हैं. घने, लम्बें बालो में छुपे रहकर जूं मादा करीब 90 अंडे देती है. 7 से 10 दिनों के भीतर अंडो में से निकलने वाले जूं पहले लीख बनती हैं, जिसके बाद पैदा हुई  लीख बड़ी होकर जूं बन जाती हैं. जूं एक इंसान से दूसरे इंसान में बहुत तेजी से पहुंचती हैं. भारतीय लोगों की आम समस्याओं में से सिर की जूं और लीख भी एक हैं. सिर में जूं होने के कारण खुजली और माथे पर छोटे – छोटे पिंपल्स होने लगते हैं इतना ही नहीं सिर में जूं होने पर बाल भी झड़ने लगते हैं. तो आइये लेख के जरिए जानते है जूं और लीख को जड़ से ख़त्म करने के चमत्कारी घरेलु उपचार –

ग्राफिक डिजाइन : कमलेश वर्मा

सिर की जूं को ख़त्म करने के घरेलु उपचार | How to Remove Lice Eggs Quickly in Hindi

  1. लीख यानी जूं को जड़ से साफ करने का सबसे आसान तरीका दो चम्मच नीबूं के रस में एक चम्मच अदरक का पेस्ट मिलाकर इस मिश्रण को अपने बालो में 15 से 20 मिनट के लिए लगाएं. जिसके सूखने पर बालों को ठण्डे पानी से धो लें. ध्यान रहे इस विधि को सप्ताह में दो बार आवश्यक रुप से अपनाएं. निश्चित रुप से लीख और जूं बहुत जल्द ख़त्म हो जाएगी.
  2. बादाम में विटामिन ए होता है. यह हमारी त्वचा के लिए बेहद ही फायदेमंद होता है. जूं और लीख को समाप्त करने में मददगार साबित होगा. आपकों करना क्या है कि, 10 बादाम को रात भर के लिए भिगों दें, सुबह इन बादामों का पेस्ट बनाकर तैयार कर लें, इस पेस्ट में नीबूं के रस की कुछ बूँदें मिलाकर लगा लें, दो घंटें बाद सिर को ठंडे पानी से धो लें. लीख जड़ से समाप्त हो जाएगी.
  3. भारतीय व्यंजनों में उपयोग होने वाला प्याज कई तरह के घरेलु उपचारों में काम आती है. प्याज की बदबू से जूं और लीख जड़ से खत्म हो जाती है.इसके लिए आपकों प्याज को पीसना होगा.जिसके बाद बारीक़ छन्नी या कपड़े से छानकर उसका जूस निकालें, इस जूस को अपने बालो में मसाज करते हुए लगाए जिससे प्याज का रस बालों की जड़ों तक पहुंचे और जूं, लीख मर जाएगी.
  4. नीबूं और सिरके का पेस्ट बनाकर बालों में लगाने से सिर की लीख व जूं प्रभाव से हट जाती है. नीबूं ओर सिरके का पेस्ट दो घंटे के लिए अपने सिर में लगा रहने दें, इसके बाद बालों में शैम्पू कर अच्छी तरह से धो लें.
  5. जुएँ और लीख निकालने के लिए बारीक़ कंघी का प्रयोग एक साधारण से उपाय है. ग्रामीण लोग जूं व लीख निकालने में इस्तेमाल करते हैं. दिन में दो बार गीले बालो में कंघी करने से धीरे –धीरे आपके सिर से जूं और लीख ख़त्म(Remove Lice) हो जाएगी.
  6. टी ट्री तेल का इस्तेमाल करना चाहिए. इससे लीख आसानी से निकल जाती हैं.जूं भी मर जाते हैं. इसके लिए आपकों रात्रि में सोते समय टी ट्री तेल से बालों की जड़ों में अच्छी तरह से मासज करना होगा. इससे सिर की जूं और लीख हमेशा के लिए ख़त्म हो जायेंगी और फिर सुबह शैम्पू से बालों को धो लें और कंघी की सहायता से मरे हुए जूं और लीख को बाहर निकालें.
  7. सिरका जुएँ व लीख को ख़त्म करने का एक बहुत ही अच्छा उपाय है. सिरके में मौजूद एसिटिक एसिड के कारण जुएं सिर में अधिक समय तक नहीं टिक पाती.इस उपाय से जूं के छोटे-छोटे अंडे भी ख़त्म हो जाते हैं. सिरके में नारियल का तेल मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें. अब आप इस मिश्रण को अपने बालो में दो घंटें के लिए लगा रहने दें. कुछ समय बाद अपने बालो को ठंडे पानी से धो लें, हमारे द्वारा बताए गए तरीके को करीब  6 से 7 दिनों तक उपयोग करें. आपकों स्वत: ही फर्क महसूस होगा.
  8. प्राचीन काल से ही नीम को आयुर्वेदिक औषधि माना गया है. प्राचीन समय में लोग नीम की पत्तियों को अनाज भंडार करते समय रखते थे. जिससे अनाज में घुन नहीं लगता और लंबे समय तक जैसे गेहूं, चावल को सुरक्षित रखा जा सकता है. इसी प्रकार पत्तियों को पानी में अच्छी तरह से उबालें. फिर पानी को ठंडा होने के लिए रख दें. इसके बाद ठंडे पानी से बालों को अच्छे से धोएं, दो से तीन बार ऐसा करने पर आपके बालों में मौजूद जुएँ और लीख नष्ट हो जाएंगी.
  9. वृद्ध लोग जुएं को बीनना एक बेहतरीन तरीका मानते हैं. उनका मानना होता है कि सिर में हाथों से जुएं बीनने से यह समस्या खत्म हो सकती है. प्राचीन तरीका है इसके लिए पहले आप अपने बालों को आठ भाग में करें और फिर हर भाग को अच्छी तरह से कंघी करें. इससे आपके सिर में मौजूद जुएं और लीख जमीन पर गिरने लगेगी.
  10. जुएं खोजने के बाद आप कंघी, तौलिया, रुमाल और आदि चीजों को हमेशा साबुन से धोएं.सिर के जुएं निकालने के बाद आप नहाकर अपने कपड़े भी बदल लें.
  11. गर्भवती महिलाओं में सिर के जुएं बीमारी से ज्यादा इरिटेशन का कारण पनपती हैं. इस समस्या का उपचार करना बहुत आसान है.बचाव ही बेहतर विकल्प है.

इसे भी पढ़े : 

Manisha Palai

भुवनेश्वर, उड़िसा की रहने वाली मनीषा फिलहाल MCA की पढ़ाई कर रही हैं. फैशन, कुकिंग और मेकअप टिप्स के बारे में मनीषा को महारथ हासिल है. लिखने के शौक को उड़ान देने के लिए मनीषा newsmug.in के साथ जुड़ी हैं.

Recent Posts

इंश्योरेंस क्लेम कैसे करते है? Insurance Claim Process In Hindi

इंश्योरेंस क्लेम कैसे करते है? Insurance Claim Process In Hindi भविष्य में आने वाले जोखिम…

4 days ago

इनश्योरेंस (Insurance) कितने प्रकार के होते हैं? Insurance Ke Prakar In Hindi

इनश्योरेंस अर्थात बीमा, वित्तीय नियोजन की एक आधारशिला जिसमें आपकों, आपके आश्रितों और आपकी संपत्ति…

4 days ago

इंश्योरेंस (Insurance) क्या होता है? Insurance kya hota h in hindi

इंश्योरेंस, बीमा, जीवन बीमा आदि शब्द हम दैनिक दिनचर्या में अमूमन सुनते ही हैं. कारण…

4 days ago

सावन 2022 कब से शुरू है और कब खत्म है ( Sawan 2022 Start Date and End Date ) ( Sawan Kab se Lagega)

सावन 2022 कब से शुरू है और कब खत्म है ( Sawan 2022 Start Date…

6 days ago

खटमल मारने का सबसे आसान तरीका | Khatmal Marne Ke Upay

खटमल मारने का सबसे आसान तरीका | Khatmal Marne Ka sabse aasan tarika | खटमल…

6 days ago

Sawan Shivratri 2022 Date | सावन शिवरात्रि 2022 में कब है !

sawan shivratri 2022 date । Sawan Shivratri 2022 Date kab hai | सावन शिवरात्रि 2022…

6 days ago