प्रधानमंत्री मोदी ने बता दिया, कैसा होगा आने वाला बजट

0
52
pm-modi-says-upcoming-budget-will-be-continuation-of-the-mini-budgets-fm-brought-4-5-mini-budgets-in-the-form-of-different-packages-in-2020
प्रतिकात्मक तस्वीर सोर्स गूगल।

नई दिल्ली. देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी 2021 को बजट पेश करेंगी. कोरोना महामारी के बाद पूरी दुनिया की नजर भारत के बजट पर लगी हैं. हर कोई यह जानना चाहता है कि बजट कैसा होगा. 29 जनवरी 2021, शुक्रवार से संसद का बजट सत्र शुरू हो गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्र शुरू होने के पूर्व मीडिया से चर्चा की. संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने बजट 2021 के बारें में हिंट दिया है कि आने वाला बजट कैसा होगा. पीएम मोदी के अनुसार कोरोना काल में जो 4-5 आर्थिक पैकेज दिए गए थे, सभी बजट उसी श्रृंखला में देखा जाएगा.

पीएम मोदी ने कहा,

यह बजट का भी सत्र है. शायद भारत के इतिहास में पहली बार हुआ कि 2020 में एक नहीं, वित्त मंत्री जी को अलग-अलग पैकेज के रूप में एक प्रकार से चार-पांच मिनी बजट देने पड़े. यानी 2020 में एक प्रकार से लगातार मिनी बजट का सिलसिला चलता रहा. इसलिए ये (आने वाला) बजट भी उन चार बजट की सीरीज में ही देखा जाए. यह मुझे पूरा विश्वास है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उपस्थितों को संबोधित करते हुए कहा है कि, इस दशक का यह पहला सत्र प्रारंभ हो रहा है. भारत और भारतीयों के उज्जवल भविष्य के लिए यह दशक बेहद ही महत्वपूर्ण है. इसलिए प्रारंभ से ही आजादी के दीवानों ने जो सपने देखे थे, उन सपनों को, उन संकल्पों को तेज गति से सिद्ध करने का ये स्वर्णिम अवसर देश के पास आया है.

इसे भी पढ़े : घर में इस दिन लगाना चाहिए मनीप्लांट, नहीं होगी पैसो की कमी

वर्तमान दशक का भरपूर उपयोग हो और इसके लिए साल 2021 में पूरे दशक को ध्यान में रखते हुए चर्चाएं हों. सभी प्रकार के उत्तम विचारों की प्रस्तुति हो. उत्तम मंथन से उत्तम अमृत प्राप्त हो. यह देश की अपेक्षाएं हैं. मुझे विश्वास है कि जिस आशा और अपेक्षा के साथ देश के कोटि-कोटि जनों ने हम सबको संसद में भेजा है, संसद की मर्यादाओं का पालन करते हुए, जन आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए अपने योगदान में पीछे नहीं रहेंगे.

आप सभी को जानना जरुरी है कि साल 2020 में कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बाद सरकार ने भिन्न-भिन्न मौके पर आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था. जिसका उद्देश्य भारत की आर्थिक स्थिति को मजबूत करते हुए देश की अर्थव्यस्था में जान फूंकना था. सरकार जो पैकेज लेकर आई. इसे आत्मनिर्भर भारत पैकेज कहा गया. सबसे पहले पैकेज को 20.97 लाख करोड़ रुपये, जिसमें लघु और मध्यम उद्योगों पर फोकस रहा.

pm-modi-says-upcoming-budget-will-be-continuation-of-the-mini-budgets-fm-brought-4-5-mini-budgets-in-the-form-of-different-packages-in-2020
प्रतिकात्मक तस्वीर सोर्स गूगल।

12 अक्टूबर 2020 को सरकार ने आत्मनिर्भर भारत पैकेज 2.0 के अंतर्गत 73 हजार करोड़ के पैकेज की घोषणा की गई थी. जिसमें केंद्रीय कर्मचारियों के लिए दो स्कीमें लॉन्च की गईं. LTC कैश वाउचर स्कीम (28 हजार करोड़) और स्पेशल फेस्टिवल एडवांस स्कीम (8 हजार करोड़). इसके अलावा इस पैकेज में राज्यों को कर्ज देने के लिए 12 हजार करोड़ और इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए 25 हजार करोड़ की बात की गई.

12 नवंबर 2020 को सरकार की ओर से तीसरा पैकेज जारी किया गया, जो कि 2.65 लाख करोड़ का बताया गया. पीएम आवास योजना के लिए 18 हजार करोड़ रुपये, ग्रामीण रोजगार के लिए 10 हजार करोड़, कोरोना वैक्सीन के लिए 900 करोड़, आत्मनिर्भर मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए 1,45,980 करोड़ की व्यवस्था की गई.

Newsmug App: नागदा और देश-दुनिया की खबरें, अपडेट्स और सेहत की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NEWSMUG ऐप। आपके नागदा का  लोकल न्यूज एप।

Google News पर हमें फॉलों करें.