नागदा एसडीएम आशुतोष गोस्वामी ने निजी चिकित्सकों की ली बैठक

 नागदा एसडीएम आशुतोष गोस्वामी ने निजी चिकित्सकों की ली बैठक

मेडिकल दुकान का निरीक्षण करते एसडीएम गोस्वामी.

नागदा न्यूज टूडे. आगमी  के नवरात्रि, दशहरा व दीवाली पर्व के दौरान कोरोना महामारी के संक्रमण को काबू करने के लिए नागदा एसडीएम आशुतोष गोस्वामी ने शुक्रवार को शहर के  निजी चिकित्सकों की बैठक आयोजित की। सर्किट हाउस पर आयोजित बैठक में एसडीएम गोस्वामी व स्वास्थ्य विभाग के बीएमओं डॉ कमल सोलंकी ने चिकित्सकों से कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर विस्तृत चर्चा की।

बैठक में चिकित्सकों से सुझाव मांगे गए।कोराना संक्रमित मरीजों की शीघ्र पहचान एवं सैंपल के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। एसडीएम गोस्वामी ने चर्चा के दौरान कहा कि कोराना बीमारी के लक्षण जैसे बुखार, सूखी खांसी, हाथ पैर दर्द, स्वाद एवं सुंघने कि शक्ति चले जाना आदि लक्षण वाले मरीजों को किसी प्रकार से इलाज एवं भर्ती करने से पहले उन्हें कोरोना सैंपलिंग के लिए सिविल अस्पताल भेजा जाए।

nagda-sdm-ashutosh-goswami-held-private-doctors-meeting
मेडिकल दुकान का निरीक्षण करते एसडीएम गोस्वामी.

इसे भी पढ़े : उज्जैन में जहरीली शराब से 36 घंटे में 14 लोगों की मौत, नागदा से कच्ची शराब की जब्त

यह निर्देशित किया गया कि सभी अस्पताल संचालक यह सुनिश्चित करें कि उनके डॉक्टर एवं मेडिकल स्टाफ पूर्ण रूप से कोविड.19 प्रोटोकॉल का पालन कर रहे या नहीं। इतना ही नहीं  संक्रमण से बचने के लिए जितने भी उपाय किए जा सकते हैं वह अपनाए ।

जिससे कि वह खुद भी संक्रमित होने से बचे एवं उनसे उपचार के दौरान भी कोई भी व्यक्ति संक्रमण के खतरे से बचा रहे। शासन निर्देश अनुसार कोविड.19 के स्वास्थ्य संबंधी प्रोटोकोल का पालन कराया जाना सुनिश्चित करें। इस मौके पर पूर्व मेडिकल ऑफिसर डॉ. एसआर चावला, डॉ. सुनील चौधरी , डॉ. जगदीश भिण्डीया , डॉ. एसएन शर्मा, डॉ. हिमांशुदत्त पाण्डेय , डॉ. प्रवीण यादव आदि मौजूद थे।

मेडिकल स्टोर का किया निरीक्षण

एसडीएम गोस्वामी एवं सीएसपी मनोज रत्नाकर द्वारा वरिष्ठ कार्यालय से प्राप्त निर्देशों के चलते शुक्रवार को शहर की विभिन्न दवाईयों की दुकानों का औचक निरीक्षण किया गया। उसी तारतम्य में सांवलिया मेडिकल एजेंसी होलसेल विक्रेता का लाइसेंस स्प्रिट की मात्रा को देखा गया तथा मौके पर सभी सही पाया गया इसी तरह हिदायत दी गई भविष्य में भी इसी प्रकार सभी आंकडों को व्यवस्थित रखे एवं नरसिंह मेडिकल थाना निरीक्षण कर रजिस्टर आदि की जांच की गई तथा उन्हें हिदायत दी गई कि इसी तरह से सुव्यवस्थित रखा जाए।

इसे भी पढ़े : नागदा : शासकीय भूमि पर अवैध रूप से मिट्टी उत्खनन पर रोक लगाई जाए

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post