नागदा : उद्योग ठेका श्रमिकों की छापामार आंदोलन की तैयारी आज, परिजनों के साथ ग्रेसिम गेट के घेराव की संभावना

 नागदा : उद्योग ठेका श्रमिकों की छापामार आंदोलन की तैयारी आज, परिजनों के साथ ग्रेसिम गेट के घेराव की संभावना

ग्रेासिम उद्योग पावर हाउस गेट.

नागदा. करीब तीन माह से बेरोजगार हुए ग्रेसिम उद्योग नागदा के 3500 ठेका श्रमिक सोमवार को बिना किसी उद्योग प्रबंधन को पूर्व सूचना के छापामार आंदोलन की तैयारी में है. दैनिक भास्कर नागदा में छपी रिपोर्ट की मानें तो श्रमिक गुटों में बंटे हुए है. जिसके चलते आंदोलन का नेतृत्व करने वाले नेता का नाम स्पष्ट नहीं हो सका है.

ग्रेसिम उद्योग सूत्रों की मानें तो सोमवार को सैकड़ों ठेका श्रमिकों ने एक साथ परिजनों के साथ जिसमें बड़े बुजुर्ग, पत्नी बच्चों के साथ ग्रेसिम के पॉवर हाउस गेट का घेराव करने की रणनीति बनाई है.

श्रमिकों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि बीते एक माह से वे भाजपा-कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों सहित श्रम संघों को भी ज्ञापन सौंपकर उन्हें काम पर वापस लिए जाने की मांग करते आ रहे हैं. बावजूद कुछ संतोष जनक परिणाम नहीं निकल सका.

श्रमिकों द्वारा स्थानीय प्रशासन को सौंपे गए ज्ञापन में एसडीएम पुरुषोत्तम कुमार ने सात दिन में प्रबंधन और श्रम विभाग से चर्चा कर समस्या के समाधान का भरोसा दिलाया था. निराकण करने का समय निकल चुका है. निराकरण नहीं होने के बाद मजबूरन श्रमिकों को छापामार आंदोलन का रास्ता अपनाना पड़ा है.

मालूम हो कि, कोरोना संक्रमण के चलते ग्रेसिम उद्योग प्रबंधन फिलहाल स्थायी श्रमिकों को ही रोटेशन के आधार पर काम पर बुला रहा है, जबकि ठेका श्रमिकों को बंद कर दिया गया है. जिसके चलते श्रमिक बेरोजगार हो गए है.

nagda-preparations-for-guerrilla-movement-of-industry-contract-workers-today-possibility-of-siege-of-grasim-gate-with-family
ग्रेासिम उद्योग पावर हाउस गेट.

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post