दिलीप पाटीदार हत्या कांड के आरोपी को बचाने में जुटे नागदा के बदमाश

 दिलीप पाटीदार हत्या कांड के आरोपी को बचाने में जुटे नागदा के बदमाश

प्रतिकात्म तस्वीर सोर्स गूगल

रविंद्रसिंह रघुवंशी / नागदा

दीपावली पर्व की रात को एक ढाबा संचालक की हत्या कर जंगल में फेंके गए शव के घटनाक्रम में पुलिस को सफलता मिल गई है। हालांकि पुलिस ने अभी घटनाक्रम का खुलासा नहीं किया है और ना ही आरोपी के नाम उजागर किए है। बिरलाग्राम पुलिस का कहना है कि दो दिन में खुलासा हो जाएगा।

इधर बिरलाग्राम पुलिस ने इस घटनाक्रम में आसपास के क्षेत्र के कुछ युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले रखा है। पुलिस ने जिन लोगों को पूछताछ के लिए थाने में बैठा रखा है उनमें कुछ युवक वर्ग विशेष के है। जिनकों बचाने व उनसे मिलने के लिए नागदा शहर के कुछ बदमाश जुट गए हैं।

यह बदमाश अपने राजनीतिक आकाओं के माध्यम से पुलिस प्रशासन पर दबाव बना रहे हैं। कुछ बदमाश लागातार दो दिन से बिरलाग्राम थाने के चक्कर भी लगा रहे हैं और पुलिस हिरासत में आए युवक से संपर्क करने का प्रयास भी कर रहे हैं। पुलिस थाने पहुंचने वाले बदमाश मंडी क्षेत्र के निवासी है। इनमें एक बदमाश का भाई क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर है और वह  पिछले 6 माह से जेल में बंद है।

इसे भी देखें : आजादपुरा में नाबालिक की हत्या करने वाला एक आरोपी आया पुलिस गिरफ्त में, 5 फरार

क्या है पूरा मामला

बिरलाग्राम पुलिस को बीते रविवार सुबह 7:30 बजे सूचना मिली कि नागदा से लगभग 4 किमी दूर उमरना रेलवे फाटक के पास झाड़ियों में एक शव पड़ा हुआ है जो खून से लतपथ है। थाना प्रभारी हेमंत जादोन मौके पर पहुंचे और शव की तलाशली ली लेकिन जेब से कुछ नहीं निकला तो मृतक के समीप से मिली बाईक एमपी -14-एमई-7634 मिली।

उक्त वाहन नंबर से सर्च किया गया तो वह वाहन हबीब पिता शफी मोहम्मद निवासी बांधाखेड़ी जिला मंदसौर के नाम से पंजीकृत था। जिससे पुलिस को मृतक की शिनाख्ती करने में परेशानियों का सामना करना करना पड़ा। जिसके बाद पुलिस ने सोशल मीडिया का सहारा लिया और मृतक की शिनाख्त हो सकी।

मृतक दिलीप हलवाई का कार्य करता था। करीब 10 दिन पूर्व मृतक दिलीप ने लुसड़ावन फंटे पर ढ़ाबा खोला था, जिसका अभी नामकरण भी नहीं हो सका है। घटना वाले दिन मृतक दिलीप शाम 8 बजे ढाबा से गांव कमठाना का कह कर निकला था। वह कमठाना में अपने साथी राशिद से मिलने गया था। उसके बाद से वह घर नहीं लौटा।  घटनास्थल पर लगभग 10 फीट के क्षेत्र में खून के छींटे फैले हुए थे, मृतक की बाईक खून से सनी हुई थी।

इनका कहना

दिलीप पाटीदार हत्याकांड में जांच जारी हैं। दो दिन में घटनाक्रम का खुलासा कर दिया जाएगा। कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है। पीएम रिपोर्ट में खुलासा हो गया कि दिलीप की हत्या हुई  है।

हेंमत सिंह जादोन

थाना प्रभारी, बिरलाग्राम नागदा

दोस्तों प्ले स्टोर से हमारी एप्लीकेशन डाउनलोड़ करना ना भूलें। एप्लीकेशन डाउनलोड़ करने के लिए News Mug पर क्लिक करें?

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका अखबार में सिटी रिपोर्टर पद पर कार्य चुके हैं.

Related post