ग्रेसिम उद्योग में बड़ा हादसा टला, मशीन में लगी आग

0
359
nagda-news-great-accident-averted-in-grasim-industry
फाईल फोटो : सोर्स गूगल

ग्रेसिम उद्योग में बड़ा हादसा टला, मशीन में लगी आग । grasim industries limited nagda के आफ्टर ट्रीटमेंट विभाग की 7 नंबर बेलिंग प्रेस में हुई र्दुघटना

रविंद्रसिंह रघुवंशी/ नागदा

आदित्य बिड़ला समूह के ग्रेसिम उद्योग नागदा (Grasim Industries Limited Nagda) में को एक बड़ा हाटसा टल गया। उद्योग परिसर में 11 मार्च 2021, यानी बीते गुरुवार को आग लग गई गनीमत रही समय रहते आग पर काबू पाया लिया गया, अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। मिली जानकारी के अनुसार उद्योग के आफ्टर ट्रीटमेंट प्लांट की 7 नंबर मशीन बेलिंग प्रेस में उपर के हिस्से में अचानक शॉर्ट सर्किट हुआ और आग लग गई।

जिससे कुछ समय के लिए घटना स्थल पर भगदड़ की स्थिति निर्मित हो गई। आग की सूचना मिलते ही विभाग के कई अधिकारी मौके पर पहुंच गए और तुरंत सुरक्षा विभाग की टीम भी आ गई और कुछ देर में ही आग पर काबू पाया गया। हालांकि आग से कोई जनहानि तो नहीं हुई, लेकिन बताया जा रहा है कि मशीन की समस्त विद्युत केबल जल गई, जिससे उद्योग प्रबंधन को लाखों का नुकसान होने का अनुमान है। शुक्रवार को दिनभर मशीन को तुरुस्त करने का कार्य चलता रहा। उद्योग के विद्युत विभाग की टीम द्वारा मशीन को सुधारा जा रहा है।

nagda-news-great-accident-averted-in-grasim-industry
फाईल फोटो : सोर्स गूगल

बड़ा हादसा टला

ग्रेसिम उद्योग नागदा के जिस विभाग में आग लगी वह विभाग 24 घंटे चलता है। बेलिंग प्रेस मशीन पर फायबर की गठान की पेकिंग का कार्य किया जाता है। जिस कारण वहां पर निरंतर दर्जनों श्रमिकों कार्य करते है। गनीमत रही कि आग पर तुरंत काबू कर लिया गया। अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था।

क्योंकि उद्योग परिसर में कई ज्वनलशील प्रदार्थ गैंस का उपयोग भी होता है। हार की तरह इस बार भी उद्योग प्रबंधन इस घटना को मामूली घटना बता रहा है और अनभिज्ञ बन रहा है। उद्योग के जनसंपर्क अधिकारी संजय व्यास का कहना है कि शॉर्ट सर्किट से आग लगी थी, पांच मनीट में उस पर काबू पाया गया है। मैं अभी बाहर हूं ज्यादा जानकारी नहीं है।

जिम्मेदारों ने झाड़ा पल्ला

ग्रेसिम उद्योग नागदा में हुई घटना के 24 घंटे बाद भी संबंधित विभाग औद्योगिक स्वास्थ्य सुरक्षा विभाग का कोई भी अधिकारी संभागीय मुख्यालय उज्जैन से नागदा जांच करने के लिए नहीं पहुंचा। जबकि नियम के तहत उद्योग में कोई भी छोटी या बड़ी दुर्घटना या घटना होती है उद्योग प्रबंधन को इसकी सूचना तुरंत औद्योगिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा विभाग को देना होती है, ताकि विभाग के अधिकारी जांच कर सके। लेकिन उद्योग प्रबंधन द्वारा कई बार दुर्घटना की जानकारी विभाग को नहीं दी जाती है। कई बार विभाग के अधिकारी मीडिया में बयान दे चुके है उन को भी मीडिया के माध्यम से जानकारी मिलती है।

इनका कहना-

ग्रेसिम उद्योग नागदा में हुई आग की दुर्घटना की जानकारी मुझे शुक्रवार को मिली है। जांच कि जाएगी। अभी मेरा स्वास्थ्य खराब है।
अरविंद्र शर्मा, उपसंचालक, औद्योगिक सुरक्षा एवं स्वास्थ्य विभाग उज्जैन

इसे भी पढ़े :

लेटेस्ट नागदा न्यूज़, के लिए न्यूज मग एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।