बिरलाग्राम पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा, संपत्ति विवाद में की गई थी दिलीप की हत्या

 बिरलाग्राम पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा, संपत्ति विवाद में की गई थी दिलीप की हत्या

बिरलाग्राम थाने पर प्रेस वार्ता को संबोधित करते अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकश भूरिया।

nagda news. बीते दिनों उमरना रेलवे फाटक के समीप मिली एक अज्ञात व्यक्ति की लाश के मामले में खुलासा गुरूवार को प्रेसवार्ता के दौरान किया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकश भूरिया, सीएसपी मनोज रत्नाकर ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि,  15 नवम्बर को थाना बिरलाग्राम पर सूचना प्राप्त हुई की रेलवे फाटक के आगे ग्राम उमरना तरफ एक अज्ञात व्यक्ति रोड किनारे खाई में मृत अवस्था में पड़ा है।

सूचना मिलने पर थाने से बल को भेजा गया। रोड किनारे साइड से अज्ञात व्यक्ति का शव मिलने से मर्ग क्रमांक 40/20 कायम कर जांच में लिया गया। अज्ञात मृतक की पहचान दिलीप पिता भेरुलाल पाटीदार उम्र 35 साल निवासी ग्राम मडावदा थाना खाचरौद के रूप में हुई। पीएम रिपोर्ट प्राप्त होने से बाद धारा 302 भारतीय दंड विधान का प्रकरण अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध पंजीकृत किया गया।

नागदा समाचार : सिम पोर्ट कराने की बात से प्रताड़ित नाबालिक ने खाया जहर, मौत

पुलिस ने बताया कि अज्ञात आरोपियों की धरपकड़ व प्रकरण का खुलासा करने के लिए एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला जिला उज्जैन के निर्देशन तथा एएसपी ग्रामीण भूरिया के मार्गदर्शन में सीएसपी रत्नाकर के नेतृत्व में इस प्रकरण का खुलासा करने के लिए टीम का गठन किया गया था। टीम में थाना प्रभारी नागदा श्यामचंद्र शर्मा एवं थाना प्रभारी बिरलाग्राम हेमंतसिंह जादौन को मय टीम के घटनाक्रम का पता लगाने की जिम्मेदारी दी गई थी।

nagda-news-birlagram-police-revealed-blind-murder-dileep-was-killed-in-a-property-dispute
बिरलाग्राम थाने पर प्रेस वार्ता को संबोधित करते अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकश भूरिया।

अज्ञात आरोपी की तलाशी के दौरान मुखबीर से यह जानकारी प्राप्त हुई कि दिवाली के दिन दिलीप के ढाबे पर ग्राम कमठाना के रशीद लाला को दिलीप से शाम के समय बातचीत करते देखा गया था। रशीद लाला के ग्राम मडावदा के प्रेम नारायण पाटीदार से भी संबंध हैं। दिलीप पाटीदार व प्रेम नारायण के बीच पहले से ही जमीनी विवाद चल रहा था।

कुछ दिनों से रशीद लाला को प्रेम नारायण पाटीदार एवं दिलीप पाटीदार दोनों के साथ अलग-अलग देखा गया। मुखबीर ने बताया कि रशीद लाला से दिलीप की हत्या के बारे में पूरी जानकारी मिल सकती है।

कैसे दिया घटनाक्रम को अंजाम

पुलिस ने बताया कि सूचना मिलने पर रशीद लाला की तलाश की गई जो कमठाना कुएं पर मिला। लाला पुलिस को देखकर भागने का प्रयास करने लगा। पूछताछ करने पर बताया कि प्रेम नारायण पाटीदार व उसके नाबालिक भतीजे ने उससे बोला कि दिलीप पाटीदार से जमीन को लेकर विवाद चल रहा है और यह हमको मरवा सकता है।

इसलिए दिलीप को निपटाना है। प्रेम नारायण पाटीदार के खेत पर बैठकर तीनों की बातचीत हुई। प्रेम नारायण व नाबालिक आरोपी ने दिलीप पाटीदार की हत्या करने के लिए 5 लाख  देने की बात की थी, जिस पर रशीद लाला ने अपने लड़के तौसीफ व अपने भांजे वसीम को यह बात बताकर योजना में शामिल किया।

योजना के मुताबिक 14 नवम्बर को रशीद ने प्रेम नारायण के हाली गणपत को दिलीप के ढाबे पर भेजकर दिलीप को उसके खेत पर बुलाया, वहां दिलीप पाटीदार को काफी शराब पिलाई उसके बाद दिलीप पाटीदार को उसके ढाबे पर छोड़ने का बोलकर रशीद व वसीम ने रशीद की कार में बिठाया जहां से कार से दिलीप को लेकर चले व दिलीप की मोटरसाइकिल से तौसीफ, बाल अपचारी, गणपत तीनों निकले नशे में ज्यादा होने से दिलीप सीट पर आंख बंद करके सो गया था।

खाचरौद बाईपास होकर उमरना गांव के आगे रोड साइड कार खड़ी की फिर वसीम, तोसिफ, अपचारी तीनों दिलीप को पकड़कर नीचे खाई तरफ ले गए और वसीम, बाल अपचारी व तौसीफ ने दिलीप को टॉमी से मारपीट की गणपत व रशीद ने लकड़ी से मारपीट कर दिलीप की हत्या कर दी फिर वसीम ने ऊपर से मोटरसाइकिल नीचे गिरा दी। दिलीप की हत्या करने के बाद सभी कार में बैठकर उसी रास्ते से होकर रशीद के कमठाना स्थित कुए चले गए।

इनका रहा योगदान

दिलीप हत्याकांड का खुलासा करने में सीएसपी नागदा मनोज रत्नाकर, थाना प्रभारी नागदा श्यामचंद्र शर्मा, थाना प्रभारी बिरलाग्राम हेमंतसिंह जादौन, सहायक उप निरीक्षक हेमंत कटारे, सहायक उप निरीक्षक वीरेंद्र प्रतापसिंह चैहान, प्रधान आरक्षक दयाशंकर, आरक्षक दीपक पाल, सुरेश बागी, मनीष व्यास, कालूराम, जितेंद्रसिंह, विजय थापा, प्रकाश यादव, अजयसिंह, रोहित, अक्षत पुष्प राज, आरक्षक पुष्पेंद्रसिंह, आरक्षक यशपालसिंह सिसोदिया, आरक्षक धर्मेंद्र प्रतापसिंह, आरक्षक सुनील का सराहनीय योगदान रहा।

इन्होंने दिया था घटनाक्रम को अंजाम

रशीद पिता शरीफ खान, उम्र 52 साल, निवासी ग्राम कमठाना, थाना खाचरौद, वसीम पिता रशीद खान, उम्र 34 साल, निवासी ग्राम कुमालडी, थाना घटिया, तौसीफ पिता रशीद खान, उम्र 18 साल, निवासी ग्राम कमठाना, थाना खाचरौद, प्रेम नारायण पिता काशीराम पाटीदार, उम्र 61 साल, निवासी ग्राम मडावदा, थाना खाचरौद, बाल अपचारी दिलीप का भांजा, गणपत पिता भेरुलाल, जाति भील, उम्र 40 साल, निवासी ग्राम मडावदा, थाना खाचरौद।

दोस्तों प्ले स्टोर से हमारी एप्लीकेशन डाउनलोड़ करना ना भूलें। एप्लीकेशन डाउनलोड़ करने के लिए News Mug पर क्लिक करें?

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका अखबार में सिटी रिपोर्टर पद पर कार्य चुके हैं.

Related post