नागदा को तगड़ा झटका, सीएम शिवराजसिंह चौहान ने नागदा जिला बनाए जाने की बात पर दिया गोलमोल जवाब

 नागदा को तगड़ा झटका, सीएम शिवराजसिंह चौहान ने नागदा जिला बनाए जाने की बात पर दिया गोलमोल जवाब

नागदा रेलवे स्टेशन का फाइल फोटो। सोर्स स्वयं

रविंद्रसिंह रघुवंशी/ नागदा

शहर नागदा को जिला बनाने की आस लगाए बैठे क्षेत्र के लोगों को निराश होना पड़ा, अब और अधिक समय तक इंतजार करना पड़ेगा। शहरवासियों को उस समय निराशा मिली जब मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने गुरुवार को नागदा में जिला बनाए जाने के प्रश्न पर गोल-माल जवाब दिया।

मीडिया ने जब सीएम से पूछा की नागदा को जिला अब बनाया जाएगा तो सीएम ने कहा कि कमलनाथ सरकार कुछ भी बोलती व करती रहती थी। गौरतबल है कि कमलनाथ सरकार ने 18 मार्च 2020 को नागदा को जिला बनाने की प्रस्ता केबिनेट की बैठक में प्रस्ताव पारित किया था, लेकिन इस पर अभी तक अमल नहीं हुआ। मुख्यमंत्री चौहान गुरुवार दोपहर 12 बजे नागदा के ग्रेसिम एयरपोर्ट पर उतरे।

जिसके बाद में सीधे सड़क मार्ग से शहर के बीच पाड्ल्या स्थित रविदास बस्ती में पहुंचे। यहां पर एक स्क्रिप्ट में गुजरात में हसंविधान दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम देखा। लगभग एक घंटे से भी अधिक समय तक सीएम ने खुले आसमान के नीचे एक कुर्सी पर बैठकर पूरे कार्यक्रम को सुना।

पुष्पाजलि अर्पित करने पहुंचे थे सीएम शिवराजसिंह चौहान

सीएम शिवराजसिंह चौहान करीब 2 बजे 56 ब्लॉक स्थित केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत के बेटे आलोट के पूर्व विधायक जितेंद्र गेहलोत के घर पर पहुंचे। जहां पर जितेंद्र गेहलोत की दिवंगत पत्नी चद्रंकला की तस्वीर पर पुष्पाजलि अर्पित की। चंद्रकला का गत अक्टूबर में निधन हो गया था। शोक संतृप्त गेहलोत परिवार को सांत्वना देकर सीएम सीधे ग्रेसिम एअर पोर्ट से प्लेन से दोपहर 2.45 बजे भोपाल के लिए रवाना हुए।

nagda-got-a-big-shock-cm-shivraj-singh-chauhan-said-that-nagda-district-will-not-be-made
नागदा रेलवे स्टेशन का फाइल फोटो। सोर्स स्वयं

ग्रेसिम के डायरेक्टर शैलेंद्र कुमार जैन, यूनिट हेड के. सुरेश एवं जनसंपर्क अधिकारी संजय व्यास, उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया, विधयक बहादुरसिंह चौहान, मप्र शासन असंगठित कामगार बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष सुल्तानसिंह शेखावत, पूर्व विधायक लालसिंह राणावत, भाजपा मंडल अध्यक्ष सीएम अतुल, संदीप व्यास, पूर्व नपा अध्यक्ष अशोक मालवीय, पूर्व नपा अध्यक्ष विजयकुमार सेठी, पूर्व नपा उपाध्यक्ष रामसिंह शेखावत, ओमप्रकाश चौहान, बबीता रघुवंशी, साधना जैन, सांसद प्रतिनिधि प्रकाश जैन एवं अनिल जोशी आदि ने सीएम के काफिले की अगवानी की।

पूर्व विधायक ने सौंपा मांग पत्र

क्षेत्र के पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत ने नागदा-खाचरौद क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री चौहान को एक मांग पत्र सौंपा। िजसमें बताया गया िक नागदा-खाचरौद में वर्ष 2018 के पूर्व स्वीकृत हुए कार्य जो कि अभी तक प्रारम्भ नहीं हुए है उन्हें शीघ्र प्रारम्भ कराए जाए। नागदा शहर को जिला बनाने की घोषणा आपके द्वारा वर्ष 2018 में जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान की गई थी जिला बनाने की कार्यवाही अभी तक प्रारम्भ नहीं हुई है। अतः कार्यवाही प्रारम्भ की जावे।  नगर के प्रमुख चौराहो पर श्री महाराणा प्रताप जी, डॉ. भीमराव अम्बेडकर जी एवं राजा जन्मेजय जी की प्रतिमा स्थापना की स्वीकृति की सारी कार्यवाही पूर्ण हो चुकी है किन्तु प्रतिमाएं आज तक स्थापित नहीं हुई है।  शासकीय चिकित्सालय नागदा का भवन लागत 750 लाख रू. वर्ष 2018 में स्वीकृत हो चुका है कार्य प्रारम्भ नहीं हुआ है। जिसका कार्य शीघ्र प्रारम्भ किया जावे।  वर्ष 2018 में नागदा नगर एवं ग्रामीण क्षेत्र में सर्वे करके भूखण्ड पट्टे बनाये गये थे जिन्हें अभी तक संबंधितो को वितरीत नहीं किया गया है। उन्हें शीघ्र वितरीत किया जावे। रतलाम फाटक नागदा समपार क्रं. 103 लागत 800 लाख रू. वर्ष 2018 में स्वीकृत हो चुका है कार्य अभी तक प्रारम्भ नहीं हुआ है। कार्य शीघ्र प्रारम्भ किया जावे। ग्रेसिम उद्योग के ठेकेदारी श्रमिको को लॉकडाउन के बाद से कार्य पर वापस नहीं रखा गया है उन्हें वापस कार्य पर रखा जावे।पूर्व विधायक ने ग्रामीण व खाचरौद शहर में भी विभिन्न निर्माण कार्य को लेकर चर्चा की।

nagda-got-a-big-shock-cm-shivraj-singh-chauhan-said-that-nagda-district-will-not-be-made
जिले की सुगबुगाहट को लेकर दैनिक भास्कर नागदा में छपी रिपोर्ट का फाइल फोटो।

इसे भी पढ़े : लव जिहादियों को मैं छोड़ूंगा नहीं : सीएम शिवराजसिंह चौहान

Newsmug App: देश-दुनिया की खबरें, आपके नागदा शहर का हाल, अपडेट्स और सेहत की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NEWSMUG ऐप

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post