देशी घी और मिश्री खाने के चमत्कारी फायदे । Miraculous benefits of eating native ghee and sugar candy in Hindi

 देशी घी और मिश्री खाने के चमत्कारी फायदे । Miraculous benefits of eating native ghee and sugar candy in Hindi

ग्राफिक डिजाइन : कमलेश वर्मा

देशी घी और मिश्री खाने के चमत्कारी फायदे । Miraculous benefits of eating native ghee and sugar candy in Hindi

भोजन करने के बाद हर कोई सौंप और मिश्री खाकर भोजन को पचाता है. प्राचीन समय से घी का उपयोग भोजन, पूजा के लिए उपयोग किया जाता है, लेकिन क्या आप जानते है देशी घी कितना गुणकारी है. इसमें लिनोलिक एसिड (linoleic acid) पाया जाता है.देशी घी के सही उपयोग करने से शरीर से अतिरिक्त वसा घटती है. शरीर पुष्ट होता है. वहीं मिश्री में देशी घी मिलाकर खाने से सर्दी जुकाम में राहत मिलती है. मिश्री सेहत को भी कई तरह से फायदा पहुंचाती है. चलिए आज हम आपकों देशी घी और मिश्री खाने से सेहत को होने वाले चमत्कारी फायदों के बारे में बताते हैं.

miraculous-benefits-of-eating-native-ghee-and-sugar-candy-in-hindi
ग्राफिक डिजाइन : कमलेश वर्मा

देशी घी और मिश्री खाने के चमत्कारी फायदे । Miraculous benefits of eating native ghee and sugar candy in Hindi

  • देशी घी में एंटीऑक्सिडेंट पाया जाता है.यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है. प्रतिदिन सुबह खाली पेट एक चम्मच देशी घी में मिश्री मिलाकर खाने से शरीर निरोगी रहता है. 
  • एक चम्मच गुनगुने देशी घी में मिश्री मिलाकर सेवन से बार-बार हिचकी आने की समस्या दूर हो जाती है.
  • देशी घी में मिश्री मिलाकर खाने से दुबलेपन की समस्या दूर होती है.
  • फूड पाइजिंनिग होने पर या जहर खाने वाले पीड़ित को बचाने के लिए 12 ग्राम देशी घी को प्रति चार ग्राम सेवन कराने से स्वास्थ्य लाभ होता है.
  • प्लेग की बीमारी होने पर 15 ग्राम देशी घी में 10 ग्राम मिश्री मिलाकर चार भागों में बांट कर दिन में चार चार बार एक कप दूध के साथ पिलाने से प्लेग रोग से मुक्ति मिल जाती है.
  • दो चम्मच गुनगुने देशी घी में दो चम्मच मिश्री मिलाकर पीने से नशीले पदार्थ का नशा समाप्त खत्म हो जाता है.
  • काली गोल मिर्च, एक इंच अदरक, दस दाने मिश्री को दो चम्मच देशी घी में पका कर खाली पेट सेवन करने से गले की खराश और खांसी की समस्या दूर होती है.
  • खांसी-जुकाम में फायदेमंद- मिश्री के पाउडर में काली मिर्च का पाउडर और देशी घी मिलाकर पेस्ट बना लें और रात के समय इसका सेवन करने से काली खांसी में आराम मिलता है.
  • हीमोग्लोबिन के स्तर को बेहतर करता है- शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर कम होने से खून की कमी होती है, बिना कुछ किए थकान महसूस होती है, कमजोरी का एहसास होता है, कई लोगों को चक्कर भी आते हैं, तो वहीं खून की कमी के कारण कुछ लोगों की रंगत पीली पड़ जाती है. देशी घी में मिश्री  मिलाकर नियमित सेवन करने से शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर तो बढ़ता है.
  • डाइजेशन बेहतर करती है- मिश्री के साथ देशी घी का सेवन करने से डाइजेस्टिव सिस्टम बेहतर होता है. इसमें डाइजेस्टिव गुण मौजूद होते हैं. भोजन जल्दी और आसानी से डाइजेस्ट हो जाता है.
  • एनर्जी बूस्टर- मुंह का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ मिश्री के सेवन से शरीर को एनर्जी भी मिलती है.
  • नाक से खून आने की समस्या को दूर करता है- देशी घी के साथ मिश्री का सेवन करने से नाक से खून आने की समस्या दूर हो जाती है.

इसे भी पढ़े : नाभि पर हल्दी लगाने का फायदा और स्वास्थ्य लाभ

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post