कौन हैं ये पुष्पम प्रिया चौधरी जो बिहार की अगली CM बनने का दम भर रही हैं?

0
5
meet-pushpam-priya-choudhary-the-32-year-old-cm-candidate-of-plurals
पार्टी के विज्ञापन में इस्तेमाल की गई उनकी तस्वीर. (तस्वीर: इन्स्टाग्राम)

दिल्ली के विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद बिहार की पॉलिटिक्स खबरों में अपनी जगह बनाने में एक नाम बेहद ही चर्चा में रहा. पुष्पम प्रिया चौधरी का. अखबारों के पहले पन्ने पर इनके बड़े-बड़े ऐड छप चुके हैं. प्रिया ने अपनी नई पार्टी बनाई है. Plurals. उन्होंने 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव के लिए खुद को CM पद का उम्मीदवार घोषित किया है. मतदान जारी है, 10 नवंबर को परिणाम आने वाला है.

meet-pushpam-priya-choudhary-the-32-year-old-cm-candidate-of-plurals
पार्टी के विज्ञापन में इस्तेमाल की गई उनकी तस्वीर. (तस्वीर: इन्स्टाग्राम)

कौन हैं ये पुष्पम प्रिया चौधरी?

जनता दल (यूनाइटेड) के नेता और विधान परिषद के सदस्य (MLC) रह चुके विनोद चौधरी की पुत्री हैं. मूल निवासी बिहार के दरभंगा की हैं. लंदन के मशहूर लंदन स्कूल ऑफ इकॉनमिक्स से इन्होंने पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स की डिग्री हासिल की है. प्लूरल्स पार्टी की प्रेसिडेंट हैं. इनकी पार्टी के साथ जो लोगो बना हुआ है, वो पंखों वाले घोड़े का है.

पुष्पम के पिता विनोद चौधरी नीतीश के बेहद करीबी रह चुके हैं. पुष्पम का सीएम कैंडिडेट बनकर चुनाव में खड़े होना सीधे-सीधे नीतीश को चुनौती दे रहा है. उन्हीं के पार्टी नेता की बेटी उन्हें चैलेन्ज कर रही है. इसे लेकर विनोद चौधरी से भी सवाल पूछे जा रहे हैं. ANI को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा,

वो बालिग है और पढ़ी-लिखी भी है. ये उसका फैसला है. अगर वो पार्टी (JDU) की टॉप लीडरशिप को चुनौती देगी तो जाहिर है कि पार्टी उसका समर्थन नहीं करेगी.

क्या है पुष्पम प्रिया चौधरी का लक्ष्य?

जो विज्ञापन उन्होंने अखबार में छपवाए थे, उसमें लिखवाया गया था कि-

बिहार को गति चाहिए, बिहार को पंख चाहिए, बिहार को बदलाव चाहिए. क्योंकि बिहार को बेहतर मिलना चाहिए और बेहतर संभव है. बेमतलब की पॉलिटिक्स छोड़ो, प्लूरल्स से जुड़ो ताकि 2020 में बिहार दौड़ सके, उड़ सके.

पार्टी का लोगो

पार्टी का जो लोगो है वो सफ़ेद घोड़े का है जिसपर पंख लगे हैं. ग्रीक मिथक में इसे पेगासस के नाम से जाना जाता है. ये घोड़ा ज़मीन पर दौड़ने के साथ-साथ आसमान में उड़ भी सकता था. इसे शक्ति और तीव्रता का प्रतीक माना जाता है. जो लाइनें पुष्पम प्रिया चौधरी पार्टी के लिए इस्तेमाल की हैं, उनमें भी गति और उड़ने का ज़िक्र आता है.