नागदा के उद्योगों से बेरोजगार 2500 ठेका श्रमिकों को निवृत्तमान नपाध्यक्ष मालवीय देंगे राशन किट

0
191
malviya-a-retired-corporator-will-give-ration-kit-to-2500-unemployed-workers-from-nagda-industries
नपा कम्युनिटी हाल में श्रमिक की पत्नी को राशन कीट देते मालवीय.

नागदा. कोरोना महामारी के दौर में स्थानीय उद्योगों से बेरोजगार हुए तकरीबन 2500 ठेका श्रमिक परिवारों के दर्द पर मरहम लगाने की पहल पूर्व नपाध्यक्ष अशोक मालवीय ने की है।

मालवीय ने बतौर एक समारोह आयोजित कर पीड़ित श्रमिक परिवारों को राशन किट देने की घोषणा की है। घोषणा के पहले ही दिन 28 सितंबर 2020 यानी सोमवार को 500 श्रमिक परिवारों को कम्युनिटी हॉल में किट भेंट की गई।

दूसरे फेज में बुधवार यानी 30 सितंबर को 1 हजार श्रमिक परिवारों को राशन किट दी जाएगी। मालवीय ने बताया कि कोरोना संकट के कारण उत्पादन में कमी की वजह से ग्रेसिम उद्योग में कार्यरत तीन हजार श्रमिक परिवारों पर बेरोजगारी का संकट खड़ा हुआ है।

चार माह से तो ऐसी स्थिति बनी है कि इन्हें उद्योग से किसी भी तरह का वेतन नहीं मिल रहा है। इनमें से 500 श्रमिकों को ही रोटेशन के आधार पर ड्यूटी पर बुलाया जा रहा है। ऐसे में 2500 श्रमिक परिवार ऐसे हैं जिनके समक्ष राशन का संकट आ गया है.।

 किट में इतना राशन है जिससे पांच सदस्यीय परिवार 12 से 15 दिन तक आजीविका चला सकता है। मालवीय ने श्रमिक परिवारों से गुजारिश की है कि वे किट का लाभ लेने के लिए उद्योग से मिला कार्ड अथवा बीमा डायरी लेकर पहुंचें ताकि व्यवस्था बनाई जा सके।

किट वितरण समारोह के दौरान  भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. तेज बहादुर सिंह चौहान, राजेश धाकड़, महेश व्यास, सज्जन शेखावत, मंडल महामंत्री ओ.पी. गेेहलोत, हरीश अग्रवाल, दीनदयाल चुकरी आदि उपस्थित रहे।

malviya-a-retired-corporator-will-give-ration-kit-to-2500-unemployed-workers-from-nagda-industries
श्रमिकों को बांटने के लिए रखी गई 500 राशन कीट.