उज्जैन में जहरीली शराब से 36 घंटे में 14 लोगों की मौत, नागदा से कच्ची शराब की जब्त

 उज्जैन में जहरीली शराब से 36 घंटे में 14 लोगों की मौत, नागदा से कच्ची शराब की जब्त

सांकेतिक तस्वीर- कच्ची शराब बनाते हुए युवक : फोटो सोर्स गूगल

उज्जैन में जहरीली शराब से 36 घंटे में 14 लोगों की मौत के मामले में एसआईटी जांच कर रही है। दूसरी ओर नागदा में  भी स्थानीय प्रशासन शुक्रवार को पूरा दिन अलर्ट रहा। शुक्रवार को प्रशासन के अमले ने विभिन्न क्षेत्रों में दबिश देकर कच्ची शराब बनाने वाले लोगों को पकड़ा व उनके पास से कई मात्रा में कच्ची शराब जब्त की है।

अनुविभागीय अधिकारी आशुतोष गोस्वामी के नेतृत्व में टीम ने पाड्ल्याकलां के महिदपुर नाका क्षेत्र में दबिश देकर एक युवक के यहां से 10 लीटर कच्ची शराब जब्त की गई। पुलिस ने शराब बनाने वाले बलराम पिता नंदुगंगाराम को भी गिरफ्तार किया गया। इस मौके पर सीएसपी मनोज रत्नाकर भी मौजूद थे।

jahari-liquor-in-ujjain-kills-14-in-36-hours-raw-liquor-evacuation-from-nagda
सांकेतिक तस्वीर- कच्ची शराब बनाते हुए युवक : फोटो सोर्स गूगल

आस पास के गांवों में बनती है अवैध कच्ची शराब

कच्ची शराब के संबंध में सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रतिदिन नागदा के समीपस्थ कुछ गांव से शहर में अवैध मात्रा में कच्ची शराब लाई जा रही है। इसके अलावा उज्जैन जिले से लगे रतलाम व आगर से भी काफी मात्रा में अवैध शराब शहर में सप्लाए हो रही है।

शहर में अवैध शराब का चल रहे गौरखधंधे का अंदेशा इस बात से लगाया जा सकता है लॉकडाउन के बाद से ही पुलिस ने लगभग 1 दर्जन स्थानों से लगभग 3 लाख रूपए से अधिक की कीमत की अवैध शराब जब्त की है। आदिवासी क्षेत्र झाबुआ अंचल से भी काफी मात्रा में ताडी शहर में सप्लाए हो रही है। इसके अलावा चरस, गांजा व स्मेक का व्यापार भी खूब फल फूल रहा है।

इसे भी पढ़े : नागदा : शासकीय भूमि पर अवैध रूप से मिट्टी उत्खनन पर रोक लगाई जाए

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post