Nagda

लव जिहादियों को मैं छोड़ूंगा नहीं : सीएम शिवराजसिंह चौहान

नागदा। सीएम शिवराज सिंह ने अपने उद्बबोधन में कहा कि, कांग्रेसियों ने देश को लूट लिया है ।15 महीने कमलनाथ सरकार आई। जनता परेशान हो गई अब फिर मामा आ गया है चिंता मत करो। शिवराज सरकार गरीबों को उनका हक देगी। गरीबों का जो खा रहे उनको छोडूंगा नहीं। कई ऐसे मगरमच्छ हैं। जिन्होंने कहीं पर भी अतिक्रमण कर रखा है।

कहीं गुंडागर्दी कर रहे हैं उनके घर मकान सब तुड़वा रहा हूं। मेरी बहनों को भांजियों को जो लोग नाम बदल कर परेशान कर रहे हैं। छेड़खानी कर रहे हैं धर्म परिवर्तन करवा रहे हैं।उनके लिए भी मैंने अब कानून बनवा दिया है। 10 साल की सजा होगी और ऐसे लव जिहादियों को मैं छोड़ूंगा नहीं।

गरीब दिहाड़ी मजदूर चाय की गुमटी वाले पान के ठेले वाले फल फ्रूट बेचने वाले छोटा-मोटा सामान बेचने वाले उनके लिए बिना ब्याज का ₹10000 का मैं कर्ज दे रहा हूं। बाजार से 15-20 परसेंट पर जो कर्जा ले रहे हैं उसे मत लो। मैं ₹10000 का कर्ज बिना ब्याज के दे रहा हूं।

मामा के राज में कोई गरीब भूखा नहीं सोएगा। पात्रता पर्ची जिसको नहीं मिली है उसके लिए मैं अधिकारियों को और जनप्रतिनिधियों को कह रहा हूं कि शिविर लगाओ। जिसको मकान नहीं है। मकान दूंगा पट्टे दूंगा खाते में राशि डालूंगा।

नागदा में भी जिन्होंने कब्जे फब्जे कर लिए हैं वह सब हटवाओ और गरीबों को मकान दो। उक्त बात सीएम शिवराजसिंह चौहान ने पाड्ल्याकला स्थित रविदास बस्ती में उपस्थितों को संबोधित करते हुए कही। मालूम हो कि, मुख्यमंत्री चौहान नागदा में केंद्रीय मंत्री थावर चंद्र गेहलोत के यहां पर शोक संवेदना प्रकट करने गुरुवार दोपहर को नागदा पहुंचे हैं।

गौरतलब है कि गेहलोत की बहू वह आलोट  पूर्व विधायक जितेंद्र गहलोत की पत्नी का निधन अक्टूबर माह में हो गया था। उस समय मध्य प्रदेश उपचुनाव के चलते मुख्यमंत्री चौहान नागदा नहीं आ पाए थे।

गुरुवार सुबह 12.30 बजे ग्रेसिम एयरपोर्ट पर पहुंचे सीएम शिवराजसिंह चौहान।
गुरुवार सुबह 12.30 बजे ग्रेसिम एयरपोर्ट पर पहुंचे सीएम शिवराजसिंह चौहान

यह रहे मौजूद

मंत्री डॉ मोहन यादव, पूर्व विधायक सतीश मालवीय, सांसद अनिल फिरोजिया,  पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत, खाचरौद पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष कमलेश शर्मा, पूर्व केबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त सुल्तानसिंह शेखावत, नागदा पूर्व नपाध्यक्ष अशोक मालवीय समेत बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

इसे भी पढ़े : देव उठनी ग्यारस पर नागदा हुआ दीपों से रोशन, महिलाओं ने बनाई रंगोली

सुरक्षा व्यवस्था रही चाक चौबंध

सीएम शिवराजसिंह चौहान के आगमन को लेकर उज्जैन जिला प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट रहा। सीएम के काफिले के गुजरने वाले मार्ग पर ट्राफिक डायवर्ट किया गया। उज्जैन कलेक्टर आशीषसिंह, एसपी सत्येंद्र शुक्ला, एसडीएम आशुतोष गोस्वामी, सीएसपी  मनोज रत्नाकर, मंडी टीआई, श्याम चंद्र शर्मा, बिरलाग्राम थाना प्रभारी हेमंतसिंह जादौन, तहसीलदार आरके गुहा, नगर पालिका सीएमओ अशफाक खान समेत बड़ी संख्या में प्रशासनिक अफसर सीएम की सुरक्षा में तैनात रहे। संक्रमण को देखते हुए सिविल अस्पताल प्रभारी डॉ. कमल सोलंकी ने कार्यक्रम में पहुंचने वाले कार्यकर्ताओं की स्क्रीनिंग का जिम्मा संभाला।

अभिभावक कल्याण संघ नागदा ने  मुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नागदा आगमन पर अभिभावक कल्याण संघ नागदा ने स्कूलों में लग रही ट्यूशन फीस में रियायत दिए जाने को लेकर ज्ञापन सौंपा। जिसमें बताया कि, मार्च से कोविड-19 के प्रकोप लगातार चल रही है। ऐसी स्थिति में व्यापार व्यवसाय बंद होने के कारण लोगों को कई तरीके से आर्थिक संकटों का सामना करना पड़ रहा है।

वर्तमान में विद्यालय अभी भौतिक रूप से नहीं खुले हैं। ऑनलाइन पढ़ाई शासन के निर्देशानुसार 40 मिनट से लेकर 2 घंटे तक चल रही है। ऑनलाइन पढ़ाई भी शासन के निर्देशानुसार अगस्त माह के आखिरी सप्ताह में चालू हुई थी। विद्यालय द्वारा पूर्ण ट्यूशन फीस की मांग की जा रही है, लेकिन आर्थिक मजबूरियों के कारण अभिभावक फीस भरने में असमर्थ हैं।

सीएम शिवराजसिंह चौहान नागदा ग्रेसिम हवाई अड्‌डे पर पहुंचे

पहले पूर्ण क्लास 5 से 7 घंटे की चलती थी अभी ऑनलाइन क्लास 40 मिनट से लेकर 2 घंटे की ही चल रही है। अभिभावक कल्याण संघ आप महोदय से निवेदन करता है कि आप शासन स्तर पर अप्रैल जुलाई-अगस्त 3 माह की ट्यूशन फीस पूर्ण रूप से माफ करें। ऑनलाइन चल रही क्लासेस मैं ट्यूशन फीस में भी 50% छूट प्रदान की जाए।

Newsmug App: देश-दुनिया की खबरें, आपके नागदा शहर का हाल, अपडेट्स और सेहत की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NEWSMUG ऐप

KAMLESH VERMA

बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका अखबार में सिटी रिपोर्टर पद पर कार्य चुके हैं.

Recent Posts

Gorakhpur Walo Ko Kabu Kaise Kare ! गोरखपुर वालों को कैसे काबू करें?

क्या आप भी गोरखपुर वालों को कैसे काबू करें? ये सवाल गूगल पर सर्च कर…

6 days ago

NEFT क्या है, कैसे काम करता है – What is NEFT in Hindi

बैंक हर इंसान का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है. सभी का बैंक खाता किसी ना…

6 days ago

Uttar Pradesh Election 2022 Astrology: यूपी चुनाव पर ज्योतिषियों की भविष्यवाणी, जानिए कौन बनेगा सीएम?

Uttar Pradesh Election 2022 Astrology: यूपी चुनाव पर ज्योतिषियों की भविष्यवाणी, जानिए किसकी होगी हार,…

6 days ago

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 – Up Vidhan Sabha Election 2022

UP Assembly Election 2022″यूपी विधानसभा चुनाव 2022 date”UP election 2022 Schedule”यूपी विधानसभा चुनाव 2022 का…

7 days ago

2024 Mein Pradhanmantri Kaun Banega | 2024 में भारत का प्रधानमंत्री कौन बनेगा

लोकतांत्रिक देश भारत में प्रति पांच साल में एक बार लोकसभा चुनाव होते हैं, जिसमे…

1 week ago

2022 का चुनाव कौन जीतेगा | 2022 Mein Chunav Kaun Jitega

पांच राज्यों में चुनाव की घोषणा हो चुकी है. साल 2017 के चुनाव के बाद…

1 week ago