कोरोना महामारी के दौर में कैसे मनाएं दिवाली? How to celebrate Diwali during the Corona epidemic?

 कोरोना महामारी के दौर में कैसे मनाएं दिवाली? How to celebrate Diwali during the Corona epidemic?

सांकेतिक तस्वीर.

कोरोना महामारी के दौर में कैसे मनाएं दिवाली? How to celebrate Diwali during the Corona epidemic?

कोरोना महामारी से पूरी दुनिया लड़ रही है. दीवाली पर्व 14 नवंबर 2020 को पूरे भारत में उल्लास के साथ मनाई जाएगी. कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए लोगों के मन में दीवाली मनाएं जाने को लेकर तरह-तरह के सवाल उठने लगे है, सवाल उठना लाजमी है.

महामारी का प्रकोप ही इस कदर है. इससे सावधान रहकर ही भविष्य में त्योहारों को मनाया जाता है. चलिए लेख के माध्यम से हम आपकों कोरोना महामारी के दौर में दीवाली किस प्रकार मनाएं इससे संबंधित कुछ टिप्स देते है. जिनका प्रयोग कर आप सुरक्षित तरीके से पर्व की रौनक में चार चांद बिखेर सकते हैं.

दीपाेत्सव का तैयारियों में पहला चरण घर की साफ सफाई हाेता है. कोरोना के दौर में सफाई साल 2019 की तरह नहीं की जा सकती है. इस दीवाली हमें घर पर बने सैनेटाइजर से साफ-सफाई करना होगी. चलिए कुछ आसान स्टेप्स फॉलों कर हम घर में प्राकृतिक सैनिटाइजर बनाने के तरीके | How to Make Homemade Sanitizer in hindi को जान लेतें है.

आइये घर पर ही उच्च गुणवक्ता के प्राकृतिक सैनिटाइजर बनाने की विधियां जानते है-

1. नीम द्वारा निर्मित सैनिटाइजर:

आवश्यक सामग्री– करीब एक किलों नीम के पत्ते, एक चम्मच गिलिसरिन और एक सूती कपड़ा.

विधि- सबसे पहले करीब एक किलों नीम की पत्तियां लें ,  इन्हें पीसकर करीब आधा कप रस निकल लें. निकाले गए नीम के रस में एक चम्मच गिलिसरिन मिला दें. आपका सस्ता और बेहद कारगर सैनिटाइजर तैयार है. ध्यान रखें जिस दिन आप दीवाली की सफाई कर रहें हो उसी दिन बनाये उसी दिन इसका इस्तेमाल करे.

2. तुलसी तथा नीम से निर्मित सैनिटाइजर:

  • आवश्यक सामग्री– 100ग्राम नीम की पत्तियां, 10-15 तुलसी की पत्तियां, 100 ग्राम एलोवेरा रस, 2ग्राम फिटकरी, 1लीटर पानीएवं कुछ बूंद सुगंधित तेल.
  • विधि:  सबसे पहले एक लीटर पानी में करीब 100 ग्राम नीम की पत्तियां और 10 से 15 तुलसी की पत्तियां डालकर ठीक प्रकार से उबाल लें. उबलने के बाद जब पानी आधा रह जाए तो इसे सूती कपड़े से छान लें. इस पानी में 100 ग्राम एलोवेरा का रस मिलाएं। इसे अच्छे से घोलने के बाद इसमें दो ग्राम पिसी हुई फिटकरी मिला लें. तैयार मिश्रण ठंडा हो जाए तो खुशबू के लिए पांच-सात बूंद सुगंधित तेल की मिला दें.  इसे कांच या प्लास्टिक की बॉटल में  करीब 15 दिन तक स्टोर कर रखा जा सकता है.

3. घरेलू नमक द्वारा निर्मित सैनिटाइजर:-

  • आवश्यक सामग्री- घरेलू नमक करीब एक कलो, डिस्टिल्ड वॉटर, सिनेमन (दालचीनी), एसेंशियल ऑयल, यूकलिप्टस (नीलगिरी), एसेंशियल ऑयल, क्लोव (लौंग) एसेंशियल ऑयल और लेमन (नींबू) एसेंशियल ऑयल.
  • विधि– सर्वप्रथम आप एक साफ सूखी स्प्रे बोतल में आधा चम्मच नमक डालें। इसमें ऊपर बताए गए सभी एसेंशियल ऑयल मिलाएं. प्रत्येक एसेंशियल ऑयल की दो बूंद डाल सकते है.आखिर में, डिस्टिल्ड वॉटर और सभी सामग्री को धीरे से मिलाएं. घरेलू सैनिटाइजर तैयार है.  इसका उपयोग एक माह तक किया जा सकता हैं.
how-to-celebrate-diwali-during-the-corona-epidemic
सांकेतिक तस्वीर.

कोरोना महामारी के दौर में कैसे मनाएं दिवाली? How to celebrate Diwali during the Corona epidemic?

पूजन के दौरान रखी जाने वाली सावधानियां ?

दोस्तों दीवाली पर्व है तो घर पर लक्ष्मी पूजन का आयोजन होगा. मेहमानों का घर पर आना निश्चत है. ऐसे में शहर के बाहर से रिश्तेदार, परिजना और दोस्त आपकों दीपोत्सव की बधाई प्रेषित जरूर आएंगे. ऐसे में आपकों संक्रमण से बचाव करना बेहद जरूरी है.पूजन के दौरान यदि बाहर से मेहमान आएं तो पूजन स्थान पर केवल पूजन करने वाले व्यक्ति को ही बैठने  अनुमति दें. अन्य लोगों को पूजन स्थान से करीब करीब दो गज की दूरी पर बैठाएं. पूजन स्थल को सैनेटाइजर से स्वच्छ करने के बाद गंगाजल का छिड़काव कर दें. ऐसे इसलिए क्योंकि यदि आपने घर में बने हुए सैनेटाइजर का प्रयोग ना करते हुए बाजार से खरीदे हुए उत्पाद का प्रयोग किया तो उसमें एल्कोहल करीब 70 प्रतिशत होगा. सनातन धर्म में पूजन स्थान पर एल्कोहल का प्रयोग या गंध को वर्जित माना जाता है.

how-to-celebrate-diwali-during-the-corona-epidemic
सांकेतिक तस्वीर.

नमस्ते की पंरपरा का करें निर्वहन

सनातन धर्म में पौराणिक काल से नमस्ते का प्रचलन है. पश्चिम सभ्यता को अपना कर भारतीय लोगों ने हाथ मिलाना तो सीख लिया. लेकिन उसके दुष्प्रभाव को नहीं जाना. खैर कोरोना महामारी ने हाथ मिलने के दुष्प्रभावों को समझा दिया. दीवाली की शुभकामना प्रेषित करने के दौरान हाथ ना मिलाएं संभवत: नमस्ते कर दीपोत्सव की खुशियों को एक दूसरे से साझा करें.

how-to-celebrate-diwali-during-the-corona-epidemic
सांकेतिक तस्वीर.

घर पर ही मिठाई बनाएं

दोस्तों दीपोत्सव के दौर में मिठाई ना तो पर्व में मिठास कैसे घुलेंगी. देश में 23 मार्च से लॉकडाउन था. करीब-करीब सभी आम इंसान घरों में ही बंद थे. महिलाओं इस समय का सदउपयोग कई प्रकार के व्यंजन बनाना सीख लिया है. कोरोना महामारी के दौर में दीवाली वाले दिन हाथों से बने व्यंजन और मिठाईयों का ही प्रयोग करें. कम्युनिटी संक्रमण को फैलने का इससे अप्रतीम उपाय कुछ नहीं हैं.

how-to-celebrate-diwali-during-the-corona-epidemic
सांकेतिक तस्वीर.

इसे भी पढ़े :

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

Related post