Gupt Navratri 2021 Date: इस दिन से शुरू हो रही हैं गुप्त नवरात्रि

0
247
gupt-navratri-2021-date-gupt-navratri-kab-se-shuru-hain-know-subh-muhurat
प्रतिकात्मक तस्वीर सोर्स : गूगल

Gupt Navratri 2021 Date: सनातन धर्म में नवरात्रि पर्व का बेहद ही खास महत्व होता है. मुख्य रूप से नवरात्र शरद और चैत्र माह में आती है. लेकिन शास्त्रों के अनुसार यह चार प्रकार की होती है. माघ और आषाढ़ माह में पड़ने वाली नवरात्रि को गुप्त नवरात्रि (Gupt Navratri Kab Se Shuru Hain) कहा जाता है. इस साल माघ मास यानी फरवरी की गुप्त नवरात्रि (Gupt Navratri) 12 फरवरी 2021 से शुरू हो रहे हैं. पौराणिक किदवंति है कि, इस नवरात्रि को लेकर कई तरह के रहस्य हैं, इसलिए इसे गुप्त नवरात्रि कहा जाता है.

gupt-navratri-2021-date-gupt-navratri-kab-se-shuru-hain-know-subh-muhurat
प्रतिकात्मक तस्वीर सोर्स : गूगल

इसे भी पढ़े : पुत्रदा एकादशी का मंत्र । Putrada Ekadashi ka mantra

गुप्त नवरात्रि शुभ मुहूर्त (Gupt Navratri Shubh Muhurat)

नवरात्रि शुरू 12 फरवरी 2021 दिन शुक्रवार
नवरात्रि समाप्त 21 फरवरी 2021 दिन रविवार
कलश स्थापना मुहूर्त- सुबह 08:34 से 09: 59 तक
अभिजीत मुहूर्त- दोपहर 12:13 से 12:58 तक

क्या है गुप्त नवरात्रि
पौराणिक ग्रंथाें के अनुसार चैत्र और शारदीय नवरात्रि में सात्विक और तांत्रिक दोनों प्रकार की पूजा की जाती है, लेकिन गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा भी गुप्त तरीके से की जाती है. इसका सीधा मतलब है कि, इस दौरान तांत्रिक क्रिया कलापों पर ही ध्यान दिया जाता है. इसमें मां दुर्गा के भक्त आसपास के लोगों को इसकी भनक नहीं लगने देते कि वे कोई साधना कर रहे हैं. ऐसी मान्यता है कि इस दौरान जितनी गोपनीयता बरती जाए उतनी ही अच्छी सफलता मिलेगी.

Achala Saptami 2021 Date: इस दिन मनाई जाएगी अचला सप्तमी

गुप्त नवरात्रि पूजा विधि (Gupt Navratri Puja Vidhi)

शारदीय और चैत्र नवरात्रि की तर्ज पर ही गुप्त नवरात्रि में कलश की स्थापना की जाती है. यदि कलश की स्थापना की है तो आपको सुबह और शाम यानी दोनों समय दुर्गा चालीसा या सप्तशती का पाठ और मंत्र का जाप करना होगा. गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा को भोग में लौंग और बताशा चढ़ाना चाहिए.

Google News पर हमें फॉलों करें.