उत्तर प्रदेश एक कपल को बरेली से लखनऊ लेकर आ रही थी, रास्ते में हुई मौत

उत्तर प्रदेश की लखनऊ पुलिस इन दिनों सवालों के घेरे में हैं. कारण एक प्रेमी जोड़े की मौत से जुड़ा हैं. हुआ यूं है कि लखनऊ पुलिस एक प्रेमी युगल को लेकर बरेली से लखनऊ आ रही थी. इसी दौरान रास्ते में दोनों की हालत खराब हो गई. कपल को ट्रॉमा सेंटर में उपचार के लिए भर्ती कराया गया, उपचार के दौरान चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित किया. सुनने में आया है कि दोनों ने चुपके से ज़हर निगल लिया था.

क्या है पूरा मामला?

इंडिया टुडे से जुड़े आशीष श्रीवास्तव के अनुसार सुषमा रावत नामक महिला लखनऊ के कृष्णा नगर के एक अस्पताल में कार्यरत थी. रावत की बेटी पारुल मां का हाथ बटाने के लिए अस्पताल जाती थी.  अब हुआ यूं कि पारुल की मुलाकात विकास से हुई. पारुल और विकास में दोस्ती हुई, फिर प्यार हुआ. प्यार परवान चढ़ा और दोनों घर से भाग निकलें.

दोनों शादीशुदा थे.

रिपोर्ट के अनुसार दोनों प्रेमी जोड़े पूर्व से ही विवाहित थे. विकास की शादी दिसंबर 2018 में हुई थी. पारुल के तीन बच्चे थे. सुषमा ने विकास के खिलाफ FIR दर्ज कराई. विकास पर आरोप लगा कि विकास उनकी बेटी को ससुराल से भगा ले गया है. पूरी घटना करीब एक साल पहले यानी साल 2019 की है. मामले में पुलिस ने जांच शुरू की. लखनऊ पुलिस को सूचना मिली कि, विकास और पारुल दोनों बरेली में हैं.

इसे भी पढ़े : उत्तर प्रदेश में पुलिस की प्रताड़ना से क्षुब्ध बेटे ने की खुदकुशी

लखनऊ पुलिस की टीम विकास के कुछ रिश्तेदारों को लेकर बरेली पहुंची. सर्राफा बाज़ार में कार्यरत विकास को पुलिस ने  हिरासत में ले लिया. जिसके बाद पारुल को भी हिरासत में लिया गया. पारुल का कोर्ट में बयान दर्ज होना था, पुलिस दोनों को लखनऊ लेकर आ रही थी. रास्ते में दोनों को उल्टियां होने लगीं. हालत बुरी तरह खराब हो गई. लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में दोनों को मृत घोषित किया गया.

बाएं से दाएं: पारुल और विकास. दोनों की मौत हो चुकी है. (फोटो क्रेडिट- आशीष श्रीवास्तव)

अब कस्टडी में दो लोगों की मौत को लेकर पुलिस पर सवालियां निशान लग रहे हैं. मामले में आयुक्त सुजीत पांडे ने का तर्क है कि हिरासत में लेने के बाद जब दोनों को लखनऊ लाया जा रहा था, तब विकास ने सामान पैक करने की बात कही थी. उसी दौरान दोनों ने ज़हर खा लिया.

इसे भी पढ़े : गोरखपुर में बीच सड़क पर जमकर मारपीट और शूटआउट

KAMLESH VERMA

बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका अखबार में सिटी रिपोर्टर पद पर कार्य चुके हैं.

Recent Posts

पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ और उनके बेटे का ये वीडियो आपका दिन बना देगा!

ग्रीम स्मिथ के नाम से हर क्रिकेट प्रेमी परिचित है. स्मिथ दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट…

3 hours ago

मध्यप्रदेश के उज्जैन में ‘गंभीर’ हादसा, नदी में पुल की रेलिंग तोड़ गिरी कार

उज्जैन. मध्यप्रदेश के उज्जैन में रविवार सुबह 8 बजे उज्जैन-बड़नगर रोड पर रेलिंग को तोड़ते…

3 hours ago

मोबाइल पर Google Search का बदला तरीका, आसान होगा फॉर्मेट

आने वाले दिनों में मोबाइल पर Google सर्च को यूजर्स के लिए बेहद ही आसान…

6 hours ago

पुत्रदा एकादशी का मंत्र । Putrada Ekadashi ka mantra

संतान प्राप्ति की कामना के लिए हिंदू धर्म में महिलाएं पुत्रदा एकादशी का व्रत करती…

8 hours ago

Putrada Ekadashi 2021: पुत्रदा एकादशी पूजा के बाद पढ़ें व्रत कथा

पुत्रदा एकादशी 2021(Putrada Ekadashi 2021 Katha):  सनातन धर्म की पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, यह व्रत…

8 hours ago

10 महीने बाद ट्रेनों में खाना मिलेगा, फरवरी से ट्रेनों में रेडी टू ईट फूड मिलेगा

10 माह पूर्व ट्रेनों में बंद की गई ई-कैटरिंग की सुविधा को फरवरी से दोबारा…

23 hours ago