चामुंडा माता मंदिर नागदा के शिखर को छूने लगी मां चामुंडा

 चामुंडा माता मंदिर नागदा के शिखर को छूने लगी मां चामुंडा

कैचमेंट एरिया में बारिश होने से चामुंडा माता मंदिर नागदा के शिखर को छूने लगा बारिश का पानी।

नागदा। Nagda Pradesh Weather Update   नागदा मध्य प्रदेश में शनिवार-रविवार दरमियानी रात से बारिश का दौर शुरू हो गया है। नागदा, उन्हेल, खाचरौद, महिदपुर, बड़नगर, सहित आस-पास के इलाकों में बारिश हुई। मौसम विभाग भोपाल की वेबसाइट पर जारी रिपोर्ट के अनुसार 21 सितंबर सोमवार को भी उज्जैन जिले के नागदा में गरज चमक के साथ तेज बारिश हो सकती है।

चामुंडा माता मंदिर के शिखर को छूने लगी ऊफनती चंबल

चंबल नदी के कैचमेंट एरिया में पानी आने से चामुंडा माता मंदिर के शिखर के करीब चंबल का पानी पहुंच गया है। सीजन में चौथी बार मंदिर के शिखर के करीब बारिश का पानी पहुंचा है। इसके पूर्व 22 अगस्त माता मंदिर के शिखर तक पानी पहुंचा था। रविवार सुबह 7 बजे तक कुल बारिश 36.96 इंच दर्ज की गई है। नागदा में औसत बारिश का आकंडा 36 इंच है।

chamunda-mata-temple-maa-chamunda-started-touching-the-peak-of-nagda
रविवार शाम 5 बजे नागदा शहर में इस प्रकार हुई तेज बारिश : जवाहर मार्ग का दृश्य।

बारिश ने औसत आंकड़ा 36 इंच पूरा कर लिया हैं। दूसरी ओर बारिश किसानों के लिए परेशानी का सबब बन रही है। जीवाजी वैद्यशाला अधीक्षक डॉ.आर.पी. गुप्ता ने बताया कि, बंगाल से आ रहे मानसून सिस्टम से प्रदेश में बारिश हो रही है। आगामी दिनों में तेज हवा के साथ बारिश होने की आशंका है। बारिश की फॉरकास्टिंग भोपाल से की जा रही है।

सी-ब्लॉक पिपलेश्वर महादेव मंदिर के सामने पानी जमा

दो दिन से जारी बारिश बिड़लाग्राम सी-ब्लॉक के रहवासियों के लिए परेशानी का सबब बन रही है। बारिश से सी-ब्लॉक पिपलेश्वर महादेव मंदिर के सामने पानी जमा हो गया है। जमा पानी में मच्छर पनप रहे हैं। क्षेत्र के रहवासी संतोष साहनी बताते हैं कि सड़क श्रमिक क्वार्टरों के बीच स्थित है।

chamunda-mata-temple-maa-chamunda-started-touching-the-peak-of-nagda
पानी जमा होने से परेशान बिड़लाग्राम सी-ब्लाॅक के रहवासी

इसके चलते नपा द्वारा जमा पानी को नहीं निकाला जाता। क्षेत्र में सफाई नहीं होने से बारिश का पानी जमा है। नपा सीएमओ अशफाक खान को शिकायत के बाद भी पानी की निकासी नहीं की जा रही है। सोमवार को एसडीएम पुरुषोत्तम कुमार को लिखित शिकायत करेंगे।

नागदा में 22 अगस्त के बाद बारिश शुरू

नागदा में 22 अगस्त से मौसम सामान्य था और धूप के कारण लोगों को चिपचिपी उमस का सामना करना पड़ रहा था, लेकिन शनिवार शाम 6 बजे से अचानक ही मौसम में परिवर्तन हुआ और आसमान में बादल छा गए। कुछ देर बाद तेज बारिश शुरू हो गई।

नागदा में जगह-जगह तार टूटने से गुल रही बिजली

नागदा। रविवार को बारिश के साथ तेज हवा का दौर जारी रहा। हवा के कारण तहसील कार्यालय के बाहर पेड़ की शाखा टूटकर गिर गई। जिसके बिड़लाग्राम, मेहतवास, दुर्गापुरा, रेलवे कॉलोनी, बादीपुरा, आजादपुरा, गवर्नमेंट कॉलोनी में बिजली गुल रही। बिड़लाग्राम क्षेत्र में रविवार सुबह 11 बजे से दोपहर 1.30 बजे वहीं शाम 4 बजे से दोबारा बिजली गुल रही।

chamunda-mata-temple-maa-chamunda-started-touching-the-peak-of-nagda
नागदा में तेज हवा के साथ बारिश होने से एसडीएम कार्यालय के बाहर गिरी पेड़ की डाली।।

उन्हेल में की पेड़ की डाली 11 केवी की लाइन पर गिरी, दो घंटे गुल रही बिजली

उन्हेल. कस्बे में रविवार को तेज हवा का दौर जारी रहा। तेज से मंडी गेट के सामने पेड़ की मोटी टहनी टूटकर 11 केवी के तार पर गिर गई। तार टूटने से पूरे कस्बे का विद्युत प्रदाय अवरूद्ध हो गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे विवि कर्मचारियों ने तारों को दुरुस्त किया। 2 घंटे बिजली गुल रही।

chamunda-mata-temple-maa-chamunda-started-touching-the-peak-of-nagda
उन्हेल में मंडी गेट के बाहर 11 केवी की लाइन पर गिरी पेड़ की भारी डाली।

इसे भी पढ़े :बिरलाग्राम पुलिस ने अवैध हथियार के साथ 6 युवकों को पकड़ा

KAMLESH VERMA

https://newsmug.in

बातें करने और लिखने के शौक़ीन कमलेश वर्मा बिहार से ताल्लुक रखते हैं. कमलेश ने विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन से अपना ग्रेजुएशन और दिल्ली विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया है. कमलेश दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका अखबार में सिटी रिपोर्टर पद पर कार्य चुके हैं.

Related post