News

गुलाबजल में छिपा है खूबसूरती का राज । Beauty Secret Gulabjal

गुलाब की पंखुड़ियों से निकले हुए द्रव पदार्थ को गुलाबजल कहा जाता है. इसका इस्तेमाल धार्मिक कार्यों में, मिठाइयों में, शर्बत में और त्वचा को निखारने के लिए किया जाता है. त्वचा के लिए गुलाबजल का उपयोगी और फायदेमंद होता है. तो आज हम इस लेख में गुलाबजल के अनेक उपयोग जानेंगे जिसका उपयोग कर आप भी अपने खिलखिलाते चेहरे पर चार चाँद लगा पाएँगी.

गुलाबजल के ढेर सारे फायदे और उपयोग जानने के पहले यह बेहद जरूरी है कि जो भी गुलाबजल आप उपयोग कर रही हो, वह प्राकृतिक रूप से बना हुआ हो. शुद्ध गुलाबजल का इस्तेमाल बेहद ही फायदेमंद होता है. यदि आप किसी केमिकलयुक्त गुलाबजल का उपयोग करेंगी तो इससे आपको फायदा कम और नुकसान बहुत अधिक होगा. इसलिए हमेशा अच्छे और प्राकृतिक रूप से बने हुए गुलाबजल का ही अपनी त्वचा पर प्रयोग करें.

क्लिंज़र की तरह प्रयोग

गुलाबजल को आप क्लिंज़र की तरह प्रयोग कर सकती हैं. मार्केट में मिलने वाले दूसरे क्लिंजर और साबुन आपकी त्वचा पर कठोरता से काम करते है. जिसके कारण त्वचा की प्राकृतिक नमी खो जाती है. इतना ही नहीं ये आपके त्वचा के पी.एच के संतुलन को भी बिगाड़ देते है. इसलिए अपनी त्वचा को साफ करने के लिए आप गुलाब जल का 12 माह प्रयोग करें.

त्वचा के अतिरिक्त तेल को दूर हटाता है

गुलाबजल से त्वचा को साफ करने पर या नियमित रूप से गुलाबजल का इस्तेमाल करने पर यह त्वचा से निकले वाले अतिरिक्त तेल को सोख लेता है. खास बात यह है कि, इससे त्वचा पर होने वाले मुँहासे भी कम होने लगते हैं. अतिरिक्त तेल जमा न होने के कारण त्वचा पर गंदगी जमा होने की संभावना बहुत कम हो जाती है.

हर प्रकार की त्वचा के लिए श्रेष्ठ

गुलाबजल को तैलीय, शुष्क और संवेदनशील त्वचा पर इस्तेमाल किया जा सकता है. यह बेहद ही तैलीय त्वचा से निकलने वाले अतिरिक्त तेल को सोखता है, शुष्क त्वचा को नमी प्रदान करता है और संवेदनशील त्वचा पर इसका कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होता है.

आँखों की खूबसूरती को बढ़ाता है

आँखों के नीचे के काले घेरे हो या फिर सूजन, गुलाबजल आपकी इन दोनों समस्याओं का हल है. हालांकि काले घेरे कम करने के लिए आपको कम से कम एक महीने के लिए गुलाबजल का नियमित प्रयोग करना होगा. आँखों की सूजन तुरंत कम करने के लिए रूई/कपास को गुलाबजल में डुबोकर अपनी आँखों पर रखें.

बालों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए गुलाबजल का प्रयोग

आपको यह जानकार हैरानी होगी कि  गुलाबजल का प्रयोग बालों की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए भी किया जा सकता है. यदि आपके बाल बहुत ज्यादा ऑइली दिखाई देते हैं तो आपको गुलाबजल का प्रयोग जरूर करना चाहिए.

बालों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए आप गुलाबजल का उपयोग तीन तरीके से कर सकती है

  1. हेयर मास्क में मिलाकर – आप अपने बालों के लिए जब भी हेयर मास्क बनाएँ तब उसमें गुलाबजल भी मिला दें. गुलाब जल में मेथी को रात भर के लिए भिगो दें. सुबह इसे पीस कर अपने बालों में लगाएँ और आधा घंटे बाद किसी भी माइल्ड शैम्पू से धो लें.
  2. बालों में गुलाबजल से मालिश करें. इससे ड्राई और डैमज बालों को नमी मिलती है.
  3. बाहर जाते समय गुलाबजल को बालों में स्प्रे करें। इससे बालों में चमक आएगी और खुशबू भी.

नोट:

  • गुलाबजल को आप किसी स्प्रे बॉटल में भरकर रखें. इससे गुलाबजल को किसी भी मौसम और किसी भी समय पर उपयोग करना बेहद आसान हो जाता है. स्प्रे बॉटल में भरा होने के कारण आप इसे अपने चेहरे पर और बालों पर आसानी से इस्तेमाल कर पाएँगी.

इसे भी पढ़े :

Roshni Jain

मध्य प्रदेश की रहने वाली रोशनी जैन Freelancer Makeup Artist and Hair Stylist हैं. तथा पिछले 8 वर्षों से Glare's Glimpse नामक एक स्टार्टअप का सफल संचालन कर रही हैं. बतौर Makeup Artist के रुप में रोशनी ने कई राष्ट्रीय पुरुस्कार अपने नाम किए हैं.

Recent Posts

आईपीएल 2022 नीलामी लिस्ट | आईपीएल नीलामी 2022 List | २०२२ आईपीएल नीलामी लिस्ट

आईपीएल 2022 नीलामी लिस्ट | आईपीएल नीलामी 2022 List | २०२२ आईपीएल नीलामी लिस्ट क्रिकेट…

2 days ago

जून में एकादशी कब की है 2022 | June Mein Ekadashi Kab Ki Hai 2022

सनातन धर्म में एकादशी व्रत का पौराणिक महत्व हैं. इस व्रत में भगवान विष्णु का…

2 days ago

मई में एकादशी कब की है 2022 | May Mein Ekadashi Kab Ki Hai 2022

सनातन धर्म में एकादशी व्रत का पौराणिक महत्व हैं. इस व्रत में भगवान विष्णु का…

2 days ago

अप्रैल 2022 में एकादशी कब की है | April 2022 Mein Ekadashi Kab Ki Hai

सनातन धर्म में एकादशी व्रत का पौराणिक महत्व हैं. इस व्रत में भगवान विष्णु का…

2 days ago

मार्च में एकादशी कब की है 2022 | March Mein Ekadashi Kab Ki Hai 2022

सनातन धर्म में एकादशी व्रत का पौराणिक महत्व हैं. इस व्रत में भगवान विष्णु का…

2 days ago

फरवरी में एकादशी कब की है 2022 | February Mein Ekadashi Kab Ki Hai 2022

सनातन धर्म में एकादशी व्रत का पौराणिक महत्व हैं. इस व्रत में भगवान विष्णु का…

2 days ago